पीएम आवास योजना : मोदी का ग्रामीणों का तोहफा, खातों में 2691 करोड़ रुपए ट्रांसफर

पीएम आवास योजना : मोदी का ग्रामीणों का तोहफा, खातों में 2691 करोड़ रुपए ट्रांसफर

Posted On - 20 Jan 2021

जानें, कैसे चेक करें पीएम आवास योजना (ग्रामीण) लिस्ट में अपना नाम?

प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को पीएम आवास योजना के तहत यूपी के ग्रामीणों के खातें में 2,691 करोड़ रुपए की राशि ट्रांर्सफर की। यह केंद्र सरकार द्वारा ग्रामीणों को आवास मुहैया कराने के लिए दी गई वित्तीय सहायता है। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस राशि को ग्रामीणों के खातें में सीधा ट्रांर्सफर किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश में गरीबों को बिना भेदभाव के सिर ढकने के लिए आवास उपलब्ध कराए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण हर गरीब के घर के सपने को साकार किया है। यह गरीब के जीवन को निखारने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जो सोच रही है, वह साकार हुई है। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण तहत लाभार्थियों के लिए सहायता राशि के डिजिटल ट्रांसफर कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


पहली व दूसरी किस्त प्राप्त करने वाले लाभार्थी है शामिल

पीएम मोदी की ओर से दी गई वित्तीय सहायता में पहली व दूसरी किस्त प्राप्त करने वाले लाभार्थी शामिल हैं। इसके तहत 5 लाख 30 हजार ऐसे लाभार्थी होंगे जिन्हें आर्थिक सहायता की पहली किस्त प्राप्त होगी। जबकि 80 हजार लाभार्थी ऐसे होंगे जिन्हें दूसरी किस्त मिलेगी और जिन्हें पीएमएवाई-जी के अंतर्गत पहली किस्त पहले ही दी जा चुकी है।

 


क्या है पीएम आवास योजना-ग्रामीण?

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का शुभारंभ 20 नवंबर, 2016 को किया गया था। यह केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजना है, जिसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 2022 तक ज्यादा से ज्यादा परिवारों को पक्का मकान उपलब्ध कराने का लक्ष्य है। इस योजना के तहत सरकार आर्थिक सहायता भी प्रदान करती है। वे सभी परिवार जिनके पास घर नहीं है या वे ग्रामीण क्षेत्रों में कच्चे घर में रह रहे हैं, वे इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। बता दें कि अब तक इस योजना में 1.26 करोड़ घर बनाए जा चुके हैं।

 

यह भी पढ़ें : स्मार्ट मंडी : अब मंडियों में खुलेंगे अस्पताल, किसानों का होगा मुफ्त इलाज


पीएम आवास योजना-ग्रामीण के तहत सरकार से कितनी मिलती है सहायता राशि

पीएमएवाई-जी के अंतर्गत मैदानी इलाकों में प्रत्येक लाभार्थी को घर बनाने के लिए 1.20 लाख रुपये जबकि पहाड़ी क्षेत्रों (पूर्वोत्तर राज्यों/ दुर्गम स्थानों/ जम्मू कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित क्षेत्रों/ आईएपी/ एलडबल्यूई जिलों) के लोगों को 1.30 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि सरकार की ओर से दी जाती है।


पीएम आवास योजना-ग्रामीण के तहत मिलती है सब्सिडी

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में अगर आप होम लोन लेते हैं तो आपको ब्याज पर 3 फीसदी सब्सिडी मिलेगी। इस योजना के तहत आप दो लाख रुपए तक का होम लोन ले सकतेे हैं। यह लोन आप ग्रामीण इलाके में घर बनाने या उसकी मरम्मत कराने के लिए लिया जा सकता है।


आप ऐसे जुड़ सकते हैं पीएम आवास योजना-ग्रामीण से / प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण योजना के तहत ग्रामीणों को आवेदन करने के लिए सरकार ने मोबाइल आधारित आवास ऐप बनाया है। इस एप गूगल के प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। डाउनलोड करने के बाद अपने मोबाइल नंबर की सहायता से इसमें लॉगिन बनाएं। इसके के बाद यह ऐप आपके मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड भेजा जाएगा। इसकी मदद से लॉगिन करने के बाद आपको इसमें आवश्यक जानकारियां भरनी होंगी। पीएमएवाई-जी के तहत घर पाने के लिए आवेदन करने के बाद केंद्र सरकार लाभार्थियों का चुनाव करती है। इसके बाद लाभार्थियों की फाइनल लिस्ट पीएमएवाई-जी की वेबसाइट पर डाल दी जाती है।

 

यह भी पढ़ें : कृषि यंत्र अनुदान योजना : सब्सिडी पर मिल रहे हैं ये 7 महत्वपूर्ण कृषि यंत्र


पीएम आवास योजना (ग्रामीण) में ऐसे चेक करें लिस्ट में नाम / पीएम आवास योजना (ग्रामीण) लिस्ट

यदि आपने इस योजना के तहत आवेदन कर लिया है और आप यह जानना चाहते हैं कि आपका इस योजना में नंबर आया या नहीं तो इसे ऑनलाइन देखने के लिए आप इस प्रकार इसे चेक कर सकते हैं।

  • सबसे पहले ऑफिशियल बेवसाइट https://pmayg.nic.in/ वेबसाइट पर जाएं।
  • अगर रजिस्ट्रेशन नंबर है तो इसे डालें और क्लिक करें, जिसके बाद विवरण सामने आ जाएगा।
  • अगर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है तो ‘एडवांस सर्च’ पर क्लिक करें।
  • इसके बाद जो फॉर्म आए उसे भरें।
  • फिर सर्च विकल्प पर क्लिक करें।
  • अगर आपका नाम पीएमएवाई-जी लिस्ट में मौजूद है, तो सभी संबंधित विवरण दिखाई देंगे।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Mahindra Bolero Maxitruck Plus

Quick Links

scroll to top