कृषि यंत्र अनुदान योजना : सब्सिडी पर मिल रहे हैं ये 7 महत्वपूर्ण कृषि यंत्र

कृषि यंत्र अनुदान योजना : सब्सिडी पर मिल रहे हैं ये 7 महत्वपूर्ण कृषि यंत्र

Posted On - 19 Jan 2021

जानें, किन किसानों को मिलेगा इसका लाभ और कैसे करें आवेदन?

केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से कृषि को बढ़ावा देने और किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास जारी हैं। इसके लिए कई तरह की योजनाएं संचालित कर किसानों को सुविधा प्रदान की जा रही है। इसके तहत कृषि को उन्नत बनाने के लिए कई आधुनिक यंत्रों के प्रयोग की सलाह दी जाती है। आधुनिक कृषि यंत्रों का प्रयोग कर किसान उत्पादन और अपनी आमदनी दोनों बढ़ा सकता है वो भी कम श्रम और कम लागत में। लेकिन इन आधुनिक यंत्रों को खरीदना हर किसान के बस की बात नहीं है। बड़े किसान तो बाजार से इन यंत्रों को खरीद सकता है लेकिन छोटे व गरीब इन यंत्रों को खरीदने में समक्ष नहीं है। इन्हीं किसानों के लाभार्थ सरकार की ओर से समय-समय पर सब्सिडी पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जा रहे हैं और चयनित किसानों को कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जाते हैं। इसी क्रम में हाल ही में मध्यप्रदेश सरकार ने किसानों को कुछ कृषि यंत्रों के लिए आवेदन मांगे हैं। बता दें कि इस वर्ष कोरोना महामारी एवं बजट की कमी के चलते मध्यप्रदेश में किसानों को कृषि यंत्र अनुदान पर नहीं दिए गए थे लेकिन अब दोबारा से कुछ कृषि यंत्रों के लिए कृषि अभियांत्रिकी संचनालय के द्वारा किसानों को सब्सिडी पर कृषि यंत्र देने के लिए आवेदन आमंत्रित किये गए हैं।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रैक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


किसान सब्सिडी पर इन कृषि यंत्रों लेने हेतु कर सकते हैं आवेदन

मध्यप्रदेश के कृषि अभियांत्रिकी संचनालय ने किसानों को नीचे दिए गए कृषि यंत्र सब्सिडी पर देने के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये हैं इसके अलावा कुछ कृषि यंत्रों को किसान मांग के अनुसार प्राप्त करने के लिए अपने जिले के कृषि विभाग/कृषि यंत्री के समक्ष आवेदन कर सकते हैं।

कृषि यंत्रों की सूची : रीपर कम बाइंडर, स्वचालित रीपर, स्ट्रॉ रीपर, पावर स्प्रेयर, ट्रेक्टर ऑपरेटेड विनोइंग फेन, मल्टीक्रॉप थ्रेशर, श्रेडेर/मल्चर एवं क्लीनर-कम-ग्रेडर / मिनी दाल मिल / मिनी राइस मिल / डी -स्टोनर / ग्रेडिएंट सेपरेटर / ऑइल एक्सट्रेक्टर

 


किसान इन कृषि यंत्रों को अनुदान पर लेने की कर सकते हैं मांग

पैडी (राइस) ट्रांसप्लांटर, पावर हैरो, रेक बेलर, न्यूमेटिक प्लांटर, हैप्पी सीडर / सुपर सीडर, सब-सॉइल, ब्रेकेट मेकिंग मशीन, ऐरो ब्लास्ट स्प्रेयर


मांग के अनुसार श्रेणी के कृषि यंत्र पर सब्सिडी प्राप्त करने के लिए क्या करें?

कृषि विभाग द्वारा कुछ नई तकनीक के कृषि यंत्र मांग के अनुसार श्रेणी में रखा गया है। कृषक यदि इन यंत्रो को लेने के इच्छुक है तो वे अपने अभिलेखों (भूमि के लिए B1, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की प्रति) के साथ अपने जिले के सहायक कृषि यंत्र कार्यालय में संपर्क करके अपने आवेदन पर कार्यवाही करा सकते है। इन यंत्रों हेतु जिलेवार लक्ष्यों की आवश्यकता नहीं होगी। कृषक की मांग अनुसार लक्ष्य तत्काल आवंटित कर दिया जाएगा।

 

यह भी पढ़ें : नेशनल फूड सिक्योरिटी मिशन : सिंचाई यंत्रों पर 55 प्रतिशत तक सब्सिडी


कृषि यंत्रों की प्राप्ति संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश

  • ट्रैक्टर से चलने वाले सभी प्रकार के कृषि यंत्र किसी भी श्रेणी के कृषक क्रय कर सकते है किंतु ट्रैक्टर की आर.सी स्वयं के माता-पिता, भाई -बहन अथवा पत्नी के नाम पर होना आवश्यक है।
  • डीलर का चयन सावधानी पूर्वक करें। चयनित डीलर का परिवर्तन केवल एक बार ही किया जा सकेगा।
  • डीलर /किसान कृषि यंत्रों की खरीदी तब ही करें जब क्रय स्वीकृति आदेश जारी हो जाए।


सब्सिडी पर कृषि यंत्र लेने के लिए कब और कैसे करें आवेदन

मध्यप्रदेश राज्य में सभी जिलों के लिए किसान जिलेवार लक्ष्यों के अनुसार दिनांक 16 जनवरी 2021 दोपहर 12 बजे से 22 जनवरी 2021 तक ऑनलाइन आवेदन ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर कर सकते हैं। प्राप्त आवेदनों में से लक्ष्यों के विरूद्ध लॉटरी दिनांक 23 जनवरी 2021 को संपादित की जाएगी, इसके बाद चयनित किसानों की सूची एवं प्रतीक्षा सूची शाम 05 बजे पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएगी।

 

यह भी पढ़ें : कृषि सहित अन्य क्षेत्रों में शुरू करें स्टार्टअप, सरकार खर्च करेगी एक हजार करोड़ रुपए


ओटीपी व्यवस्था से होगा पंजीकरण

इस वर्ष कोविड -19 महामारी जनित परिस्थितियों के कारण पोर्टल पर अनुदान हेतु प्रक्रिया में परिवर्तन किया गया है जिसके अंतर्गत आधार प्रमाणित बायोमेट्रिक प्रक्रिया के स्थान पर किसानों के मोबाइल पर ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसान कहीं से भी अपने मोबाइल अथवा कंप्यूटर के माध्यम से आवेदन भर सकेंगे। आवेदन अंतर्गत भरे गए मोबाइल नंबर पर कृषकों को एक ओ.टी.पी प्राप्त होगा। इस ओटीपी के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन पंजीकृत हो सकेंगे। पोर्टल अंतर्गत आगे सम्पादित होने वाली सभी प्रक्रियाओं में भी बायोमेट्रिक के स्थान पर ओटीपी व्यवस्था लागू होगी।

विशेष- हालांकि कृषि यंत्र अनुदान योजना के बारे में पूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया गया है। फिर भी और अधिक जानकारी के लिए किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय, मध्य प्रदेश शासन की वेबसाइट https://dbt.mpdage.org/Eng_Index.aspx देखें।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back