प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण : गांव में रहने वाला हर व्यक्ति बना सकेगा मकान

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण : गांव में रहने वाला हर व्यक्ति बना सकेगा मकान

Posted On - 10 Dec 2020

गांव में घर बनाने के लिए छह लाख रुपए का लोन छह फीसदी ब्याज दर पर उपलब्ध

केंद्र की मोदी सरकार सन् 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने और ‘सभी को मकान’ के प्रयास में जुटी हुई। खेती से किसानों को ज्यादा मुनाफा मिले और भारत का किसान आर्थिक रूप से समृद्ध हो इसके लिए नई-नई योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। अब मोदी सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण भी खूब लोकप्रिय हो रही है। इस योजना का मकसद हर गांव में रहने वाले व्यक्ति को खुद का मकान उपलब्ध कराना है। अगर आप ग्रामीण क्षेत्र में रहते हैं और किसान के अलावा अन्य तरीकों से अपनी जीविका चलाते हैं और आपके पास खुद का मकान नहीं है तो यह योजना आपके लिए बहुत फायदेमंद है। इस योजना में ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले व्यक्ति को मकान बनाने के लिए छह लाख रुपए का लोन छह प्रतिशत ब्याज दर पर उपलब्ध कराया जाता है। आइए जानते हैं इस योजना के बारे में।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की शुरुआत

देश में 1996 से इंदिरा आवास योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में जरुरतमंदों को मकान बनाने के लिए सहायता उपलब्ध कराई जाती थी। इस योजना में कुछ कमियां थी जिससे पात्र व्यक्ति को लाभ नहीं मिल पाता था। ग्रामीण आवास की कमियों को दूर करने और ‘सभी को मकान’ उपलब्ध कराने के लिए इंदिरा आवास योजना को प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई-जी) में 1 अप्रैल 2016 से पुर्नगठित किया गया है।

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण ( पीएमएवाई-जी ) का उद्देश्य / विशेषताएं

  • ‘सब के लिए घर’ के उद्देश्य को पूरा करने के लिए वर्ष 2021-22 तक 2.95 करोड़ आवासों का निर्माण करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • आवास निर्माण के लिए जगह को 20 मीटर से 25 मीटर किया गया है।
  • शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रुपए की सहायता भी मिलती है।
  • आवास निर्माण के लिए मनरेगा के तहत 90/95 दिनों की अकुशल मजदूरी का प्रावधान है।
  • अन्य सरकारी योजनाओं, जैसे स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण  के साथ मिलकर यह योजना बुनियादी सुविधाओं जैसे शौचालय, बिजली, पानी, स्वच्छ और खाना पकाने के ईंधन, सामाजिक और तरल कचरे के उपचार आदि को सुनिश्चित करना।
  • स्थानीय सामग्री, उपयुक्त डिजाइन और प्रशिक्षित राजमिस्त्री के उपयोग को सुनिश्चित करके अच्छे घर बनाने पर अधिक ध्यान दिया जाएगा।
  • लाभार्थियों को सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना 2011 के आंकड़ों में आवास की कमी के मापदंडों का उपयोग करके चुना जाएगा, जिसे ग्राम सभाओं द्वारा वैरीफाई किया जाएगा।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की पात्रता

  • पूरे देश में परिवार के पास कहीं भी पक्का घर नहीं होना चाहिए।
  • शून्य में रहने वाले परिवार, कच्ची दीवार और छत वाले एक या दो कमरे के घर।
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति
  • मुक्त हो चुके बंधुआ मजदूर
  • बीपीएल श्रेणी में अल्पसंख्यक और नॉन-एससी / एसटी ग्रामीण परिवार
  • रिटायर और कार्रवाई में शहीद हुए रक्षा कर्मियों / अर्धसैनिक बलों के सैनिकों की विधवाओं और आश्रित-परिजन
  • परिवार के पास पक्के घर नहीं होने चाहिए
  • इस योजना के तहत लोन के लिए आवेदन करने वाले परिवार में एक पति, पत्नी और बच्चे शामिल हैं (जो कि अविवाहित हों)
  • आवेदक और उसके परिवार को इस योजना के लिए अनिवार्य आय मानदंड को पूरा करना होगा और इसका संबंध ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग), एलआईजी (निम्न आय समूह) या बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) श्रेणी से होना चाहिए।
  • आवेदक के परिवार की आय 3 लाख रुपए से 6 लाख रुपए के बीच होनी चाहिए।
  • किसी लोन पर 6 लाख रुपए की राशि के बाद की राशि पर ब्याज उस लोन पर लागू बाजार दर के अनुसार होगा।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में आवेदन

  • प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण योजना में आवेदन करने के लिए सरकार ने मोबाइल आधारित ‘आवास’ ऐप बनाया है। इसे गूगल के प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।
  • डाउनलोड करने के बाद अपने मोबाइल नंबर की सहायता से इसमें लॉगिन बनाएं।
  • इसके के बाद यह ऐप आपके मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड भेजेगा। इसकी मदद से लॉगिन करने के बाद आवश्यक जानकारियां भरें।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लाभार्थियों की सूची

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना-जी के तहत घर पाने के लिए आवेदन करने के बाद केंद्र सरकार लाभार्थियों का चुनाव करती है। इसके बाद लाभार्थियों की फाइनल लिस्ट पीएमएवाई-जी की वेबसाइट पर डाल दी जाती है। सबसे पहले आप पीएमएवाईजी की वेबसाइट https://pmayg.nic.in/netiay/home.aspx  पर जायें। इसके बाद ऊपर के टैब में हितधारक पर क्लिक करें। इस पर क्लिक करने पर आईएवाई/पीएमएवाईजी लाभार्थी पर क्लिक करें। यहां रजिस्ट्रेशन नंबर लिखने के बाद आपको संबंधित जानकारी मिल जाएगी।

 

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में सरकारी मदद

अगर आप भी अपना घर बनाना चाहते हैं और जरूरी पैसे की दिक्कत से जूझ रहे हैं तो आप पीएम आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए मिलने वाली सरकारी मदद ले सकते हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में छह फीसदी सालाना ब्याज दर पर छह लाख रुपए का लोन मिलता है। अगर आपको घर बनाने के लिए ज्यादा रकम की आवश्यकता है तो आपको अतिरिक्त रकम का लोन आम ब्याज दर पर मिल सकता है।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना में लोन की अवधि

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अधिकतम 30 वर्षों की अवधि के लिए लोन प्रदान किया जाता है। यदि लाभार्थी की आयु 30 वर्ष की अवधि पूर्ण होने से पहले 65 वर्ष हो जाती है तो उसे अपनी आयु 65 वर्ष होने से पहले पहले लोन का भुगतान करना होगा। यदि कोई व्यक्ति इस अवधि से पहले भी लोन का भुगतान करना चाहे तो वह कर सकता है।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के हेल्पलाइन नंबर

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का लाभ अधिक से अधिक लोग उठा सके। इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं। यदि आपको योजना से संबंधित कोई जानकारी चाहिए तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर तथा ईमेल आईडी कुछ इस प्रकार है।
Toll Free Number- 1800116446
Email- [email protected]

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back