एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम, जानिए किन किसानों को मिलेगा फायदा

एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम, जानिए किन किसानों को मिलेगा फायदा

Posted On - 13 Apr 2020

अगर आप है कर्जमुक्त किसान तो आपके लिए खेत खरीदना बिल्कुल आसान

ट्रैक्टर जंक्शन पर किसान भाइयों का एक बार फिर स्वागत है। सभी किसान भाई जानते हैं कि कोरोना वायरस संक्रमण काल के दौरान देश की सरकार व आमलोगों को एक बार फिर किसान की अहमियत का पता चल गया है। कोरोना संक्रमण के बादल छंटने के बाद हर देश की सरकार चाहेगी कि देश का किसान समृद्ध हो और देश में खाद्यान्न का भरपूर उत्पादन हो। इसके लिए देश में कई नई योजनाएं भी आएंगी और वर्तमान योजनाओं में कुछ अच्छी नीतियों को भी जोड़ा जा सकता है। ऐसे में भविष्य में कृषि का स्तर बहुत ऊंचा जाने वाला है। आज हम बात करते है कि नया खेत खरीदने के लिए किसानों के लिए देश में कौनसी योजना चल रही है। ट्रैक्टर जंक्शन आपको एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम की जानकारी दे रहा है। इस योजना का लाभ उठाकर किसान नया खेत खरीद सकते हैं। साथ ही इस योजना में लोन को 9 से 10 साल तक आसान किश्तों में चुकाया जा सकता है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम का उद्देश्य और खास बातें

 

•    अगर आप खेती करना चाहते हैं आपके पास कम जमीन है या जमीन नहीं है तो आप भारतीय स्टेट बैंक की लैंड परचेज स्कीम का फायदा उठा सकते हैं। 

•    एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम का मकसद छोटे और सीमांत किसानों की जमीन खरीदने में मदद करना है। इसके साथ ही खेती करने वाले ऐसे भी लोग भी इस योजना के तहत लोन लेकर जमीन खरीद सकते हैं जिनके पास पहले से खेती के लिए कृषि योग्य नहीं है। 

•    भारतीय स्टेट बैंक खेती के लिए जमीन खरीदने के लिए उन लोगों को लोन दे रहा है, जिनके लोन की रकम चुकाने का रिकॉर्ड बेहतर है। अगर आप भी इस योजना के तहत खेती के लिए  जमीन खरीदना चाहते हैं तो आपको लोन की रकम चुकाने के लिए 9  से 10 साल का समय मिल सकता है।

•    एसबीआई वास्तव में खेती की जमीन खरीदने के लिए जमीन की कीमत का 85 प्रतिशत तक (अधिकतम 5 लाख) लोन दे रही है। इसमें लोन की रकम वापसी की अवधि एक से दो साल में शुरू होगी।

 

 

यह भी पढ़ें : कृषि कार्यों के लिए 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान पर लोन

 

एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम में आवेदन

•    भारतीय स्टेट बैंक के अनुसार लैंड परचेज स्कीम के तहत जमीन खरीदने के लिए ऐसे छोटे और सीमांत किसान आवेदन कर सकते हैं जिनके पास पांच एकड़ से कम असिंचित भूमि है।

•    अगर किसी किसान के पास 2.5 एकड़ से से कम सिंचित भूमि है तो वह भी इस स्कीम की मदद से खेती की जमीन खरीद सकता है।

•    इसके साथ ही खेती का काम करने वाले भूमिहीन मजदूर भी इस स्कीम के तहत जमीन खरीदने के लिए लोन ले सकते हैं।

•    एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम के तहत खेत खरीदने के लिए लोन लेने का आवेदन करने वाले व्यक्ति का कम से कम दो साल का लोन रीपेमेंट का रिकॉर्ड होना चाहिए।

•    एसबीआई कृषि भूमि खरीदने के लिए दूसरे बैंक से लिए गए लोन के ग्राहकों के आवेदन पर भी विचार कर सकता है।

•    एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम में खेत खरीदने के लिए लोन देने की एकमात्र शर्त यह है कि आवेदक पर किसी और बैंक का लोन बकाया नहीं होना चाहिए।

 

लैंड परचेज स्कीम में लोन

•    एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम के तहत खेती की जमीन खरीदने के लिए लोन के आवेदन पर स्टेट बैंक उस जमीन की कीमत का आंकलन करेगा।

•    इसके बाद कृषि भूमि की कुल कीमत का 85 फीसदी (अधिकतम 5 लाख) तक लोन लिया जा सकता है।

•    लैंड परचेज स्कीम के तहत लोन लेकर खरीदी जाने वाली कृषि भूमि लोन की रकम वापस करने तक बैंक के पास बंधक रहेगी। जब आवेदक लोन की रकम का रीपमेंट कर देता है तो उस जमीन को बैंक से मुक्त करा सकता है।

 

 

लैंड परचेज स्कीम में लोन चुकाने की अवधि

एसबीआई की लैंड परचेज स्कीम के तहत लोन लेने पर आपको 1 से 2 साल का फ्री समय मिलता है। अगर जमीन को खेती के हिसाब से सही करना है तो उसके लिए दो साल और अगर पहले से ही विकसित भूमि है तो उसके लिए एसबीआई आपको एक साल का फ्री पीरियड देता है।

यह समय पूरा होने के बाद आपको छमाही किश्त के जरिए लैंड परचेज स्कीम के तहत लिए गए लोन का रीपेमेंट करना होता है। लोन लेने वाला व्यक्ति 9-10 साल में लोन का रीपेमेंट कर सकता है।

 

सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।
 

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back