महिला समृद्धि योजना : महिलाओं को खाता खोलने पर मिलेगा 24 प्रतिशत ब्याज

महिला समृद्धि योजना : महिलाओं को खाता खोलने पर मिलेगा 24 प्रतिशत ब्याज

Posted On - 21 Oct 2021

जानें, क्या है केंद्र सरकार की ये योजना और इससे कैसे मिलेगा लाभ

केंद्र सरकार की ओर से ग्रामीण विकास और ग्रामीण लोगों के उत्थान के लिए कई योजनाएं चला रखी है। किसानों के लिए कई तरह की योजनाएं है जिनके तहत किसानों को आर्थिक मदद दी जा रही है। इसी तरह ग्रामीण महिलाओं के लिए भी सरकार ने योजनाएं चला रखी हैं, लेकिन जानकारी के अभाव में ग्रामीण महिलाएं इन योजनाओं का लाभ नहीं ले पाती है। आज हम विशेष कर ग्रामीण महिलाओं से जुड़ी योजना की जानकारी लेकर आए है ताकि ग्रामीण महिलाएं इस योजना का लाभ उठा कर अपने जीवन स्तर को और ऊंचा कर सकें। 

Buy Used Livestocks

ग्रामीण महिलाओं को बचत के लिए प्रोत्साहित करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से महिला समृद्धि योजना (एमएसवाई) का चलाई जा रही है। इस योजना के तहत ग्रामीण महिलाएं डाकघर में खाता खोलती है तो उन्हें सालाना 24 प्रतिशत की दर से ब्याज का लाभ दिया जाता है। बता दें कि केंद्र सरकार की ये योजना केवल ग्रामीण महिलाओं के लिए है। 

क्या है महिला समृद्धि योजना (Mahila Samridhi Yojana)

आर्थिक दृष्टि से कमजोर ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार की ओर महिला समृद्धि योजना शुरू की गई है। महिला समृद्धि योजना का लाभ लेने के लिए ग्रामीण महिलाओं को अपने गांव के डाकघर में खाता खुलवाना होगा। इस योजना के तहत महिलाओं को अपनी जमा रकम पर 24 प्रतिशत तक ब्याज दिया जाता है। ग्रामीण महिलाओं को इस ब्याज दर का लाभ कुछ तय नियमों के शर्तों के आधार पर दिया जाता है। 

महिला समृद्धि योजना 2021 में खाता खुलवाने से लाभ

महिला समृद्धि योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर ग्रामीण महिलाओं में बचत की आदत को प्रोत्साहित करना है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण महिलाएं छोटी-छोटी बचत कर पैसा इक्ट्ठा कर सकती हैं। 300 रुपए की रकम इक्ट्ठी होने पर महिला को सालाना 24 प्रतिशत ब्याज का लाभ दिया जाता है। इस तरह इस योजना में खाता खुलवाना गरीब ग्रामीण महिलाओं को लाभ देने वाला है। 

Post Office Mahila Samridhi Yojana : कितना रुपए किया जा सकता है जमा 

महिला समृद्धि योजना के तहत ग्रामीण वयस्क महिला अपने गांव/पंचायत के डाकघर में खाता खोलकर एक वर्ष में कम से कम 300 रुपए जमा करना होता है। महिलाओं द्वारा जमा धनराशि पर केंद्र सरकार द्वारा 24 प्रतिशत तक सालाना ब्याज देने का प्रावधान है। महिला समृद्धि खाता सालाना कम से कम 300 रुपए जमा करना होता है। अगर कोई महिला महिला समृद्धि खाता में सालाना 300 रुपए जमा करती हैं, तो केंद्र सरकार द्वारा उस 300 रुपए 24 प्रतिशत ब्याज दिया जाएगा।

24 प्रतिशत ब्याज के गणित को इस तरह समझें

24 प्रतिशत यानि 100 रुपया पर 24 प्रतिशत होता है 24 रुपया। इसी तरह 300 रुपए का 24 प्रतिशत ब्याज होगा- 24+24+24= 72 रुपया। यानी 300 रुपए पर आपको हर साल 72 रुपए का ब्याज मिलेगा। इसी तरह जैसे- जैसे जमा रकम बढ़ती जाएगी, वैसे-वैसे ब्याज की रकम बढ़ती जाएगी।

महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए कम से कम कितनी रकम चाहिए

महिला समृद्धि योजना में महिलाएं 4 रुपए की छोटी सी रकम या उसके गुणांक (8,12,16... रुपए) में पैसा जमा करा ये खाता खुलवा सकती हैं। लेकिन इस खातें में साल भर में जमा कराई गई कुल रकम 300 रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए। यानि आप महिला समृद्धि खाता में एक साल में 4 रुपए से ज्यादा और 300 रुपए से कम ही आप जमा कर सकते हैं।

महिला समृद्धि योजना खाते से कितनी बार निकाला जा सकता है पैसा

महिला समृद्धि खाता से कोई महिला एक साल पूरा होने से पहले केवल दो बार पैसा निकाल सकती है। महिला समृद्धि खाता से न्यूनतम 20 रुपए और अधिकतम 300 रुपए तक ही निकाला जा सकता है। इसके अलावा महिला समृद्धि खातादारी महिला 12 महीने पूरे होने से पहले भी अपने द्वारा जमा किया गया पैसा निकाल सकती है।

महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए पात्रता/शर्तें

महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए जो पात्रता और शर्तें तय की गई हैं वे इस प्रकार से हैं-

COVID Vaccine Process

  • महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए केवल देश की ग्रामीण महिलाएं ही पात्र होंगी। चाहे वे देश के किसी भी राज्य के गांव में निवास करती हो।
  • इस योजना के तहत वे ही महिलाएं पात्र होंगी जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हैं।
  • योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए आवेदन करने वाली महिला की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • योजना के तहत आवेदन करने वाली महिला के पास बीपीएल कार्ड होना जरूरी है।
  • इस योजना के तहत महिलाओं को लोन भी दिया जाता है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि महिला कमाती हो और उसके परिवार की वार्षिक आय तीन लाख रुपए से अधिक नहीं हो। 
  • लोन लेने वाली महिला के ऊपर किसी प्रकार का अपराधिक मामला नहीं होना चाहिए। यदि ऐसा है तो इसके लिए स्पष्टीकरण उन्हें देना पड़ता है।


महिला समृद्धि योजना खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

वे ग्रामीण महिलाएं जो उपरोक्त पात्रता रखती है वे महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवा सकती हैं। महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए जिन दस्तावेजों की जरूरत होगी वे इस प्रकार से हैं-

  • आवेदन करने वाली महिला का आधार कार्ड
  • परिवार का राशन कार्ड
  • निवास का प्रमाण पत्र  (बिजली/पानी का बिल)
  • पासपोर्ट साइज फोटो


महिला समृद्धि योजना में कैसे खोले खाता

महिला समृद्धि योजना में खाता खोलने के लिए महिला को अपने गांव के डाकघर में जाना होगा। वहां डाकघर में बाबू को बताना होगा कि आप महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाना चाहती है। वे आपको इसका फार्म देगा। इसके बाद आपको इस फार्म में पूछी गई सभी जानकारियों को सही-सही भरकर डाकघर में जमा कराना होगा। इस तरह आपका खाता खुल जाएगा।  

महिला समृद्धि योजना खाता से संबंधित खास बातें

  • महिला समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने वाली महिला किसी और दूसरी योजना में भी खाता खुलवा सकती है।
  • अगर खाता धारी महिला अपना स्थाई पता बदल देती है तो उसे अपना खाता बंद करने के बाद उस नये पते पर नया खाता खुलवा सकती हैं।
  • एक बार जिस महिला के नाम पर महिला समृद्धि योजना खाता खुल जाता है तो वह महिला अपना खाता किसी दूसरे के नाम पर ट्रांसफर नहीं कर सकती है। लेकिन हां महिला अपने खाते में किसी भी व्यक्ति को नॉमिनेट जरूर कर सकती है।
  • अगर आप महिला समृद्धि योजना खाता में 300 रुपए से अधिक की धनराशि जमा कर देते हैं तो उस जमा धनराशि पर कोई भी वार्षिक ब्याज नहीं मिलेगा।
  • महिला समृद्धि योजना का लाभ लेने के लिए महिला के पास निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए। अगर निवास प्रमाण पत्र नहीं है तो महिला खुद से भी पत्र लिखकर अपने को अमुख ग्राम की निवासी बना सकती हैं।
  • इतना ही नहीं लाभार्थी महिला अपनी उम्र एवं अपना निवास पता आवेदन पत्र में स्वयं प्रमाणित कर सकती है।
  • खाता खुलवाने की इच्छुक महिला के पास अगर आधार कार्ड होगा तो सिर्फ आधार कार्ड से ही काम हो जाएगा। अन्य किसी कागजात की जरूरत नहीं होगी।
  • महिला समृद्धि खाताधारी महिला एक साथ में एक से अधिक खाता इस योजना के तहत नहीं खोल सकती हैं।
  • महिला समृद्धि योजना के अंतर्गत खाताधारी महिला किसी दूसरी योजना में भी खाता खोल सकती है। इसके लिए इस योजना में कोई पाबंदी नहीं है। 


महिला समृद्धि योजना से संबंधित प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 1. क्या महिला समृद्धि योजना में 300 रुपए से अधिक जमा कराने पर भी 24 प्रतिशत ब्याज का लाभ मिलेगा?
उत्तर- नहीं, 300 रुपए से अधिक जमा कराने पर 24 प्रतिशत ब्याज का लाभ नहीं मिलेगा।

प्रश्न 2. क्या महिला समृद्धि खाता योजना का लाभ एजेंट के जरिये लिया जा सकता है?
उत्तर- नहीं, इस योजना में कोई एजेंट नहीं होता है। आपको डाकघर जाकर स्वयं ये खाता खुलवाना होता है।

प्रश्न 3. जिस महिला ने महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवा रखा हो तो क्या वे दूसरी सरकार की योजना में भी खाता खुलवा सकती है?
उत्तर- हां, दूसरी योजना में खाता खुलवा सकती है क्योंकि इस योजना में ऐसी कोई बाध्यता या शर्त नहीं है।  

प्रश्न 4. महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए कम से कम उम्र कितनी होनी चाहिए?
उत्तर- महिला समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए महिला की कम से कम उम्र 18 वर्ष या उससे ऊपर होनी चाहिए। 

प्रश्न 5. महिला समृद्धि खाता योजना के बारें में और अधिक जानकारी कहां से मिल सकती है?
उत्तर- महिला समृद्धि खाता योजना के बारें में और अधिक जानकारी आपको अपने गांव के डाकघर के पोस्ट मास्टर से मिल सकती है।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top