ई-श्रम कार्ड : श्रमिकों को मिल रहे है 1000 रुपए, जानें ई-श्रमिक कार्ड के फायदे

Published - 06 Jan 2022

ई-श्रम कार्ड : श्रमिकों को मिल रहे है 1000 रुपए, जानें ई-श्रमिक कार्ड के फायदे

जानें, ई-श्रम कार्ड के फायदें और इसे बनवाने का तरीका

सरकार की ओर से श्रमिकों के लिए ई-श्रम कार्ड योजना ( e-shram card scheme ) चलाई जा रही है। इसमें देश का कोई भी गरीब कामगार जुड़ सकता है। ई-श्रम कार्ड, श्रमिकों के लिए बड़े काम की चीज है। इससे श्रमिकों को कई सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है। हाल ही में यूपी सरकार की ओर से ई-श्रम कार्ड धारकों के खाते में 1 हजार रुपए डाले गए हैं। दरअसल पिछले दिनों उत्तर प्रदेश की सरकार ने करीब दो करोड़ श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ता दिया है। इसी के साथ इस योजना के पहले चरण में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के खाते में एक-एक हजार रुपए की राशि ट्रांसफर की गई है। ये राशि उन्हीं श्रमिकों के खातों में ट्रांसफर की गई है जिन्होंने 31 दिसंबर तक ई श्रम पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा लिया था। बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने ये फैसला कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए लिया है ताकि ये लोग आसानी से अपनी आजीविका चला सकें। 

Buy Used Tractor

यूपी में श्रमिकों के खाते में ट्रांसफर की दिसंबर और जनवरी की किस्त

यूपी सरकार की ओर से ई-श्रम कार्ड धारक श्रमिकों को 500 रुपए की राशि दिसंबर 2021 से लेकर मार्च 2022 तक यानि चार माह तक दी जाएगी। इसमें से दो माह की दिसंबर और जनवरी की धनराशि राज्य के श्रमिकों के खाते में ट्रांसफर की गई है। इस तरह इस बार राज्य के पंजीकृत प्रत्येक श्रमिक के खाते में एक हजार रुपए की राशि ट्रांसफर की गई है। इसे आप अपनी बैंक ब्रांच में विजिट करके चेक कर सकते हैं। राज्य के ई-कार्ड धारक श्रमिक पासबुक अपडेट, यूपीआई या फिर एटीएम के जरिए भी इसे चेक कर सकते हैं। 

ई- श्रम कार्ड बनवाने पर मिलता है 2 लाख का बीमा

ई श्रमिक कार्ड बनवाने पर श्रमिकों को कई फायदे मिलते हैं। ई-श्रम कार्ड बनवाने पर व्यक्ति को 2 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा मिलता है। इसके तहत दुर्घटना से हुई मृत्यु अथवा स्थाई रूप से विकलांग होने पर दो लाख रुपए और आंशिक रूप से विकलांग होने पर एक लाख रुपए की अनुदान राशि मिलती है।

ई-श्रम कार्ड के और भी हैं कई फायदें

  •  ई-श्रम कार्ड बनवाने से व्यक्ति को बहुत से फायदे मिलते है। इस कार्ड के बनने के बाद मजदूरों को रोजगार मिलने की संभावना बढ़ जाती है। 
  •  कार्ड की सहायता से श्रमिक सरकार की ओर से चलाई जा रही कई योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  •  ई-श्रम कार्ड से महंगे इलाज में आर्थिक सहायता मिलती है।
  •  ई-श्रम कार्ड से मातृत्व लाभ के तहत अगर कोई गर्भवती महिला कर्मचारी काम करने में असमर्थ है तो उसका और उसके बच्चों के भरण-पोषण और रखरखाव के लिए पूरी व्यवस्था की जाएगी।
  •  ई-श्रम कार्ड से बच्चों की पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद मिलती है।

कौन बनवा सकता है ई-श्रम कार्ड ( E-Shram Card ) 

देश का कोई भी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाला 16 से लेकर 60 वर्ष की आयु से कम का कोई भी श्रमिक (कामगार) ई-श्रम कार्ड बनवा सकता है। ई-श्रम कार्ड का लाभ उन श्रमिकों को मिलेगा। जिन्होंने अब तक श्रम विभाग की किसी भी योजना का लाभ प्राप्त नहीं किया हो और आयकर के दायरे में नहीं आता हो। वहीं यदि कोई कामगार ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य है तो भी वह पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं करा सकता है।

कहां कराएं पोर्टल पर ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन

16 से 59 साल का कोई भी कामगार ई-श्रम पोर्टल https://eshram.gov.in/ के जरिए रजिस्ट्रेशन करा सकता है या फिर कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर जाकर करा सकता है। रजिस्ट्रेशन पूरी तरह से नि:शुल्क है। कामगारों को पोर्टल या कॉमन सर्विस सेंटर पर रजिस्ट्रेशन के लिए किसी भी प्रकार रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान नहीं करना होगा।

ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन हेतु आवश्यक दस्तावेज

ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन कराने हेतु आपको कुछ दस्तावेजों की जरूरत होगी। इसमें आपका आधार संख्या, आधार से लिंक मोबाइल नंबर और बैंक खाता के विवरण हेतु पासबुक की कॉपी की आवश्यकता होगी। यहां ध्यान देने वाली बात ये हैं कि कामगार श्रमिक का मोबाइल नंबर आधार से लिंक होना जरूरी है। यदि किसी कामगार के पास आधार से लिंक मोबाइल नंबर नहीं है, तो वह निकटतम सीएससी पर जा सकता है और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकता है। 

38 करोड़ कामगारों का रजिस्ट्रेशन का है लक्ष्य

केंद्र सरकार ने ई-श्रम पोर्टल पर 38 करोड़ श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन कराने का लक्ष्य रखा है। उत्तर प्रदेश सबसे अधिक ई-श्रम कार्ड कृषि श्रमिकों के पास है। इनकी कुल संख्या 1 करोड़ 33 लाख 88 हजार 542 है। दूसरे नंबर पर घरेलू कामगार हैं, जिनकी संख्या 43 लाख 40 हजार 111 है। वहीं, तीसरे नंबर पर निर्माण क्षेत्र में लगे श्रमिक हैं, जिनकी संख्या 25 लाख 73 हजार 740 है। 

Buy Used Tractor

अब तक देश के कितने कामगारों ने ई-श्रम कार्ड के लिए कराया रजिस्ट्रेशन

ताजा आंकड़ों के मुताबिक, ई-श्रम पोर्टल से जुडऩे वाले श्रमिकों की संख्या 18 करोड़ पार कर गई है। वहीं पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाने वालों में महिलाओं की संख्या सबसे अधिक है। पोर्टल में दी गई जानकारी के अनुसार, 52.93 फीसदी महिलाएं अब तक पंजीकरण करवा चुकी हैं, जबकि, 47.06 फीसदी पुरुष रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा कि, 18 करोड़ असंगठित कामगार ई-श्रम से जुड़ चुके हैं। बता दें, इससे पहले 31 दिसंबर, 2021 को ई-श्रम पोर्टल पर 17 करोड़ असंगठित कामगारों का आंकड़ा पूरा हुआ था। 

ई-श्रम कार्ड के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

आप स्वयं भी  ई-श्रम कार्ड के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया इस प्रकार से है।

  •  ई-श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट https://eshram.gov.in पर जाएं। होम पेज पर रजिस्टर ऑन ई-श्रम विकल्प पर क्लिक करें।
  • नया पेज खुलने पर मांगी गई जानकारियां दर्ज करें। इसके बाद आपके आधार कार्ड से लिंक मोबाइन नंबर पर ओटीपीआएगा। इसे दर्ज करें।
  • इससे पंजीकरण पेज खुल जाएगा। आवेदन फॉर्म को पूरा भरना होगा। मांगे गए जरूरी दस्तावेज अपलोड करने होंगे। अंत में फॉर्म को सब्मिट कर दें।
  • इसके बाद पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होने के बाद 10 अंकों को ई-श्रम कार्ड जारी हो जाएगा।

ई-श्रम कार्ड से संबंधित अधिक जानकारी के लिए कहां करें संपर्क

ई-श्रम कार्ड सें संबंधित अधिक जानकारी के लिए इसकी हेल्पलाइन नंबर - पंजीकरण के लिए सरकार ने 14434 टोल फ्री नंबर भी रखा है। इस पर ज्यादा जानकारी ले सकते हैं।
 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back