एग्रीकल्चर मशीनरी : स्वराज का धान उत्पादन के लिए विशेष ट्रैक्टर

Published - 18 Mar 2021

एग्रीकल्चर मशीनरी : स्वराज का धान उत्पादन के लिए विशेष ट्रैक्टर

आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में शानदार प्रदर्शन, जानें, इस नए ट्रैक्टर की खासियत और लाभ?

स्वराज ट्रैक्टर ने हाल ही में धान उत्पादन के लिए विशेष ट्रैक्टर लॉन्च किया है। इस ट्रैक्टर का शानदार प्रदर्शन देखा गया है। विशेष कर कंपनी का फोकस आंध्रप्रदेश और तेलंगाना राज्य की ओर होने से यहां प्रदर्शन कामयाब रहा है। हम बात कर रहे हैं स्वराज 742 एक्सटी ट्रैक्टर की। यह ट्रैक्टर अपनी खासियत और लाभ के कारण किसानों के बीच इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रहा है। मीडिया में प्रकाशित खबरों से मिली जानकारी के आधार पर स्वराज ट्रैक्टर्स ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में अपनी उपस्थिति को मजबूत बनाते हुए यांत्रिक तरीके से धान की खेती के लिए श्रृंखलाबद्ध पहल की है। दोनों ही बाजारों की सबसे बड़ी ट्रैक्टर कंपनियों में से एक होने के नाते और इस क्षेत्र की प्रमुख खरीफ फसल धान के लिए कंपनी ने नया स्वराज 742 एक्सटी ट्रैक्टर लॉन्च किया है। धान की यांत्रिक खेती के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए, नये 45 हॉर्सपावर (33.55 किलोवाट) ट्रैक्टर ने पडलिंग ऑपरेशंस में अपने प्रदर्शन एवं किफायती ईंधन खपत की दृष्टि से सफलता हासिल की है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


बड़े खेतों से लेकर छोटे जोतों तक के लिए मशीनरी की रेंज

स्वराज ने बड़े खेतों से लेकर छोटे जोतों तक के लिए फार्म मशीनरी की रेंज भी लांच की है। गीले धान से लेकर सूखे अनाज तक के लिए हार्वेस्टिंग समाधान उपलब्ध कराता है ताकि पैदावार बढ़ सके और अनाज का नुकसान घट सके। कंपनी द्वारा 4-व्हील ड्राइव ट्रैक्टर्स और कम एचपी वाले ट्रैक्टर्स सहित उच्च- एचपी रेंज में और नये ट्रैक्टर्स लाए जाएंगे, ताकि छोटे किसानों को उनके पडलिंग ऑपरेशंस में मदद मिल सके।

 


कंपनी का लक्ष्य : धान के उत्पादन में हो बढ़ोतरी

स्वराज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरीश चह्वाण ने मीडिया को बताया कि धान, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना 
की मुख्य फसल है, इसलिए स्वराज चाहता है कि धान के किसानों को श्रृंखलाबद्ध समाधान उपलब्ध कराकर इस क्षेत्र के इस बेहद दमदार ब्रांड को और अधिक मजबूत बनाएं। इस क्षेत्र में धान फसल के यंत्रीकरण की भारी संभावना मौजूद है जिससे इन राज्यों के धान की पैदावार एवं उत्पादन में बढ़ोतरी हो। चूंकि धान की खेती का परंपरागत तरीका श्रम-साध्य, अधिक समय लेने वाला और कम लाभदायक है, इसलिए दोनों ही राज्यों में लगातार यांत्रिक स्रोत, मानव श्रम का स्थान ले रहे हैं। पिछले पांच वर्षों में ट्रैक्टर्स की दोगुनी बिक्री, संबंधित राज्य सरकारों से सहायता और अन्य अनुकूल स्थितियों के चलते धान की पैदावार बढ़ी है।


स्वराज के विशेष ट्रैक्टर 742 एक्सटी की खासियत/लाभ

  • स्वराज 742 एक्सटी एचपी एक 42 एचपी ट्रेक्टर है। 742 एक्सटी इंजन की क्षमता असाधारण है।
  • स्वराज ट्रैक्टर 742 एक्सटी में क्लच है, जो सुचारू और आसान कार्य प्रदान करता है।
  •  स्वराज 742 एक्सटी ट्रैक्टर को नियंत्रित करना और तेजी से प्रतिक्रिया करना आसान है।
  • ट्रैक्टर में दिए गए ब्रेक उच्च पकड़ और कम फिसलन प्रदान करते हैं।
  • स्वराज 742 एक्सटी का माइलेज हर क्षेत्र में किफायती है और इसमें व्हील ड्राइव का विकल्प है। ये विकल्प इसे कृषक, रोटावेटर, हल, बोने वाले और अन्य जैसे उपकरणों के संदर्भ में काफी उपयोगी है।
  • स्वराज 742 एक्स टी विशेष गियर बॉक्स के साथ आता है। इसकी भारोत्तोलन क्षमता 1700 किलो है जो आसानी से भारी उपकरणों को बढ़ा सकता है।
  • स्वराज 742 एक्स टी किसानों की धान उत्पादन लागत को कम करके अधिक उत्पादन प्रदान करने में अहम भूमिका निभाता है।
  • स्वराज 742 एक्स टी का इस्तेमाल, डीजल की खपत कम करने में सहायक है।

 


 

ट्रैक्टर सहित सभी प्रकार के आधुनिक कृषि यंत्र खरीदने के लिए यहां करें संपर्क

ट्रैक्टर जंक्शन किसानों के लिए एक भरोसेमंद ऑनलाइन प्लेटफार्म हैं जहां किसानों की सुविधा के अनुसार ट्रैक्टर सहित अन्य कृषि उपकरणों के खरीदने व बेचने की सुविधा उपलब्ध है। ट्रैक्टर जंक्शन पर स्वराज सहित कई कंपनियों के ट्रैक्टर और आधुनिक कृषि यंत्र उपलब्ध है। किसान भाई यहां लॉगिन करके इन्हें ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back