पीएम किसान सम्मान निधि योजना : नए वित्त वर्ष में किसान जुड़वाए नाम, मई में आएगा पैसा

पीएम किसान सम्मान निधि योजना : नए वित्त वर्ष में किसान जुड़वाए नाम, मई में आएगा पैसा

Posted On - 29 Apr 2020

पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020

ट्रैक्टर जंक्शन पर किसान भाइयों का स्वागत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के करोड़ों किसानों के लिए कई फायदे वाली योजनाएं शुरू की है। इन योजनाओं में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना काफी अहम है। इस योजना के तहत सरकार किसानों के बैंक खातों में हर साल 6 हजार रुपये जमा करती है। यह राशि तीन बराबर किस्तों में किसानों के खाते में डाली जाती है। केंद्र सरकार ने नए वित्त वर्ष 2020 में किसानों के नाम जोडऩे की प्रक्रिया शुरू हो गई है। नया वित्तीय वर्ष शुरू हो चुका है, इसलिए अब नई सूची जारी की जाएगी। इससे पहले किसानों को अपना नाम सूची में जांचने और नए नाम जोडऩे का अवसर दिया गया है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 में ऑनलाइन देखें नाम

  • अगर आपने इस योजना को फायदा लेने के लिए आवेदन किया है और अब अपना नाम लाभार्थियों की सूची में देखना चाहते है तो आपके लिए सरकार ने अब यह सुविधा ऑनलाइन भी मुहैया करा दी है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 की नई सूची को सरकारी वेबसाइट pmkisan.gov.in पर चेक कर सकते हैं।
  • अगर आपका आवेदन किसी डॉक्यूमेंट (आधार, मोबाइल नंबर या बैंक खाता) की वजह से रुका है तो वह कागजात ऑनलाइन अपलोड भी कर सकते हैं। 
  • अगर आप किसान हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आप इस बेवसाइट की मदद लेकर अपना नाम खुद जोड़ सकते हैं।

 

 

किसानों के लिए फार्मर कार्नर टैब में कई सुविधाएं 

  • वेबसाइट pmkisan.gov.in पर 'फार्मर कार्नर' टैब है। इसके लिए किसानों को http://pmkisan.gov.in/ बेवसाइट को लॉग इन करना होगा। इसमें दिए गए 'फार्मर कार्नर' वाले टैब में क्लिक करना होगा।
  • इस टैब में किसानों को खुद को पीएम किसान योजना में पंजीकृत करने का विकल्प दिया गया है। अगर आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार ठीक से अपलोड नहीं हुआ है या किसी वजह से आधार नंबर गलत दर्ज हो गया है तो भी इसकी जानकारी इसमें मिल जाएगी।
  • जिन किसानों को इस योजना का लाभ सरकार की तरफ से दिया गया है उनके भी नाम राज्य/जिलेवार/तहसील/गांव के हिसाब से देखे जा सकते हैं।
  • इसमें सरकार ने सभी लाभार्थियों की पूरी सूची अपलोड कर दी है। इतना ही नहीं आपके आवेदन की स्थिति क्या है। इसकी जानकारी किसान आधार संख्या/ बैंक खाता/ मोबाइल नंबर के जरिये भी मालूम कर सकते हैं।
  • इसके अलावा पीएम किसान योजना के बारे में खुद को अपडेट रखना चाहते हैं तो इसका लिंक भी दिया गया है। इस लिंक के जरिये आप गूगल प्ले स्टोर में जाकर पीएम किसान मोबाइल एप डाउनलोड कर सकते हैं।

 

यह भी पढ़ें : स्वामित्व योजना : गाँव में आवासीय संपत्ति पर मिलेगा लोन

 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 में नाम जुड़वाने की प्रक्रिया

  • कोरोना वायरस के चलते देशभर में जारी लॉकडाउन के चलते राजस्व विभाग के पटवारी/अधिकारी गांवों और तहसीलों का दौरा नहीं कर पा रहे हैं इसलिए सरकार ने ऑनलाइन नाम जोडऩे की प्रक्रिया को आसान किया है।
  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 की नई सूची को सरकारी वेबसाइट http://pmkisan.gov.in/ पर जांच सकते हैं।
  • इसके अलावा अगर आपको लाभार्थी अपनी स्थिति की ऑनलाइन जांच के साथ ऑनलाइन अपना नाम जोडऩे का आवेदन भी कर सकते हैं।
  • भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के अनुसार पीएम किसान सम्मान निधि लाभार्थियों की नई सूची इसी महीने अंत में या अगले महीने यानी मई में जारी कर देगा।

मई तक आ सकती है अगली लिस्ट, किसान ऐसे देखें अपना नाम

जानकारी के अनुसार कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, पीएम किसान सम्मान निधि के तहत लाभ पाने वाले किसानों की सूची आने वाली मई तक जारी कर देगा। वेबसाइट पर जाकर निम्न स्टेपों के जरिए सूची की जानकारी पा सकते हैं। 

निम्न स्टेपों का पालन करके पूरी लिस्ट देखें

  • वेबसाइट http://pmkisan.gov.in/ खोलें।
  • होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ क्लिक करें।
  • यहां ‘लाभार्थी सूची के लिंक पर जाएं।
  • इसके बाद पूछे गए राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का विवरण दर्ज करें।
  • विवरण भरने के बाद त्रद्गह्ल क्रद्गश्चशह्म्ह्ल पर क्लिक करें और पूरी जानकारी पाएं।

 

 

चौथी नहीं खाते में आएगी 5वीं किस्त 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अप्रैल / मई 2020 में किसानों के खाते में एक किस्त जमा की जानी है। यह किस्त इसलिए जारी की गई है कि कोरोना महामारी के इस दौर में किसानों को आर्थिक मदद मिल सके ताकि खेती की जरूरतों को किसान पूरा कर सकें। इसके बाद पीएम किसान सूची के तहत 2000 रुपये की पांचवीं किस्त सूची में पंजीकृत किसान लाभार्थियों के खातों में हस्तांतरित की जाएगी। जबकि नए पंजीकृत लाभार्थियों को उनके खातों में पहली किस्त मिलेगी।

 

यह भी पढ़ें : सरकार से प्रशिक्षण और 20 लाख का लोन, साथ में 44 प्रतिशत सब्सिडी

 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 : 14 करोड़ किसानों को जोडऩे का लक्ष्य

केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र से जुड़े किसानों के लिए हर वो कदम उठा रही है जिससे किसान भूखे न मरे। इस पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ अभी 9 करोड़ किसान भी उठा पा रहे हैं लेकिन सरकार का लक्ष्य है कि 14 करोड़ किसान इस योजना का लाभ उठाए। इसलिए वो चाहती है कि किसी तरह भी ये स्कीम किसानों तक पहुंचे और इस स्कीम के तहत देश भर के 14 करोड़ किसानों को जोडऩे का लक्ष्य पूरा किया जा सके। हालांकि देश के योजना का लाभ गिने चुने राज्यों के किसानों ने ही उठाया है। इसमें बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश सबसे आगे है।

 

पंजीकरण में किस राज्य ने मारी बाजी

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने कृषि ऋण माफ किया था। यहीं वजह है कि प्रदेश में सबसे ज्यादा किसान इस योजना का लाभ उठा चुके हैं। आंकड़ों के मुताबिक अब तक करीब 2 करोड़ 17 लाख किसानों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। इसके अलावा प्रदेश में 2.15 करोड़ कृषि क्षेत्र से जुड़े किसानों को उनकी पहली किस्त मिल चुकी है। वहीं 1.95 करोड़ को दूसरी, 1.78 करोड़ को तीसरी और 1.42 करोड़ को चौथी किस्त भी मिल चुकी है। इसी के साथ पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत यूपी के सबसे ज्यादा किसानों को फायदा हुआ है और पंजीकरण के साथ लिस्ट में टॉप पर है। महाराष्ट्र में 97,20,823 किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। इसी के साथ पंजीकरण की लिस्ट में महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर हैं। कांग्रेस शासित प्रदेश राजस्थान में अब तक 63,82,829 किसान योजना से जुड़ चुके हैं। इसी के साथ राजस्थान तीसरे नंबर पर है।  मध्य प्रदेश में 63,03,663 किसान अपना रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं और ये चौथे नंबर पर है। पश्चिम बंगाल में केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ अभी तक किसी भी किसान ने नहीं उठाया है।

 

 

सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।
 

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back