आंवला के फायदे और नुकसान : जानें, कोरोना काल में किसानों को कैसे हुआ तीन गुना ज्यादा फायदा

आंवला के फायदे और नुकसान : जानें, कोरोना काल में किसानों को कैसे हुआ तीन गुना ज्यादा फायदा

Posted On - 04 Dec 2020

जानिएं, इस साल क्यूं बढ़ रहे हैं आंवले के दाम, क्या है वजह?

कोरोना काल ने जिसने पूरी दुनिया को संकट में डाल दिया है। इसका असर हर क्षेत्र में देखने को मिला। इससे सबसे ज्यादा उद्योगिक क्षेत्र प्रभावित हुआ और परिणाम स्वरूप लोगों के सामने आर्थिक संकट पैदा हो गया। वहीं दूसरी ओर किसानों के लिए कोरोना काल खुशियां लेकर आया है। यह खुशियां उन किसानों के लिए हैं जो आंवला का उत्पादन करते हैं। इन दिनों बाजार में आंवले की मांग काफी तेजी से बढ़ रही है और इसके दाम भी काफी अच्छे मिल रहे हैं। इससे आंवला उत्पादकों की आमदनी इजाफा हो रहा है। इस संबंध में मुहाना मंडी में आंवले के व्यापारी सौरभ बलाला ने मीडिया को बताया कि कोरोना काल में चूंकि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली इन औषधियों की डिमांड बढ़ गई है। लिहाजा आंवले की डिमांड में भी बेतहाशा बढ़ोतरी रही है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


बाजार में क्या चल रहा है आंवले का भाव

जो आंवला पिछले साल 6 से 7 रुपए किलो तक में बिक रहा था। वहीं आंवला इस बर 17 से 18 रुपए किलो तक में बिक रहा है। अच्छी क्वालिटी का आंवला तो थोक में 25 रुपए किलो तक बिक रहा है। मंडी व्यापारियों का कहना है कि अभी आंवले की आवक शुरू ही हुई है और भावों में इस कदर तेजी देखने को मिल रही है।

 


आंवले की खेती : किसानों को मिल रहा है दो तरफा फायदा

आंवले के भावों में इस बढ़ोतरी का फायदा सीधे तौर पर किसानों को दो तरफा मिल रहा है। एक ओर जहां उन्हें अपनी उपज के दाम ज्यादा मिल रहे हैं वहीं दूसरी ओर आयुर्वेदिक औषधियां और प्रोडक्ट बनाने वाली कम्पनियां आंवला खरीदने के लिए सीधे किसानों के खेत का रुख कर रही है। मुहाना मंडी फल-सब्जी व्यापार संघ के अध्यक्ष राहुल तंवर के मुताबिक आंवले की डिमांड इतनी ज्यादा है कि डाबर और पतंजलि जैसी बड़ी कम्पनियां आंवला खरीदने के लिए सीधे किसानों के पास सौदा करने पहुंच रही हैं। मंडियों से भी बड़ी मात्रा में आंवला फैक्ट्रियों में जा रहा है। औषधियों के साथ ही आंवला कैंडी और मुरब्बे जैसे प्रोडक्ट्स के लिए भी आंवले की खपत बढ़ गई है।


आंवले की फसल : दाम अभी ओर बढऩे की उम्मीद

आने वाले दिनों में आंवले के भावों में और ज्यादा तेजी आने की उम्मीद है। मुहाना मंडी में आंवले के व्यापारी सुधीर कुमार के अनुसार अभी तो आंवले की आवक शुरू ही हुई है और पीक आना अभी बाकी है। अभी कई किसान कच्चे आंवले ही मंडियों में लेकर आ रहे हैं और उनके भी अच्छे दाम मिल रहे हैं। अगले 1-2 महीनों में जब अच्छी क्वालिटी के आंवले की आवक होगी तो भाव पिछले साल के मुकाबले 4 से 5 गुना तक होंगे।


क्यों बढ़ रहे हैं आंवला के दाम, यह है इसके पीछे की वजह

आंवले के भावों में जिस तरह की तेजी देखने को मिल रही है उसे देखकर कहा जा सकता है कि आंवला आम लोगों की इम्यूनिटी तो बढ़ा ही रहा है किसानों की आर्थिक सेहत भी संवार रहा है। राजस्थान में आंवले का बड़े स्तर पर उत्पादन होता है। लिहाजा भावों में तेजी का फायदा भी किसानों को बड़े स्तर पर मिलेगा। बता दें कि आंवला विटामिन सी के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। च्यवनप्राश के साथ ही दूसरी आयुर्वेदिक औषधियों में आंवले का बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता है। इसलिए आंवले का उपयोग इस कोरोना काल में सर्वाधिक हो रहा है।


आंवले के फायदे (health benefits of amla) / आंवला के फायदे और नुकसान

आंवले में विटामिन सी पाया जाता है जो हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। जब हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होता है तो कोई रोग ज्यादा प्रभावित नहीं करता और रोग जल्दी ठीक होने लगता है। इसके अलावा आंवला हमारे शरीर में कैंसर सेल्स को बढऩे से रोकता है। यह शरीर में कोलेस्ट्रॅाल के लेवल नियंत्रित करने में सहायक है। आयुर्वेद में अस्थमा के मरीजों के लिए इसे फायदेमंद बताया गया है। यह डायबिटीज के मरीजों के लिए भी अच्छा माना जाता है। आंवले का सेवन करने से बल्ड शुगर लेवल नियंत्रण में रहता है। जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्या होती है उनके लिए आंवले का सेवन काफी लाभकारी होता है। इसके सेवन से अपच व पेट संबंधी बीमारियों में राहत मिलती है। यही नहीं आंवले के सेवन से लीवर सुरक्षित रहता है। इसके अलावा आंवला के सेवन से बालों के झडऩे की समस्या कम रहती है और बालों की जड़े मजबूत होती है। इसके अलावा आंवला नेत्र, त्वचा संबंधी अनेक बीमारियों में उपयोग में लिया जाता है। इस प्रकार कहे तो सौ रोगों की एक दवा आंवला है। यही कारण है की आयुर्वेद में इसे अमृत समान माना गया है।

नोट : (यहां दिए गए आंवले के फायदे की जानकारी विभिन्न स्त्रोतों से जुटाई गई है। यदि आप किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो आंवले का उपयोग करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें, क्योंकि आंवले का उपयोग हर किसी को फायदा पहुंचाए, ऐसा दावा हम नहीं करते।)

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Mahindra Bolero Maxitruck Plus

Quick Links

scroll to top