भीषण गर्मी के बीच बारिश का अलर्ट जारी, देश के कई राज्यों में हो सकती है भारी बारिश

भीषण गर्मी के बीच बारिश का अलर्ट जारी, देश के कई राज्यों में हो सकती है भारी बारिश

Posted On - 12 Apr 2021

जानें, आने वाले दिनों में कैसा रहेगा मौसम का हाल?

इन दिनों अधिकतर राज्यों में अप्रैल के माह में भीषण गर्मी पडऩे लगी है। लोग गर्मी से राहत पाने के लिए पंखे, कूलर और एसी का सहारा लेने लगे हैं। अधिकतर लोग सुबह या शाम ही को अपने अधिकांश काम निपटाने लगे हैं। इसी बीच मौसम विभाग ने कई राज्यों में बारिश की संभावना जताई हैं। मौसम विभाग के अनुसार 12-14 अप्रैल के बीच केरल और कर्नाटक में भारी बारिश की संभावना है, तमिलनाडु, तेलंगाना पर भी बारिश की गतिविधियां देखी जा सकती है। वहीं दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों में अगले सप्ताह की शुरुआत तक कुछ भारी वर्षा की गतिविधियां होंगी, क्योंकि 12-14 अप्रैल से अगले दो दिनों के लिए इस क्षेत्र में एक ताजा मौसम गतिविधि का पूर्वानुमान लगाया गया है। दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश और पड़ोस में चक्रवाती सर्कुलेशन से एक उत्तर-दक्षिण ट्रफ, तमिलनाडु में कन्याकुमारी क्षेत्र पर एक चक्रवाती सर्कुलेशन, और दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत पर हवाओं का प्रभाव दक्षिण भारत के मौसम को प्रभावित करने के लिए निर्धारित है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


देश में बन रहे इन मौसमी सिस्टम के कारण होगी मौसमी में हलचल

निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर के अनुसार इस सयम देश भर में बने कई मौसमी सिस्टम बन रहे हैं उनमें उत्तरी पाकिस्तान और उससे सटे जम्मू-कश्मीर पर ताजा पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। एक और पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी अफगानिस्तान और उससे सटे पाकिस्तान के ऊपर है। चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण पश्चिम मध्य प्रदेश और आसपास के क्षेत्र में देखा जा सकता है। दक्षिण पश्चिम मध्य प्रदेश पर बने हुए चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र से केरल तक एक निम्न दबाव की रेखा मराठवाड़ा और आंतरिक कर्नाटक से होती हुई गुजर रही है। कोमोरिन क्षेत्र में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। एक निम्न दबाव की रेखा उत्तर-पूर्वी असम से दक्षिण बांग्लादेश तक बनी हुई है। इन सब मौसमी सिस्टम के चलते देश भर में मौसमी गतिविधियां होगी जिसमें बारिश, ओले, आंधी जैसी गतिविधियां शामिल रहेंगी।


अगले 24 घंटों के दौरान देश में ये हो सकती है मौसमी हलचल

अगले 24 घंटों के दौरान, केरल और तटीय कर्नाटक पर हल्की से मध्यम वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर भारी भारी वर्षा हो सकती है। तमिलनाडु, पूर्वी असम और अरुणाचल प्रदेश मे भी तेज बारिश और गरज के साथ बारिश हो सकती है। वहीं पश्चिमी हिमालय क्षेत्रों पर हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात की संभावना है। हिमाचल और उत्तराखंड में एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। शेष उत्तर पूर्व भारत, छत्तीसगढ़, ओडिशा, तेलंगाना और आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम बारिश होगी। गुजरात और कोंकण और गोवा के कुछ भागों में बादलों की गर्जना संभव है। हीटवेव सौराष्ट्र और कच्छ में एक-दो स्थानों पर बनी रह सकती है।


देश के किन-किन राज्यों में हो सकती है बारिश

  • आइएमडी के अनुसार इन मौसम संबंधी परिस्थितियों के प्रभाव में, 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से बहने वाली गरज के साथ छिटपुट बारिश, गरज और तेज हवाओं के साथ केरल और तमिलनाडु में अगले दो दिनों तक बारिश होगी।
  • सोमवार और बुधवार के बीच केरल में कुछ भारी वर्षा होने की संभावना है। मंगलवार और बुधवार को तटीय और उत्तर आंतरिक कर्नाटक में कुछ भारी वर्षा होने की संभावना है।
  • केरल के भीतर, कुछ भारी वर्षा सोमवार और बुधवार को इडुक्की जिले में और बुधवार को वायनाड में होगी। इस बीच, अन्य सभी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होगी।
  • कर्नाटक के लिए, बारिश सोमवार और मंगलवार को अधिकांश जिलों को कवर करेगी, और इसकी कवरेज का विस्तार करेगी और बुधवार को व्यापक हो जाएगी।


मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा सहित इन राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी

आइएमडी के अनुसार अगले 4 से 5 दिन मध्य प्रदेश, विदर्भ, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के अधिकांश हिस्सों में आंधी-तूफान के साथ तेज बारिश होने की संभावना है। इस दौरान हवाओं की रफ्तार 30 से 40 किमी प्रति घंटा रहेगी। मौसम विज्ञान विभाग ने जानकारी दी है कि पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ उत्पन्न हो रहा है। यह पश्चिमी विक्षोभ 14 से 17 अप्रैल के बीच रहेगा। इसके साथ ही दक्षिण में स्थित तमिलनाडु, केरल, माहे और कर्नाटक के तटीय क्षेत्रों में बारिश की संभावना है। वहीं पश्चिमी राजस्थान के कई इलाकों में 14 और 15 अप्रैल को धूल भरी आंधी और बारिश की संभावना जताई जा रही है। इसी के साथ ही बिहार की राजधानी पटना में 14 तारीख को बारिश की संभावना जा रही है।


राजस्थानी दिल्ली में 17 अप्रैल को हो सकती है बारिश

मौसम विभाग के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 12 अप्रैल से 15 अप्रैल तक हल्के बादल छाए रहेंगे। 16 अप्रैल और 17 अप्रैल को भी आसमान में बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार, अप्रैल में दिल्ली में तापमान हमेशा 40 डिग्री पार कर जाता है, पर 2012 में अधिकतम तापमान 38.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। दिल्ली एनसीआर में इस प्री-मानसून गतिविधि के साथ कुछ दिनों के लिए पारा 30 डिग्री तक रहने की उम्मीद जताई जा रही है।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back