ई-श्रम कार्ड बनवाने पर मिलेंगे हर महीने 500 रुपए, और कई फायदे

ई-श्रम कार्ड बनवाने पर मिलेंगे हर महीने 500 रुपए, और कई फायदे

Posted On - 20 Dec 2021

ई-श्रम कार्ड योजना : जानें, क्या है सरकार की योजना और इसमें कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

देश में कई श्रमिक मजदूर असंगठित क्षेत्र के श्रमिक है। इन श्रमिकों को सरकार की ओर से ई-श्रम कार्ड प्रदान किए जा रहे हैं। इस श्रम कार्ड जरिये ये असंगठित क्षेत्र के श्रमिक मजदूरों को 500 रुपए प्रतिमाह दिए जाने की घोषणा की गई है। बता दें कि ई-श्रम कार्ड बनवाने पर श्रमिकों को दो लाख रुपए का बीमा फ्री भी मिलता है। 

Buy Used Livestocks

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने असंगठित क्षेत्र के करीब ढाई करोड़ मजदूरों और करीब 60 लाख पंजीकृत मजदूरों को दिसंबर माह से मार्च तक 500 प्रति माह देने की घोषणा की है। बता दें देश में करीब 38 करोड़ श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन ई-श्रम पोर्टल पर करने का लक्ष्य है। इनमें से अब तक 12.20 करोड़ से अधिक श्रमिक रजिस्टर्ड हो चुके हैं। वहीं यूपी में अभी तक श्रम पोर्टल पर 25691084 श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन करा लिया है और अब उन्हें मार्च तक हर महीने 500 रुपए सरकार की ओर से दिए जाएंगे। ई-श्रम कार्ड के लिए ऑनालाइन रजिस्ट्रेशन 31 दिसंबर 2021 तक किए जा सकते हैं।

कृषि क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों को होगा लाभ

यूपी में जिन लोगों के पास ई-श्रम कार्ड है, उनमें सबसे अधिक 1.24 करोड़ श्रमिक कृषि क्षेत्र से जुड़े हैं। ई-श्रम पोर्टल पर दिए गए आंकड़ों के मुताबिक दूसरे नंबर पर हाउहोल्ड वर्कर हैं, जिनकी संख्या 4039153 है। वहीं, निर्माण क्षेत्र में लगे श्रमिकों की संख्या 2442088 है। 

यूपी में इन जिलों के किसानों ने कराया ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन

ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले यूपी के श्रमिकों की बात करें तो इसमें पूर्वांचल वाले सबसे आगे हैं। अब तक कुशीनगर इसमें टॉप पर है। कुशीनगर के बाद महराजगंज, गोरखपुर, बहराइच, सिद्धार्थनगर और गोंडा का जिले का नाम है। कुशीनगर जिले के 926176 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है तो महराजगंज के 892879 श्रमिकों ने। वहीं, गोरखपुर के 799985 और बहराइच से 635513 श्रमिक पंजीकृत  हैं। उत्तर प्रदेश की महिलाएं ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने में पुरुषों के मुकाबले काफी आगे हैं। ई-श्रम पोर्टल पर 16 दिसंबर 2021 तक के दिए गए आंकड़ों के मुताबिक ई-श्रम कार्ड हासिल करने वाली महिलाओं की संख्या 51.17 फीसदी है तो पुरुषों की 48.83 फीसदी। अगर आयुवर्ग की बात करें तो इनमें 62.83 फीसदी 18 से 40 साल आयु वर्ग के हैं। वहीं, सबसे कम 5.87 फीसद 16-18 साल वाले श्रमिक हैं। 50 से ऊपर वालों का प्रतिशत 10.89 है तो 40-50 वालों का 20.41 प्रतिशत है।

ई-श्रम कार्ड पर 2 लाख रुपए का मिलता है बीमा

असंगठित क्षेत्र के कामगार इस पोर्टल से रजिस्टर्ड होने पर पीएम सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2 लाख रुपए तक की बीमा मिलता है। इसके लिए प्रीमियम देने की जरूरत नहीं है। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के सामाजिक सुरक्षा लाभों का वितरण भी ई-श्रम द्वारा किया जाएगा।

कौन-कौन करा सकता है ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन

कोई भी श्रमिक जो गृह-आधारित कामगार, स्व-नियोजित कामगार या असंगठित क्षेत्र में कार्यरत वेतन भोगी कामगार है और ईएसआईसी या ईपीएफओ का सदस्य नहीं है, उसे असंगठित कामगार कहा जाता है। इसमें घर का नौकर, नौकरानी, काम वाली बाई, खाना बनाने वाली बाई, कुक, सफाई कर्मचारी, गार्ड, कुली, रिक्शा चालक, ठेला में किसी भी प्रकार का सामान बेचने वाला, वेंडर, चाट ठेला वाला, भेल वाला, चाय वाला, होटल के नौकर, रिसेप्शनिस्ट, पूछताछ वाले क्लर्क, ऑपरेटर, सेल्समैन, हेल्पर, ऑटो चालक, ड्राइवर, पंचर बनाने वाला, ब्यूटी पार्लर की वर्कर, नाई, मोची, दर्जी, बढ़ई, प्लम्बर, इलेक्ट्रीशियन, पोताई वाला, पेंटर, टाइल्स वाला, वेल्डिंग वाला, खेती वाले मजदूर, नरेगा मजदूर, ईंट भट्टा में काम करने वाले मजदूर, पत्थर तोडऩे वाले, खदान मजदूर, फाल्स सीलिंग वाला, मूर्ती बनाने वाले, मछुवारा, चरवाहा, डेयरी वाले, सभी पशुपालक, पेपर का हॉकर, जोमैटो स्विगी के डिलीवरी बॉय, अमेजन फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय, कूरियर वाले, नर्स, वार्डबॉय, आया, मंदिर के पुजारी, विभिन्न सरकारी ऑफिस के दैनिक वेतन भोगी, कलेक्टर रेट वाले कर्मचारी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिकाएं, आशा सहयोगिनी आदि यानि सभी तरह के व्यक्ति ई-श्रम कार्ड के लिए अपना पंजीयन हो सकते हैं।

ई- श्रम कार्ड से और भी मिलते हैं कई फायदे

ई-श्रम कार्ड बनवाने से आपको श्रम विभाग की सभी योजनाओं का लाभ जैसे- बच्चों को छात्रवृत्ति, मुफ्त साइकिल, मुफ्त सिलाई मशीन, अपने काम के लिए मुफ्त उपकरण आदि लाभ प्राप्त किए जा सकेंगे। आगे इस ई-कार्ड को राशन कार्ड से लिंक किया जाएगा। इससे देश के कामगार श्रमिकों को सस्ता राशन का उपलब्ध हो सकेगा।

COVID Vaccine Process

ई-श्रम कार्ड के लिए कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

कामगार श्रमिक/मजदूर को ई-श्रम कार्ड हेतु रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड, मोबाइल नंबर जो आधार से लिंक होना चाहिए यदि किसी कामगार के पास लिंक मोबाइल नंबर नहीं है, तो वह निकटतम सीएससी पर जाकर बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से पंजीकरण कर सकता है। इसमें रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क देना नहीं होता है, ये सुविधा निशुल्क है।

तीन तरह से करा सकते हैं ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ई-श्रम कार्ड के लिए आप तीन तरह  से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 

  • ई-श्रम पोर्टल http://eshram.gov.in के माध्यम से सेल्फ रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। 
  • सामान्य सेवा केंद्रों के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।
  • जिलों/उपजिलों में राज्य सरकार के क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 

ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के संबंध में ध्यान रखने वाली बातें

ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान भी रखना जरूरी है, जो इस प्रकार से हैं- 

  • कामगार की उम्र 16 से ऊपर और 60 साल से नीचे होनी चाहिए। 
  • कामगार इनकम टैक्स का भुगतान न करता हो। इसका मतलब ये कि अगर कामगार टैक्सपेयर है तो वो पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन का हकदार नहीं है। 
  • वहीं, कामगार ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य है तो भी वह पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं करा सकता है।  

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Mahindra Bolero Maxitruck Plus

Quick Links

scroll to top