यदि आधार में दिया गया मोबाइल नंबर भूल गए है तो घबराये नहीं, ऐसे मिनटों में पता करें?

यदि आधार में दिया गया मोबाइल नंबर भूल गए है तो घबराये नहीं, ऐसे मिनटों में पता करें?

Posted On - 04 Dec 2020

जानें, कैसे करें आधार में मोबाइल नंबर अपडेट और इससे क्या होगा फायदा

आजकल हर सरकारी योजना में आधार कार्ड अनिवार्य हो गया है। यदि आप किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपके पास आधार होना चाहिए और इस आधार नंबर से आपका खाता लिंक होना चाहिए। तभी आपको सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं में दिया जाने वाला लाभ मिल सकेगा। इसे देखते हुए सभी बैंकों ने अपने ग्राहकों के लिए खाते को आधार से लिंक करना अनिवार्य कर दिया है। वहीं भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकारण (यूआइडीएआई) के डेटाबेस में आपके आधार के साथ मोबाइल नंबर का लिंक होना जरूरी है, क्योंकि इसी मोबाइल नंबर पर आपको ओटीपी भेजा जाता है जिसका इस्तेमाल वेरिफिकेशन के लिए किया जाता है। इसलिए आधार में दिया गया मोबाइल जिसे आपने रजिस्टर्ड करवाया है उसे याद रखना चाहिए। क्योंकि आपको उसी पर ही ओटीपी प्राप्त होगा और यदि आप इसे भूल गए है और अब दूसरे मोबाइल नंबर का उपयोग करते हैं तो आपको ओटीपी नहीं मिल पाएगा जिसके अभाव में वेरिफिकेशन नहीं हो पाएगा। इसके परिणाम स्वरूप आपको परेशानी हो सकती है। ऐसा उन लोगों के साथ होता है जो बहुत से मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं या हर बार अपना मोबाइल नंबर चेंज करते रहते है। इससे उन्हें ये याद नहीं रहता कि उन्होंने अपने आधार में कौनसा मोबाइल नंबर दिया है। अब प्रश्न उठाता है कि ऐसी स्थिति में क्या करें? पर घबराने की कोई बात नहीं है। आप बहुत ही आसानी तरीके से ये जान सकते हैं कि आपने आधार में अपना कौनसा नंबर दिया है। इसके लिए आपको इन स्टेप्स् को फोलो करना होगा।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

आधार में मोबाइल नंबर के बारे में ऐसे जानेें

स्टेप 1 - पहले www.uidai.gov.in पर जाएं।
स्टेप 2- माई आधार टैब में वेरिफाई ईमेल/मोबाइल नंबर सेलेक्ट करें।
स्टेप 3- आपके सिस्टम पर एक नया टैब खुलेगा। यहां अपना आधार नंबर दर्ज करें और या तो मोबाइल नंबर या फिर ईमेल आईडी डालें, जिससे भी आप वेरिफाई करना चाहते हैं।
स्टेप 4- कैप्चा कोड दर्ज करके सेंड ओटीपी पर क्लिक करें।

अगर दर्ज किया गया मोबाइल नंबर यूआईडीएआई के रिकॉर्ड से मेल खाता है तो स्क्रीन पर मैसेज आएगा कि आपका दर्ज किया गया मोबाइल पहले से ही उसके रिकॉर्ड में वेरिफाइड है। ऐसा नहीं होने पर यानी दर्ज किया गया मोबाइल नंबर यूआईडीएआई के रिकॉर्ड से मेल नहीं खाता है तो बताया जाएगा कि दर्ज किया गया मोबाइल नंबर रिकॉर्ड के साथ मैच नहीं करता है।

 


आधार कार्ड में लेटेस्ट मोबाइल नंबर अपडेट करवाने के लिए क्या करें?

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकारण (यूआइडीएआई) ने इस बारे में ऑफिशियल ट्वीटर हैंडिल पर ट्वीट करके जानकारी दी है। इस ट्वीट के मुताबिक, अगर आपने अभी तक अपने लेटेस्ट मोबाइल नंबर को आधार में अपडेट नहीं किया है तो आप बिना किसी डॉक्यूमेंट के इसे अपडेट कर सकते हैं। आपको सिर्फ अपना आधार कार्ड लेकर किसी भी नजदीकी आधार सेवा केंद्र में जाएं और मोबाइल नंबर अपडेट करने के रिक्वेस्ट दे सकते हैं। यहां आपको मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए 50 रुपए देने होंगे।


मोबाइल नंबर आधार से लिंक कराने पर ये मिलते हैं फायदे

  • अगर आपका मोबाइल नंबर आधार के साथ लिंक है तो आप आधार बेस्ड ओटीपी के जरिये बड़ी आसानी से अपने इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) को वेरिफाई कर सकते हैं।
  • आधार आधारित केवाईसी के मामले में आपके मोबाइल नंबर का रजिस्टर्ड होना जरूरी है। तभी आधार आधारित ओटीपी के जरिये केवाईसी की प्रक्रिया पूरी होगी।
  • आधार से जुड़ी तमाम तरह की अलग-अलग सेवाएं ऑनलाइन पाने के लिए भी आपके आधार नंबर के साथ मोबाइल नंबर का लिंक होना जरूरी है।


आधार को मोबाइल से अपडेट नहीं कराने पर क्या हो सकता है नुकसान

यदि आपका पुराना नंबर यदि चालू नहीं है जिसे आपने आधार कार्ड में दिया है तो आपको काफी परेशानी हो सकती है। इससे यह होगा कि अगर आप आधार नंबर का इस्तेमाल किसी वेरिफिकेशन प्रक्रिया के लिए करेंगे तो आपके नंबर पर एक ओटीपी आएगा। यह ओटीपी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी पर आएगा। ऐसे में अगर आपका गलत या पुराना नंबर आधार पर पड़ा होगा तो आपको ओटीपी नहीं मिल पाएगा, जिसके कारण आप अपने प्रोसेस को पूरा नहीं कर पाएंगे। इसके साथ ही आप अपने आधार को किसी दस्तावेज से लिंक भी नहीं करा सकेंगे।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back