न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद : मध्यप्रदेश में अब 22 मार्च से शुरू होगी चना, मसूर एवं सरसों की खरीद

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद : मध्यप्रदेश में अब 22 मार्च से शुरू होगी चना, मसूर एवं सरसों की खरीद

Posted On - 15 Mar 2021

जानें, अन्य राज्य में कब से शुरू होगी रबी फसलों की सरकारी खरीद?

रबी फसलों की खरीद को लेकर सभी राज्यों में तैयारियां चल रही है। कई राज्यों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी की फसल गेहूं, चना, जौ, दालों की खरीद को लेकर तिथियां घोषित कर दी है। इसी क्रम में मध्यप्रदेश ने भी अपने यहां गेहूं, चना, मसूर एवं सरसों की खरीद 15 मार्च से शुरू की जानी थी। लेकिन अब राज्य ने इस घोषित तिथि में बदलाव कर दिया है। जानकारी के अनुसार राज्य में गेहूं की खरीद तो यथावत घोषित तिथि 15 मार्च से शुरू कर दी जाएगी लेकिन अन्य रबी फसलों जैसे- चना, मसूर व सरसों की खरीद अब 22 मार्च से शुरू की जाएगी। बता दें कि पहले मध्यप्रदेश राज्य में गेहूं के साथ ही चना, मसूर और सरसों की फसलों की खरीददारी की जानी थी।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

तिथि में बदलाव का क्या है कारण?

मीडिया से मिली जानकारी के आधार पर किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि समर्थन मूल्य पर चना, मसूर और सरसों की फसलों का उपार्जन अब 22 मार्च से होगा। पहले इसका उपार्जन 15 मार्च से गेहूं के साथ करने का निर्णय लिया गया था जिसे वर्तमान मौसम की स्थिति को देखते हुए 15 मार्च के स्थान पर 22 मार्च से खरीदी का निर्णय लिया गया है। मंत्री श्री पटेल ने बताया कि हाल ही में हुई बे-मौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण सभी जिला अधिकारियों को फसलों के नुकसान का आंकलन करने व राहत का मसौदा तैयार करने के भी निर्देश दिए हैं।

 

 

वर्ष 2020-21 हेतु चना, मसूर एवं सरसों का समर्थन मूल्य

प्रत्येक वर्ष केंद्र सरकार के द्वारा 23 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किया जाता है। इसमें खरीफ, रबी तथा जायद फसलें शामिल रहती हैं। इस वर्ष रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल इस प्रकार है-

  • गेहूं -1975 रुपए प्रति क्विंटल
  • चना- 5100 रुपए प्रति क्विंटल
  • मसूर- 5100 रुपए प्रति क्विंटल
  • सरसों- 4675 रुपए प्रति क्विंटल

 

किस-राज्य में कब-कब होगी एमएसपी पर रबी फसलों की खरीद

  • हरियाणा में इस वर्ष गेहूं व सरसों की सरकारी खरीद 1 अप्रैल से एवं जौ, चना और दालों की एमएसपी पर खरीद 10 अप्रैल से शुरू की जाएगी।
  • उत्तरप्रदेश में गेहूं की खरीदी 1 अप्रैल से शुरू होगी।
  • राजस्थान के कोटा संभाग में - गेहूं की खरीदी 15 मार्च से शुरू की जानी है।

 

 

एमएसपी पर खरीद को लेकर इन राज्यों की क्या हैं तैयारियां?

उत्तरप्रदेश

  • उत्तर प्रदेश सरकार रबी विपणन वर्ष 2021-22 में न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना (एमएसपी) के तहत किसानों से एक अप्रैल से 15 जून तक सीधे गेहूं की खरीद करेगी। यहां गेहूं की खरीद के लिए खाद्य एवं रसद विभाग की वेबसाइट पर पंजीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। किसान स्वयं अथवा साइबर कैफे व जन-सुविधा केन्द्र के माध्यम से पंजीकरण करा सकते है। इस वर्ष राज्य में खाद्य विभाग व अन्य क्रय एजेंसियों समेत कुल 6000 क्रय केन्द्र प्रस्तावित हैं, जहां किसानों से गेहूं की खरीद होगी। क्रय केंद्र प्रात: नौ बजे से सायं छह बजे तक संचालित रहेंगे।

 

मध्यप्रदेश

  • इस बार प्रदेश में गेहूं की बंपर पैदावार के चलते सरकार फसल की खरीद की तैयारियों को लेकर जुट गई है। सरकार का अनुमान है कि इस बार किसान बड़े पैमाने पर गेहूं की बिक्री करेंगे। इसे देखते हुए गेहूं खरीदी के लिए इस बार पूरे मध्य प्रदेश में 4,529 खरीद केंद्र बनाए जा रहे हैं ताकि किसानों को परेशान न होना पड़े।

 

राजस्थान

  • प्रदेश में किसानों की सुविधा के लिए लगभग 350 खरीद बनाए गए हैं। केंद्र सरकार से प्राप्त निर्देशों के पालन में इस बार होने वाली गेहूं की खरीद के लिए ऑनलाइन सिस्टम उपलब्ध रहेगा। ऑनलाइन सिस्टम के तहत की जाने वाली खरीद के प्रथम चरण के अंतर्गत 12 मार्च से किसानों का पंजीयन कार्य शुरू हो गया है।

 

हरियाणा

  • रबी सीजन की फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदने के लिए हरियाणा सरकार ने मंडी स्तर की सभी तैयारियां कर ली है। खरीद दो चरणों में शुरू होगी। सरकार गेहूं व सरसों की सरकारी खरीद एक अप्रैल से शुरू करेगी। जौ, चना और दालों की एमएसपी पर खरीद 10 अप्रैल से होगी। अगर किसी ट्रांसपोर्टर ने 48 घंटे में मंडी से फसल का उठान नहीं किया तो उस पर जुर्माना लगाया जाएगा।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Mahindra Bolero Maxitruck Plus

Quick Links

scroll to top