कोरोना का असर : सब्सिडी पर कृषि यंत्र के आवेदन निरस्त, अब नए सिरे से होगी प्रक्रिया

कोरोना का असर : सब्सिडी पर कृषि यंत्र के आवेदन निरस्त, अब नए सिरे से होगी प्रक्रिया

Posted On - 29 Jul 2020

स्प्रिंकलर सेट तथा ड्रिप सिस्टम सिंचाई यंत्र के लक्ष्य अभी नहीं किए निरस्त

कोरोना वायरस संक्रमण व बजट की कमी के कारण मध्यप्रदेश में सब्सिडी पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए किसानों से मांगे गए आवेदनों को निरस्त कर दिया गया है। बता दें कि मध्यप्रदेश में किसानों को सब्सिडी पर कृषि यंत्र उपलब्ध करवाने के लिए किसानों से आवेदन मांगे गए थे परन्तु कई जिलों में लॉक डाउन एवं बजट की कमी के चलते जारी की गए कृषि यंत्रों के लक्ष्यों को निरस्त किया गया है। अब दुबारा से इनके लिए आवेदन आगे मांगे जाने की संभावना है, तब तक प्रदेश के किसानों को इंतजार करना होगा। 

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

गौरतलब है कि वित्तीय वर्ष 2020-21 को प्रारंभ हुए 3 माह से भी आधिक हो चुके हैं परन्तु अभी भी बहुत सी योजनाओं का क्रियान्वन सुचारू रूप से शुरू नहीं हो पाया है, इसका मुख्य कारण है कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने हेतु चल रहा लॉक डाउन। लॉक डाउन के कारण जहां बहुत सी पाबंदियां चल रही है वहीं इससे सभी को काफी आर्थिक नुकसान भी हो रहा है। ऐसे में बहुत सी योजनायें अभी तक प्रारंभ नहीं हो पाई है। कुछ योजनाएं राज्य सरकारों के द्वारा शुरू तो की गई हैं परन्तु कई जिलों में दोबारा लॉक डाउन की स्थिति के कारण किसान उसका लाभ नहीं ले पा रहे हैं। 

 

 

इन कृषि यंत्रों पर दी जाने वाली सब्सिडी के आवेदनों किए निरस्त

कोविड-19 की स्थिति के कारण बजट उपलब्धता में कमी को देखते हुए ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर चल रहे कृषि यंत्र स्वचलित रीपर तथा रीपर कम बाईंडर के लक्ष्य जिनके विरूद्ध दिनांक 20-07-2020 से आवेदन चल रहे थे। किसान इन यंत्रों के लिए 30 जुलाई 2020 तक आवेदन किए जाने थे एवं जिनकी लॉटरी दिनांक 05-08-2020 को नियत की गई थी, उन लक्ष्यों को तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया गया है। अत: इन लक्ष्यों के विरूद्ध प्राप्त आवेदनों पर लॉटरी आदि की कोई कार्यवाही नहीं की जाएगी।

इसके अतिरिक्त ऐसे बहुत से कृषि यंत्र जिनके लिए किसान मांग के अनुसार आवेदन कर सकते थे उसे भी बंद कर दिया गया है। केंद्रीय कृषि मंत्री हार्वेस्टर एवं ट्रेक्टर आदि कृषि यंत्रों पर अनुदान हेतु आवेदन सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत कई प्रकार के कृषि यंत्र अनुदान पर दिए जाते हैं, इनमें हार्वेस्टर एवं ट्रेक्टर जैसे कृषि यंत्र भी शामिल है। इन कृषि यंत्रों के लिए भी जिलेवार लक्ष्य निर्धारित कर किसानों से आवेदन मांगे जाते हैं परन्तु इस वर्ष कोविड-19 महामारी के चलते कई जिलों में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है।

ऐसे में सभी किसान समय पर इन कृषि यंत्रों के आवेदन अभी तक नहीं मांगे गए है। बजट की कमी के चलते इस वर्ष हो सकता है लक्ष्यों की संख्या में कमी आगे चल कर किसानों से आवेदन मांगे जा सकते हैं। अर्थात किसानों को ट्रेक्टर, हार्वेस्टर एवं अन्य कृषि यंत्रों के अनुदान हेतु आवेदन के लिए अभी इंतजार करना होगा।

 

 

इन यंत्रों हेतु किए जा सकते हैं आवेदन

स्प्रिंकलर सेट तथा ड्रिप सिस्टम हेतु आवेदन 1 अगस्त से राज्य सरकार द्वारा सिंचाई यंत्रों हेतु ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर वर्ष 2020 -21 हेतु प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत सिंचाई यंत्रों ( स्प्रिंकलर सेट तथा ड्रिप सिस्टम) के जिलेवार लक्ष्य जारी किए जाने का प्रस्ताव है। इन लक्ष्यों के लिए किसान दिनांक 1 अगस्त 2020 से 10 अगस्त 2020 तक पोर्टल पर आवेदन कर सकेंगे। प्राप्त आवेदनों में से लक्ष्यों के विरुद्ध लॉटरी दिनांक 11 अगस्त 2020 को शाम 5 बजे लोटरी सम्पादित की जानी है। अभी तक सिंचाई यंत्रों हेतु आवेदन निरस्त नहीं किए गए हैं।
 

अगर आप अपनी  कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण,  दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।  

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back