• Home
  • News
  • Agriculture News
  • कृषि इनपुट अनुदान योजना 2019-2020 - किसान सब्सिडी योजना

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2019-2020 - किसान सब्सिडी योजना

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2019-2020 - किसान सब्सिडी योजना

खरीफ फसल नुकसान का किसानों को मिलेगा अनुदान

ट्रैक्टर जंक्शन पर किसान भाइयों का एक बार फिर स्वागत है। आज हम बात करते हैं कृषि इनपुट सब्सिडी योजना में अनुदान के रद्द हुए आवेदनों के बारे में। बिहार सरकार ने खरीफ सीजन में बर्बाद फसल का अनुदान देने के लिए साल 2019 में आवेदन मांगे थे। ऑन लाइन आवेदन प्रक्रिया में कई हजार किसानों के आवेदन रद्द हो गए थे। बिहार सरकार ने अब रद्द आवेदनों पर पुनर्विचार के लिए किसानों से 31 मार्च 2020 तक आवेदन मांगे हैं।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

कृषि इनपुट सब्सिडी योजना में मांगे आवेदन

देश के किसानों को हर साल मौसमी प्रकोपों को झेलना पड़ता है। किसानों के लिए वर्ष 2019-20 अच्छा नहीं गया है। कहीं बाढ़ तो कहीं सूखे के कारण किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। जिसके कारण किसानों की खरीफ व रबी की फसल बड़े स्तर पर प्रभावित हुई है। बिहार में भी खरीफ वर्ष 2019 में जहां कई जिले बाढ़ की चपेट में रहे वहीं कई जिलों को सूखे का सामना करना पड़ा। जिससे उनकी खरीफ की फसल बर्बाद हो गई। सरकार द्वारा किसानों को नुकसान की भरपाई के लिए कृषि इनपुट अनुदान योजना चलाई गई, परंतु इस योजना के अंतर्गत बहुत सारे किसानों के आवेदन अलग-अलग कारणों से विभिन्न स्तरों पर रद्द हो गए। अब राज्य सरकार द्वारा किसानों के रद्द किए गए आवेदनों पर विभाग द्वारा पुनर्विचार करने का एक मौका और दिया गया है।

 

 

यह भी पढ़ें : पशुओं से खेत व फसल बचाने के कारगर नुस्खे

 

कृषि इनपुट अनुदान योजना खरीफ 2019-20 की खास बातें

  • बाढ़/अतिवृष्टि से प्रभावित फसलों एवं अल्पवृष्टि के कारण खरीफ 2019 मौसम में पड़ती भूमि वाले किसानों को यह अनुदान 6800 रुपए प्रति हैक्टेयर की दर से दिया जाएगा।
  • यह अनुदान खरीफ मौसम में अल्पवृष्टि के कारण अपने खेत में किसी प्रकार की फसल नहीं लगाने वाले किसानों को देय है।
  • जिन किसानों की फसल बाढ़ या अतिवृष्टि के कारण नष्ट हुई थी उन्हें फसल क्षति के लिए असिंचित फसल क्षेत्र के लिए 6800 रुपए प्रति हेक्टेयर, सिंचित क्षेत्र के लिए 13500 रुपए प्रति हेक्टेयर तथा कृषि योग्य भूमि जहां बालू/सिल्ट का जमाव 3 इंच से अधिक हो, के लिए 12200 रुपए प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान दिया जाएगा। यह अनुदान प्रति किसान अधिकमत 2 हेक्टेयर क्षेत्र के लिए देय होगा।
  • किसानों को इस योजना के अंतर्गत फसल क्षेत्र के लिए न्यूनतम 1000 रुपए का अनुदान दिया जाएगा।

 

कृषि इनपुट अनुदान योजना खरीफ 2019-20 में आवेदन/खरीफ फसल नुकसान अनुदान हेतु पुनर्विचार आवेदन

 

  • खरीफ मौसम में फसल को नुकसान के लिए बिहार सरकार ने पुनर्विचार आवेदन मांगे हैं।
  • आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च 2020 निर्धारित की गई है।
  • किसान इसके लिए कृषि विभाग, बिहार के डी.बी.टी. पोर्टल पर कृषि इनपुट अनुदान योजना, वर्ष 2019-20 हेतु पुनर्विचार के लिए डी.बी.टी. के लिए http://164.100.130.206/fds/fdsreconsider.aspx पर आवेदन कर सकते हैं।
  • यह आवेदन पदाधिकारियों के लॉगिन में सत्यापन के लिए भेजा जाएगा। 
  • जिला कृषि पदाधिकारी के सत्यापन के बाद आवेदन एडीएम स्तर पर भेजा जाएगा।
  • एडीएम स्तर से सत्यापन के बाद आवेदन राज्य स्तर पर आवश्यक कार्रवाई हेतु भेजा जाएगा।
  • यदि आवेदन जिला कृषि पदाधिकारी के स्तर पर रद्द हुआ तो आवेदन पर पुनर्विचार करने के लिए एडीएम स्तर पर भेजा जाएगा।
  • एडीएम स्तर पर सत्यापन के बाद आवेदन राज्य स्तर पर आवश्यक कार्रवाई के लिए भेजा जाएगा।

 

सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

Top Agriculture News

गेंदे की खेती : 1 हेक्टेयर में 15 लाख की आमदनी, जानें, कैसे करें तैयारी

गेंदे की खेती : 1 हेक्टेयर में 15 लाख की आमदनी, जानें, कैसे करें तैयारी

गेंदे की खेती : 1 हेक्टेयर में 15 लाख की आमदनी, जानें, कैसे करें तैयारी (Marigold farming), उन्नत किस्म और कब-कैसे करें रोपाई

प्याज की खेती पर सरकार देगी 12 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर सब्सिडी

प्याज की खेती पर सरकार देगी 12 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर सब्सिडी

प्याज की खेती पर सरकार देगी 12 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर सब्सिडी ( Government will give Subsidy on Onion Cultivation ) प्याज का उत्पादन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार का है ये प्लान

मृदा नमी संकेतक यंत्र : ये यंत्र बताएगा कब करनी है फसल की सिंचाई

मृदा नमी संकेतक यंत्र : ये यंत्र बताएगा कब करनी है फसल की सिंचाई

मृदा नमी संकेतक यंत्र : ये यंत्र बताएगा कब करनी है फसल की सिंचाई ( Soil Moisture Indicator ) इस यंत्र की खासियत और कीमत और इस्तेमाल करने का तरीका

राज किसान जैविक एप : जैविक उत्पाद बेचने में किसानों की मदद करेगा ये एप

राज किसान जैविक एप : जैविक उत्पाद बेचने में किसानों की मदद करेगा ये एप

किसान राज जैविक एप : जैविक उत्पाद बेचने में किसानों की मदद करेगा ये एप (Raj Kisan Jaivik Mobile App), ऑनलाइन तय कर सकेंगे फसल की कीमत, जानें, कैसे होगा रजिस्ट्रेशन

close Icon

Find Your Right Tractor and Implements

New Tractors

Used Tractors

Implements

Certified Dealer Buy Used Tractor