पीएम किसान पैसा वापसी सूची जारी - जानें किन किसानों को पैसा करना पड़ेगा वापस ?

प्रकाशित - 27 Jun 2022

पीएम किसान पैसा वापसी सूची जारी - जानें किन किसानों को पैसा करना पड़ेगा वापस ?

जानें, पीएम सम्मान निधि में किन लोगों को नहीं मिलेगा योजना का लाभ

सरकार की ओर से किसानों की आय बढ़ाने के लिए कई प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही है जिसका उन्हें लाभ मिल रहा है। इन्हीं योजनाओं में से एक योजना पीएम किसान योजना है जिसके तहत पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ किसानों को दिया जाता है। इस योजना के तहत हर साल किसानों को 6 हजार रुपए सीधे उनके खाते में ट्रांसफर किए जाते हैं। इसमें हर चार माह के अंतराल में 2 हजार रुपए की सहायता राशि किसानों को दी जाती है।

Buy Used Tractor

ऐसे में कई किसान जो इस योजना के पात्र नहीं थे उन्होंने भी गलत तरीके से इस योजना का लाभ लेना शुरू कर दिया। लेकिन अब सरकार ऐसे लोगों पर सख्त रूख अपना रही है। सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि जिन लोगों ने इस योजना का गलत तरीके से फायदा उठाया है उन्हें हर हाल में इस योजना से अब तक जितना भी पैसा लिया है उन्हें लौटाना होगा। इतना ही नहीं बिहार राज्य सरकार ने तो ऐसे किसानों की सूची भी वेबसाइट पर डाल दी है। आज हम ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से आपको योजना में अपात्र लोगों की सूची देखने का तरीका बताएंगे ताकि आप यह चेक कर सकें कि आपका नाम तो इसमें नहीं है। इसके अलावा आपको यह भी बताएंगे कि यदि आपका नाम अपात्रों सूची में हैं तो आप किस तरह पैसा सरकार को वापस कर सकते हैं तो आइए जानते हैं पीएम किसान सम्मान निधि की पैसा वसूली सूची और इसे दखने का तरीका।

बिहार सरकार ने वेबसाइट पर अपलोड की अपात्र किसानों की सूची

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बिहार सरकार ने डीबीटी बिहार की अधिकारिक वेबसाइट पर आयकर दाता किसानों की सूची अपलोड की है। बता दें कि पीएम किसान योजना के नियम और शर्तों के मुताबिक आयकर देने वाले किसान इस योजना के पात्र नहीं मानें जाएंगे। ऐसे में जो किसान आयकर के दायरे में आते हैं उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता। ऐसे में बिहार सरकार की ओर से अपात्र किसानों की सूची वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। ये वे किसान हैं जो आयकरदाता है और पीएम किसान योजना के तहत मिलने वाली सम्मान निधि का लाभ गलत तरीके से ले रहे थे। अब इन किसानों से पीएम किसान सम्मान निधि की राशि की वसूली की जाएगी। इसके तहत इन किसानों को अब तक इस योजना से जो लाभ लिया है उसकी सारी राशि सरकार को लौटानी होगी। 

पैसा वापिस नहीं करने पर होगी कार्रवाई

बता दें कि यदि आपका भी नाम अपात्र किसानों की सूची में हैं तो आपको हर हाल में पैसा लौटाना होगा। बिहार डीबीटी की आधिकारिक वेबसाइट पर स्पष्ट रूप से लिख रखा है कि अपात्र किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि की राशि लौटाना अनिवार्य है। साथ ही आयकर दाता किसानों की सूची वेबसाइट पर डाल दी गई है जिसमें आप अपना नाम चेक कर सकते हैं। यदि आपका नाम इस लिस्ट में है तो आपको पैसा हर हाल में लौटाना होगा। यदि आपका नाम इस लिस्ट में नहीं है तो आप आगे भी पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ लेते रहेंगे। इसलिए किसानों को इस सूची में अपना नाम अवश्य देखना चाहिए ताकि उन्हें आगे कोई असुविधा नहीं हो।

पैसा वापसी सूची में कैसे देखेें अपना नाम

यदि आप ये चेक करना चाहते हैं कि कहीं आपका नाम तो अपात्र किसानों की सूची में तो नहीं है। इसे चेक करने के लिए आपको डीबीटी एग्रीकल्चर बिहार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आप पैसा वापसी सूची देख सकेंगे। बता दें कि अभी फिलहाल बिहार सरकार ने ही आयकर दाता किसानों यानि पीएम किसान योजना में शामिल अपात्र किसानों की सूची डाली है। यदि अन्य राज्यों द्वारा पीएम किसान योजना के अपात्र किसानों की सूची डाली जाएगी तो हम आपको इसके बारे में जानकारी जरूर देंगे। अब बात करते हैं कि डीबीटी एग्रीकल्चर बिहार में पैसा वापसी किसानों की सूची की तो आप नीचे दिए गए तरीके से इसे देख सकते हैं और इसमें अपना नाम चेक कर सकते हैं। 

पैसा वापसी सूची में नाम देखने का तरीका

बिहार सरकार की ओर से पीएम किसान योजना के अपात्र किसानों जो सूची आधिकारिक वेबसाइट पर डाली गई है, उसमें नाम देखने के लिए आपको नीचे दिए गए तरीके को अपना होगा।

  • सबसे पहले आपको डीबीटी एग्रीकल्चर बिहार आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/# पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ऊपर हरी पट्टी में आवेदन की स्थिति/आवेदन प्रिंट पर क्लिक करना होगा। 
  • यहां आपको मीनू देखने को मिलेगा। इस मीनू में आपको पीएम किसान आयकर अयोग्य किसान का आप्शन दिखाई देगा। आपको इस आप्शन पर क्लिक करना होगा। 
  • जैसे ही आप इस आप्शन को क्लिक करेंगे आपक सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा। 
  • यहां पर आप दो माध्यमों के द्वारा अयोग्य किसानों की सूची देख सकते हैं। इसमें पहले माध्यम के अंतर्गत आपको अपना जिला, ब्लॉक, पंचायत, बिलेज (गांव) का चयन करना होगा। 
  • दूसरे ऑप्शन में आपको किसान पंजीकरण संख्या या पंजीकृत मोबाइल नंबर दर्ज करके आप नाम चेक कर सकते हैं। 
  • पहले ऑप्शन में आप यहां पर अपना जिला, ब्लॉक, पंचायत और गांव के नाम का चयन करेंगे और सर्च के बटन पर क्लिक करेंगे।
  • ऐसा करने पर अब यहां आपके गांव में जितने भी किसान हैं जिनको पीएम किसान योजना का पैसा लौटाना है उनकी सूची आपके सामने आ जाएगी।
  • अब यहां आपके गांव में जितने भी किसान हैं जिनको पीएम किसान योजना का पैसा लौटाना है उनका नाम खुलकर आ जाएगा।
  • यहां पर आपको किसान रजिस्ट्रेशन नंबर, किसान का नाम, किसान के पिता का नाम, किसान का मोबाइल नंबर , किसान को कितने किस्त मिली और उन्हें कितनी राशि सरकार को वापस करनी है उसकी जानकारी दिख जाएगी।

अपात्र किसान कैसे कर सकते हैं पैसा वापिस

यदि आपका नाम अपात्र या अयोग्य किसानों की सूची में है तो आपको पैसा वापिस करना होगा। इसके लिए आप कृषि समन्वयक/जिला कृषि पदाधिकारी/बैंक शाखा से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा राशि वापस करने के लिए आप https://bharatkosh.gov.in/ पोर्टल का भी उपयोग कर सकते हैं।

इन लोगों को नहीं मिलेगा योजना का लाभ

पीएम किसान योजना की गाइडलाइन के मुताबिक आयकर देने वाला किसान इस योजना का लाभ नहीं ले सकता है। इस योजना के तहत जिन लोगों को इसका लाभ नहीं मिल सकता उनकी सूची इस प्रकार से हैं-

  • वर्तमान, पूर्व मंत्री, वर्तमान, पूर्व सांसद, विधायक, महापौर व जिला प्रमुखों को योजना का फायदा नहीं दिया जाएगा।
  • राज्य सरकार के वेतनभोगी कर्मचारी व पेंशनर्स, बोर्ड, निगमों व सार्वजनिक उपक्रमों में काम करने वाले नियमित कर्मचारी भी इसी श्रेणी में रखे गए हैं, जबकि मल्टी टास्क स्टॉफ, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी व गु्रप डी के सरकारी कर्मचारियों को योजना का लाभ मिलेगा।
  • इनके साथ ही डॉक्टर, इंजीनियर, चार्टेड अकाउंटेंट व आर्किटेक्ट भी योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं।

पीएम किसान योजना से संबंधित प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 1. पीएम किसान योजना किन किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गई है?
उत्तर: पीएम किसान योजना विशेषकर छोटे और सीमांत किसानों के लिए चलाई गई है।

Buy Used Tractor

प्रश्न 2. इस योजना में हर साल किसान को कितनी सहायता दी जाती है?
उत्तर: इस योजना में 6000 रुपए की सहायता दी जाती है जो हर चाह माह के अंतराल में 2-2 हजार की तीन किस्तों में दी जाती है।

प्रश्न 3. इस योजना में मुख्य रूप से कौनसे किसान अपात्र माने गए हैं?
उत्तर: इस योजना में वे किसान अपात्र मानें गए हैं जो आयकर देते हैं।

प्रश्न 4. यदि किसी ने इस योजना के तहत गलत तरीके से इस योजना का फायदा लिया है तो क्या होगा?
उत्तर: यदि किसी ने गलत तरीके से इस योजना फायदा लिया है तो उसे इस योजना में मिली अब तक की राशि को सरकार को लौटाना होगा।

प्रश्न 5. मैं कैसे चेक करूं की मेरा नाम अपात्र किसानों की सूची में शामिल है?
उत्तर: यदि आप बिहार से हैं तो आप बिहार सरकार की आधिकारिक वेबसाइट  https://dbtagriculture.bihar.gov.in/# पर जाकर अपना नाम देख सकते हैं।

प्रश्न 6. यदि मेरा नाम अपात्र किसानों की सूची में है तो मैं कैसे पैसा वापिस कर सकता हूं? 
उत्तर: यदि आपका नाम भी अपात्र किसानों की सूची में हैं तो इसके लिए आप कृषि समन्वयक/जिला कृषि पदाधिकारी/बैंक शाखा से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा राशि वापस करने के लिए आप https://bharatkosh.gov.in/ पोर्टल का भी उपयोग कर सकते हैं।

 

ट्रैक्टर जंक्शन हमेशा आपको अपडेट रखता है। इसके लिए ट्रैक्टरों के नये मॉडलों और उनके कृषि उपयोग के बारे में एग्रीकल्चर खबरें प्रकाशित की जाती हैं। प्रमुख ट्रैक्टर कंपनियों महिंद्रा ट्रैक्टरन्यू हॉलैंड ट्रैक्टर आदि की मासिक सेल्स रिपोर्ट भी हम प्रकाशित करते हैं जिसमें ट्रैक्टरों की थोक व खुदरा बिक्री की विस्तृत जानकारी दी जाती है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

अगर आप नए ट्रैक्टरपुराने ट्रैक्टरकृषि उपकरण बेचने या खरीदने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार और विक्रेता आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु को ट्रैक्टर जंक्शन के साथ शेयर करें।

हमसे शीघ्र जुड़ें

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back