मौसम अलर्ट : होली से पहले एक बार फिर करवट लेगा मौसम

मौसम अलर्ट : होली से पहले एक बार फिर करवट लेगा मौसम

Posted On - 23 Mar 2021

जानें, किन राज्यों में हो सकती है बारिश और ओलावृष्टि और आगे क्या रहेगा मौसम का हाल?

होली से पहले एक बार फिर मौसम करवट ले सकता है। इससे देश के कई राज्यों में आंधी, बारिश व ओलावृष्टि की संभावना है। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार होली से पहले पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश तथा महाराष्ट्र में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि होने की संभावना है। वहीं पहाड़ों पर भारी बर्फबारी के साथ तेज बारिश और ओलावृष्टि की आशंका भी जताई जा रही है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

मौसम बदलने का क्या है कारण?

पाकिस्तान के पास बने पश्चिमी विक्षोभ और राजस्थान पर कम दबाव के क्षेत्र के चलते उत्तर प्रदेश में होली से ठीक पहले मौसम एक बार बदल सकता है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक पाकिस्तान के पास पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है, वहीं राजस्थान पर कम दबाव का क्षेत्र है। इन्हीं दोनों सिस्टम के कारण मौसम में बदलाव आने के आसार हैं।

 

 

इन राज्यों में हो सकती है तेज बारिश और ओलावृष्टि

इन दोनों सिस्टम की वजह से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश तथा महाराष्ट्र में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि होने की संभावना है। वहीं पहाड़ों पर भारी बर्फबारी के साथ तेज बारिश और ओलावृष्टि की आशंका भी जताई जा रही है।

 

मध्यप्रदेश : गरज-चमक के साथ हो सकती है बारिश

अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से लगातार आ रही नमी के कारण गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पडऩे की संभावना बनी हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक पिछले 24 घंटों के दौरान भिंड में दो और बेगमगंज में एक सेंटीमीटर बारिश दर्ज हुई। मंगलवार को प्रदेश में सबसे कम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस मंडला में दर्ज किया गया। भोपाल में न्यूनतम तापमान 20.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। अगले 24 घंटों के दौरान भोपाल, होशंगाबाद, जबलपुर, ग्वालियर, चंबल संभाग के जिलों में कहीं-कहीं और खंडवा, खरगोन जिले में गरज-चमक के साथ बरसात होने की संभावना बनी हुई है। इस दौरान आकाशीय बिजली गिरने के साथ ही ओलावृष्टि की भी आशंका बनी हुई है।

 

 

हरियाणा : बारिश से मौसम हुआ सर्द, इन इलाकों में हो सकती है बूंदाबांदी

मौसम में परिवर्तन के कारण पिछले दो तीन दिनों से जोरदार बारिश और ओलावृष्टि देखने को मिल रही है। इससे यहां मौसम सर्द हो गया है। मौसम में यह परिवर्तन पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के चलते हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के चलते राजस्थान के पास एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना जिससे बारिश आई। बुधवार तक इसी तरह का मौसम बना रहेगा। कभी धूप निकल आती है तो कभी आसमान में बादल गरजने लगते हैं। तो कभी बारिश आने लगती है। दादरी में तो आसमानी बिजली गिरने से एक श्रमिक की मौत भी हो गई। विभाग के अनुसार हरियाणा के यमुना नगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल, फतेहाबाद, बरवाला, जींद, आदमपुर, हिसार, हांसी, महम, तोषामस भिवानी, लोहारु और नारनौल में बारिश के आसार हैं तो उत्तर प्रदेश के देवबंद, मुज्ज्फरनगर और शामली में भी बूंदाबांदी हो सकती है।

 

राजस्थान : इन जिलों में धूल भरी आंधी और बारिश

पिछले 24 घंटों में राजस्थान के कुछ भागों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश दर्ज की गई है। पूर्वी राजस्थान में सर्वाधिक बारिश पावटा उदयपुर में 14 मिमी जबकि पश्चिमी राजस्थान के खाजूवाला में 5 एमएम बारिश दर्ज की गई है। श्रीगंगानगर में 59, जैसलमेर में 36 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी जबकि धौलपुर में 65, अलवर में 60, बाड़मेर में 40, भरतपुर में 55, धौलपुर में 65, जयपुर में 46 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं या आंधी दर्ज की गई है। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार जयपुर, भरतपुर, शेखावाटी क्षेत्र व बीकानेर, अजमेर, उदयपुर तथा कोटा संभाग के जिलों में कहीं-कहीं अचानक तेज धूल भरी आंधी या तेज हवाएं चल सकती हैं। कहीं कहीं ओलावृष्टि होने की संभावना भी है। आने वाले दिन में राज्य में मौसम शुष्क रहेगा उत्तरी हवाओं के प्रभावी होने से तापमान में दो से 3 डिग्री सेल्सियस की कमी होने की संभावना है।

 

उत्तरप्रदेश : कई जिलों में बारिश के साथ पड़ सकते हैं ओले

मौसम विभाग ने ताजा अलर्ट जारी करते हुए पश्चिमी यूपी के कई जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश के साथ ही चार से पांच जिलों में ओले गिरने का अलर्ट भी जारी किया है। ताजा अनुमान के मुताबिक, बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर और बिजनौर में 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है। इन जिलों में हवा के झोंकों के साथ बारिश और ओले गिरने की भी संभावना जाहिर की गई है। अनुमान के मुताबिक, पश्चिमी यूपी के और भी कई जिले इसकी चपेट में आ सकते हैं, जबकि पूर्वी यूपी के कुछ ही जिलों में बदले मौसम का असर देखने को मिलेगा। इसके बाद पूरे प्रदेश में मौसम के फिर से साफ होने की संभावना जताई गई है।

 

आगे क्या रहेगा मौसम का हाल

वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान और उससे लगे पाकिस्तान पर बना हुआ है। इसके प्रभाव से एक प्रेरित चक्रवात उत्तर-पश्चिम राजस्थान पर बना हुआ है। साथ ही दक्षिणी मध्य प्रदेश पर बना ऊपरी हवा का चक्रवात अब विदर्भ और उससे लगे छत्तीसगढ़ पर सक्रिय हो गया है। इन तीन वेदर सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से मध्य प्रदेश के वातावरण में नमी आ रही है। इससे बादल छाए हुए हैं और गरज-चमक के साथ बरसात हो रही है। बुधवार से ये वेदर सिस्टम कमजोर पडऩे लगेंगे। इससे 25 मार्च से मौसम साफ होने लगेगा। बादल छंटने के कारण धूप में तल्खी बढऩे लगेगी। साथ ही दिन के तापमान में बढ़ोतरी होने लगेगी। उधर हवा का रुख उत्तरी होने से रात के तापमान में गिरावट होने लगेगी।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back