मौसम अलर्ट : जानें, कहां-कहां होगी बारिश और आगे कैसा रहेगा मौसम का मिजाज

मौसम अलर्ट : जानें, कहां-कहां होगी बारिश और आगे कैसा रहेगा मौसम का मिजाज

Posted On - 26 Jul 2021

राजस्थान के 20 जिलों में होगी बारिश, मध्यप्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट जारी

मौसम विभाग की ओर से राजस्थान के 20 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं मध्यप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटों के दौरान राजस्थान के कई जिलों में भारी बारिश की संभावना है। जयपुर और कोटा संभाग में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं मंगलवार को भरतपुर और धौलपुर जिलों में एक दो स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है, जबकि झालावाड़, कोटा, बारां, बूंदी, सवाई माधोपुर, अलवर, झुंझुनू, जयपुर जिलें में मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना है। 28 व 29 जुलाई के लिए मौसम विभाग ने कोई चेतावनी जारी नहीं की है। ऐसे में माना जा रहा है कि मानसून कुछ दिनों तक कमजोर पड़ सकता है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 


शेखावाटी में होगी अच्छी बारिश

मौसम केंद्र जयपुर के निदेशक आर.एस. शर्मा के अनुसार सोमवार को जयपुर व कोटा संभाग के साथ-साथ शेखावाटी में अच्छी बारिश दर्ज की जाएगी। इसके अलावा उदयपुर संभाग में भी मध्यम दर्जे की बारिश होगी। जोधपुर संभाग में पाली और आसपास के इलाकों में अच्छी बारिश हो रही है। शर्मा ने बताया कि 28 से 31 जुलाई तक मानसून की कमजोर पड़ सकता है। इस अवधि में अभी तक भारी बारिश का अलर्ट नहीं है। हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना है।


इन जिलों में हुई झमाझम

राजस्थान के कुछ जिलों में अच्छी बारिश हो रही है और कुछ में यह इंतजार बढ़ता जा रहा है। कुछ जिलों का तापमान 40 डिग्री के आसपास बना हुआ है। अभी तक इस मानसून सामान्य से 22 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है। बीते 24 घंटे में झालावाड़ के गागरेन में 250, झालावाड़ के डग में 140, झालावाड़ के पिड़वा में 119, झालावाड़ के पचपहर में 114, झालावाड़ के राजगढ में 111, पाली के मारवाड़ जंक्शन में 205, पाली के बनियावास में 136, पाली के सरदारसमंद में 117, प्रतापगढ के अरनोद में 141, प्रतापगढ के पीपलकुंठ में 133, प्रतापगढ में 120, राजसमंद के देवगढ में 171, माउंटआबू में 96, उदयपुर के जयसमंद में 123, उदयपुर के भिंडर में 107, बांसवाड़ा के भूंगड़ा में 175, बांसवाड़ा के दानपुर में 163, बांसवाड़ा के अरथुना में 160, बांसवाड़ा के माही डेम में 153, बांसवाड़ा के ग्राही में 150, बांसवाड़ा में 138, बांसवाड़ा के घाटोल में 114, बांसवाड़ा के बागीडोरा में 106, बांसवाड़ा के शेरगढ में 96, बांसवाड़ा के सज्जनगढ़ में 93, भीलवाड़ा के मांडल में 102, भीलवाड़ा के जेतपुरा में 84, भीलवाड़ा के ग्यानगढ़ में 82, भीलवाड़ा के कोटड़ी में 80, भीलवाड़ा के मेजा डेम में 78, चित्तौड़ के कपासन में 177, चित्तौड़ के 156, चित्तौड़ के भड़ेसर में 76, डूंगरपुर के निथुवा में 73, डूंगरपुर के गलियाकोट में 72, डूंगरपुर के सागवाड़ा में 69, डूंगरपुर के वेंजा में 66 एमएम बारिश दर्ज की गई।


मध्यप्रदेश के इन जिलों के लिए जारी किया भारी बाारिश का अलर्ट

मौसम विभाग की माने तो मध्यप्रदेश के उत्तर- मध्य क्षेत्र में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसी तरह दक्षिण-पश्चिम राजस्थान में भी चक्रवात बन रहा हैं इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक अन्य कब दबाव का क्षेत्र बन रहा है। जिसके 28 जुलाई तक सक्रिय होने की संभावना है। एक साथ बन रहे कब दबाव के क्षेत्र से आने वाले दिनों में जबलपुर सहित समूचे मध्यप्रदेश में जोरदार बारिश के संकेत मिल रहे हैं। मौसम विभाग के इस अनुमान से यह साफ हो गया है कि जल्द ही सावन की झड़ी से शहर तरबतर होने वाला है। मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के रायसेन, राजगढ़, विदिशा, शाजापुर, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी, श्योपुर, नरसिंहपुर और टीकमगढ़ जिलों में भारी वर्षा का अलर्ट जारी किया गया है लेकिन भारी वर्षा पूरे जिले में नहीं बल्कि कहीं-कहीं पर होने की संभावना जताई गई है।


उत्तरप्रदेश के लिए मौसम अनुमान

मौसम विभाग का ताजा अनुमान ये भी बताता है कि 27 जुलाई से पूरे प्रदेश में बारिश का माहौल बन रहा है। लगभग सभी जिलों में बारिश का अनुमान है। अभी तक के अनुमान के मुताबिक ये सिलसिला 30 जुलाई तक जारी रहेगा। यानी गर्मी और उमस से लोगों को अगले कई दिनों तक राहत मिलती रहेगी। हालांकि पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के किसी भी जिले में बारिश रिकार्ड नहीं की गई। सिर्फ निज़ामाबाद और प्रयागराज में हल्की फुल्की ही बारिश हुई। अब ये संकट दूर होने की उम्मीद जगी है। प्रदेश में तापमान की स्थिति की बात करें तो प्रदेश के सभी जिलों में दिन का अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास ही दर्ज किया गया है। गर्मी तो ज्यादा नहीं हो रही है लेकिन, उमस से लोगों को काफी परेशानी उड़ानी पड़ रही है। आंचलिक मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता की मानें तो सोमवार को बादलों की आवाजाही रहने के साथ कुछ इलाकों में हल्की बारिश या बौछारें पड़ सकती हैं। वहीं प्रदेश में कुछ जिलों में तूफान और भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की गई है।  

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top