मौसम अलर्ट : इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश की संभावना

Published - 05 Jul 2021

मौसम अलर्ट : इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश की संभावना

मौसम अलर्ट जानें, किसानों के लिए विशेष सलाह और आगे कैसा रहेगा मौसम का हाल

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान देश के कई राज्यों कहीं हल्की तो कही भारी बारिश तक होने की संभावना जताई है। इसे लेकर विभाग की ओर से कई जगहों के लिए अलर्ट भी जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर से दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के साथ आर्द्रता में बढ़ोतरी होने के कारण अगले पांच दिनों के दौरान मौसम असुविधाजनक बना रहेगा। पिछले दो दिन में दिल्ली समेत कई जगहों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से पार चला गया था। जिस वजह से लोगों को तेज गर्मी के साथ उमस का सामना भी करना पड़ा लेकिन हल्की बारिश और तेज हवाओं ने यहां के लोगों को राहत पहुंचाई है। उत्तरी बिहार में कुछ जगहों पर बड़ी तेज बारिश दर्ज की गई है जबकि सूबे के अधिकांश भाग में पिछले 24 घंटे में हल्की बारिश से मध्यम बारिश हुई है। सांख्यिकीय गणना और उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों के आधार पर मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से बताया गया है कि अब तक राज्य के उत्तर बिहार की ओर बारिश की स्थिति मजबूत थी। अब राज्य के शेष भाग में भी बारिश और वज्रपात की परिस्थितियां बन रही हैं। इसे देखते हुए अगले 48 घंटे में राज्य के सभी जिलों के लिए बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं दूसरी ओर दक्षिण पश्चिम बिहार और उत्तर बिहार के कुछ जिलों में बारिश और वज्रपात की तीव्रता ज्यादा रहेगी। इसलिए 10 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Buy Kubota MU4501 4WD

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 


यहां हो सकती है भारी बारिश से लेकर हल्की बारिश

अगले 24 घंटे के दौरान बिहार, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, ओडिशा, असम, मेघालय, पूर्वी यूपी और तमिलनाडु में भारी बारिश से लेकर हल्की बारिश होने की आशंका है। 


5 जुलाई को इन राज्यों में हो सकती है बारिश

5 जुलाई 2021 का मौसम हाल पर एक नजर डालें तो बिहार, पूवी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, असम, आंध्र प्रदेश, सिक्किम, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कर्नाटक में भारी बारिश से हल्की और मध्यम बारिश का अनुमान लगाया जा रहा है।


8 जुलाई को इन राज्यों में आंधी, तूफान व बारिश की संभावना

मौसम विभाग ने एक और ताजा अपडेट जारी किया है, जिसमें कुछ राज्यों में मध्यम से तेज आंधी चलने के साथ ही 8 जुलाई तक भारी से लेकर बहुत भारी बारिश होने की भविष्यवाणी की गई है। गौरतलब है कि इससे पहले मौसम विभाग ने 7 और 8 जुलाई के लिए कर्नाटक में येलो अलर्ट जारी किया था। लेकिन, बाद में जो अपडेट किया गया है, वह बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के लिए इसलिए अहम है, क्योंकि इसमें भारी बारिश और आंधी-तूफान के अलावा आसमानी बिजली गिरने की भी आशंका जताई गई है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे तक लोगों को आसमानी बिजली से सावधान रहने को कहा है। 


अगले पांच दिनों इन राज्यों में हो सकती है अति भारी बारिश

अगले पांच दिनों तक जिन राज्यों में भारी से बहुत ज्यादा भारी बारिश होने की संभावना आईएमडी की ओर से जताई गई है, उनमें बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा शामिल हैं। मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी के मुताबिक बिहार में 4-5 और 6 जुलाई को अलग-अलग जगहों पर तेज आंधी और भारी बारिश होने का अनुमान है। 


अन्य राज्यों के लिए मौसम विभाग का अपडेट

मौसम विभाग के अनुसार अन्य राज्यों के लिए भी अपडेट अलर्ट जारी किया गया है जिनमें ओडिशा और पश्चिम बंगाल के गंगा के मैदानी इलाकों में 4-7 और 8 जुलाई को, झारखंड और छत्तीसगढ़ में 7 और 8 जुलाई को, अरुणाचल प्रदेश में 4 और 6 जुलाई को, असम और मेघालय में 5 और 7 जुलाई को और पश्चिम बंगाल के उप-हिमालय क्षेत्र और सिक्किम में 4-6 और 8 जुलाई को भारी बारिश का अनुमान जताया है। इसके अलावा भारतीय मौसम विभाग ने बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में अगले 24 घंटों के दौरान मध्यम से तेज रफ्तार के साथ आंधी चलने और बादलों से लगातार आसमानी बिजली गिरने की भी आशंका जताई है। आईएमडी ने कहा है कि इसके चलते घरों से बार निकलने वाले लोगों और जानवरों को नुकसान पहुंच सकता है। 

उत्तर और दक्षिण कर्नाटक के लिए येलो अलर्ट जारी

एक अलग अपडेट में आईएमडी के अधिकारी सीएस पाटिल ने मीडिया को जानकारी दी है कि 5 जुलाई से कर्नाटक में ज्यादा बारिश हो सकती है। इसके चरते 7-8 जुलाई के लिए उत्तर और दक्षिण कर्नाटक में येलो अलर्ट जारी किया गया है। अगले दो दिनों में बेंगलुरु में बारिश हो सकती है और तेज आंधी भी चल सकती है।


राजस्थान में 10 जुलाई से शुरू होगी मानसूनी गतिविधियां

  • मानसून की उतरी सीमा आज भी बाड़मेर, भीलवाड़ा व धोलपुर से गुजर रही है, यानि पिछले 16 दिनों से स्थिर है। दिनांक 10 जुलाई से पूर्वी राजस्थान में बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होने की संभावना है। 10 जुलाई को पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में मानसून के आगे बढऩे के लिए परिस्थितियां अनुकूल है।
  • पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग के जिलो में आंधी बारिश की संभावना है। जबकि अगले दो-तीन दिन विशेष बारिश की संभावना नहीं है।
  • पूर्वी राजस्थान के कोटा, उदयपुर, जयपुर, अजमेर और भरतपुर संभाग की जिलों में भी बारिश की संभावना है। 6 से 9 जुलाई के दौरान पूर्वी राजस्थान में छुटपुट स्थानों पर बारिश होने की संभावना है। 10 जुलाई से पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी।


सलाह : अभी 10 जुलाई तक न करें खरीफ की बोवनी

मध्य प्रदेश में वर्तमान में कोई सिस्टम एक्टिव न होने के चलते बारिश का दौर थम गया है, लेकिन 4-5 दिन बाद एक बार फिर मानसून के सक्रिय होने की संभावना है, इसके बाद पूरे प्रदेश में झमाझम का दौर शुरु हो जाएगा। मौसम विभाग के मुताबिक, वर्तमान में कोई सिस्टम सक्रिय नहीं है, लेकिन 4-5 दिनों बाद मध्य प्रदेश में मानसून के फिर सक्रिय होने के संकेत मिल रहे है, जिसके बाद 8-9 जुलाई से बारिश का सिलसिला दोबारा से शुरू होने के आसार हैं। विभाग ने किसान को भी सलाह दी है कि खरीफ फसल की बोवनी अभी 10 जुलाई तक न करें। वहीं 11-12 जुलाई को बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के संकेत मिले है। जिसके प्रभाव से जुलाई के दूसरे सप्ताह में प्रदेश में अच्छी बरसात होने की उम्मीद है।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back