चक्रवाती तूफान यास का असर : बिहार, उत्तरप्रदेश में बारिश की संभावना

चक्रवाती तूफान यास का असर : बिहार, उत्तरप्रदेश में बारिश की संभावना

Posted On - 29 May 2021

राजस्थान में चलेगी लू, केरल में मानसून की दस्तक 30-31 मई को संभव

देश के कई हिस्सों में चक्रवाती तूफान यास के कारण मौसम में अचानक बदलाव हुआ है। मौसम विभाग ने बिहार व पूर्वी उत्तरप्रदेश सहित कई राज्यों में मध्यम से भारी बारिश की संभावना जताई है। वहीं राजस्थान में अभी लू चलने का दौर जारी रहेगा। मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून के आगमन के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं। केरल में 30-31 मई तक मॉनसून दस्तक दे सकता है।

Buy Kubota MU4501 4WD

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


मौसम अलर्ट : अगले 24 घंटे में इन स्थानों पर भारी बारिश की संभावना 

मौसम विभाग ने आने वाले 24 घंटों के दौरान बिहार और उत्तर पूर्वी उत्तर प्रदेश में मध्यम से भारी बारिश हो होने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर प्रदेश के मध्य भागों में, उत्तर पूर्व भारत 12 स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। साथ ही राजस्थान के कुछ स्थानों पर लू जारी रहने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के मध्य भागों में, उत्तर पूर्व भारत, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप, तेलंगाना के कुछ हिस्सों और दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है। दक्षिण कोंकण और गोवा, कर्नाटक, रायलसीमा और जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में एक-दो स्थानों पर हल्की से बहुत हल्की बारिश होने की संभावना है। 


पिछले 24 घंटों के दौरान कई जगह बारिश

देश के कई भागों में पिछले 24 घंटे के दौरान बारिश भी हुई है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान, पश्चिम बंगाल और बिहार में मध्यम से भारी बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर बहुत भारी बारिश हुई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और झारखंड में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर भारी बारिश हुई है। छत्तीसगढ़, ओडिशा, केरल, लक्षद्वीप, तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों और दक्षिणपूर्व राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश हुई। मध्य महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों, तेलंगाना, मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों, कोंकण और गोवा, उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों  में हल्की बारिश हुई।


भागलपुर में बारिश ने तोड़ा 15 साल का रिकॉर्ड

चक्रवाती तूफान "यास" की वजह से भागलपुर में जोरदार बारिश हुई है। बारिश ने इस बार पिछले 15 सालों का रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिया है जिस वजह से अधिकतम तापमान सामान्य से 12 डिग्री सेल्सियस गिरकर 27 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे चला गया है। एक दिन में 40 मिलीमीटर बारिश का भी रिकॉर्ड टूट गया है। वहीं बिहार में चक्रवाती तूफान "यास" के प्रभाव के चलते पिछले दो दिन से बारिश का सिलसिला जारी है बारिश की वजह से कई जिलों में नदियों का जलस्तर बढ़ गया है।


केरल में मानसून के आगमन की परिस्थितियां अनुकूल

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून दक्षिण पूर्व और पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के अधिकांश हिस्सों में आगे बढ़ गया है. मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून के आगमन के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं। केरल में 30-31 मई तक मॉनसून दस्तक दे सकता है। गहरा निम्न दबाव का क्षेत्र, बहुत गंभीर चक्रवात यास के अवशेष के रूप में, उत्तर पश्चिम दिशा में चला गया है और पूर्वी उत्तर प्रदेश पर एक निम्न दबाव क्षेत्र के रूप में स्थित है। ताजा पश्चिमी विक्षोभ पश्चिम अफगानिस्तान और आसपास के क्षेत्र पर बना हुआ है।


दिल्ली में आंशिक बादल लेकिन गर्मी से राहत नहीं

मौसम विभाग की ओर से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आसमान में बादलों की आवाजाही के बीच तेज हवाएं चलने की संभावना जताई गई है लेकिन गर्मी से राहत की उम्मीद नहीं है। दिल्ली का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के एक्टिव होने की वजह से 31 मई और 01 जून को राजधानी में हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना है।


बारिश का असर : झारखंड विधानसभा के नए भवन में फॉल सीलिंग गिरी

चक्रवाती तूफान यास का असर पुल के बाद अब झारखंड विधानसभा भवन पर भी दिखाई दिया है भवन दो दिन की बारिश भी ठीक से झेल नहीं पाया है। भवन के फर्स्ट फ्लोर के पश्चिमी हिस्से के कॉरिडोर की सीलिंग गुरुवार की रात गिर गई। अगर सामान्य दिनों की तरह कामकाज चलता तो बड़ी घटना हो सकती थी। आपको बता दें कि विधानसभा का नया भवन 465 करोड़ की राशि में बना है। 39 एकड़ में फैले इस नये विधानसभा परिसर का उदघाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। विधानसभा के सचिव महेंद्र प्रसाद ने भवन निर्माण विभाग को पत्र भेज कर सीलिंग की मरम्मत कराने के साथ-साथ पूरे भवन में जलजमाव व फॉल्स सीलिंग की स्थिति का जायजा लेने का आग्रह किया है।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back