सर्दी का असर : अगले 5 दिन शीतलहर, पाला व कोहरे की संभावना

सर्दी का असर : अगले 5 दिन शीतलहर, पाला व कोहरे की संभावना

Posted On - 30 Dec 2020

दिल्ली में नए साल के लिए यलो अलर्ट जारी

इस समय देश के विभिन्न राज्यों में सर्दी का प्रकोप निरंतर बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि कई इलाकों में दोपहर में अच्छी धूप खिलने से सर्दी से राहत मिल रही है। लेकिन फिर शाम पड़ते ही जल्दी अंधेरा होने के साथ ही सर्दी अपना रंग दिखाना शुरू कर देती है। ठंडी हवाओं के साथ ही सर्दी का असर भी बढऩा शुरू हो जाता है। मौसम विभाग के अनुसार जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंड़ीगढ़, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई इलाके घने कोहरे की चपेट में हैं। इन राज्यों में अगले 5 दिन यही हाल रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक देश के उत्तर-पश्चिमी इलाकों आने वाले दिनों में मिनिमम तापमान 3-5 डिग्री गिर सकता है। उधर, कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी हो रही है। हिमाचल में सडक़ों पर बर्फ की मोटी परत जमी है, इसके चलते 330 सडक़े बंद हैं। 

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रैक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


देश के विभिन्न भागों में बन रहे मौसमी सिस्टम

निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट के अनुसार इस समय पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर से आगे पूर्वी दिशा में चला गया है। इस समय उत्तर भारत के पहाड़ों पर कोई मौसमी सिस्टम नहीं है। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से मैदानी इलाकों पर बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र भी निष्प्रभावी हो गया है। जिससे ठंडी उत्तर और उत्तर-पश्चिमी हवाएं मैदानी राज्यों पर पहुंच रही हैं। ओडिशा और इससे सटे भागों पर एक विपरीत चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दिखाई दे रहा है। वहीं बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिमी भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। जिसके चलते दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत पर उत्तर-पूर्वी मॉनसून सक्रिय हो गया है। 

 


पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल

  • पिछले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी हिमालयी राज्यों में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी दर्ज की गई।
  • तमिलनाडु और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के भी कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा की गतिविधियां दर्ज की गईं।
  • पंजाब के कुछ हिस्सों, पूर्वी उत्तर प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर भारत में कुछ स्थानों पर घना कोहरा छाया रहा।
  • पंजाब, हरियाणा, दिल्ली के कुछ हिस्सों, राजस्थान, गुजरात और पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में शीतलहर का प्रकोप फिर से शुरू हो गया है।
  • पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ इलाकों में पाले की घटनाएं देखने को मिलीं क्योंकि इन भागों में न्यूनतम तापमान शून्य के काफी करीब पहुंच गया।

 

यह भी पढ़ें : नए साल में प्याज कराएगी मोटी कमाई, सरकार ने निर्यात से रोक हटाई

 

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि

  • अगले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु में हल्की से मध्यम बारिश होने और गरज के साथ बौछारें गिरने की संभावना है। राज्य में बारिश की गतिविधियां बढ़ेगी।
  • अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह, तटीय कर्नाटक, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक और केरल में भी कुछ स्थानों पर वर्षा होने की संभावना है।
  • पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तरी मध्य प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात के कई हिस्सों में शीतलहर और पाला पडऩे की संभावना है।
  • पंजाब, हरियाणा, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिमी बंगाल के कुछ इलाकों में मध्यम से घना कोहरा छाए रहने के आसार हैं।


देश के विभिन्न राज्यों सर्दी का असर

राजस्थान - (5 शहरों का तापमान माइनस पहुंचा)

मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में ठंड तेजी से बढ़ रही है। प्रदेश के 5 शहरों में तापमान माइनस में चला गया। इस सीजन में पहली बार ऐसा हुआ है। माउंट आबू में सीजन का सबसे कम टेम्परेचर माइनस (-) 4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। फतेहपुर में माइनस 3.2, जोबनेर में माइनस 1.8, सीकर में माइनस 0.5 और चूरू में माइनस 0.4 डिग्री टेम्परेचर रहा। इनके अलावा 12 शहर ऐसे हैं, जहां टेम्परेचर 5 डिग्री से कम है। 7 शहरों में टेम्परेचर 1 डिग्री से नीचे पहुंच गया। राजधानी जयपुर में भी सीजन की सबसे सर्द रात रही और पारा पहली बार 5.6 डिग्री दर्ज किया गया। 6 शहरों को छोड़ सभी जगह तापमान पांच डिग्री से नीचे रिकॉर्ड हुआ। मौसम विभाग के मुताबिक अभी पारा और गिरेगा।

 

हिमाचल -  ( 7 शहरों का मिनिमम तापमान जमाव बिंदु पर )

बर्फबारी के बाद हिमाचल प्रदेश पूरी तरह से शीतलहर की चपेट में है। 7 शहरों का मिनिमम टेम्परेचर जमाव बिंदु और उससे नीचे चला गया है। नाहन को छोड़ सभी शहरों का मिनिमम टेम्परेचर एक और दो डिग्री के करीब है। सोलन और भुंतर की रातें शिमला से भी ज्यादा ठंडी हो गई हैं। यहां पारा माइनस एक डिग्री रिकॉर्ड किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के मैदानी इलाकों में अभी शीतलहर चलेगी। अगले पांच दिनों तक सभी जगह मौसम खराब रहने का अनुमान है।

 

मध्यप्रदेश - ( प्रदेश के 70 प्रतिशत इलाकों में कड़ाके की ठंड )

शीतलहर का असर मध्य प्रदेश में दिख रहा है। प्रदेश के 70 प्रतिशत इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। भोपाल समेत 17 जिलों में रात का तापमान 8 डिग्री से नीचे पहुंच गया। राजधानी में दिन का तापमान भी सामान्य से 6 डिग्री नीचे 19.3 डिग्री पर पहुंच गया। यह कोल्ड-डे रहा। उज्जैन समेत 5 अन्य जिलों में भी कोल्ड-डे रहा। इंदौर और धार में सीवियर कोल्ड-डे रहा। इसे देखते हुए आगे भोपाल, ग्वालियर-चंबल संभागों, उज्जैन, टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, शाजापुर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, राजगढ़, सीहोर, रायसेन, इंदौर और धार जिलों में शीतलहर चलने का अनुमान है।

 

दिल्ली - ( नए साल के लिए यलो अलर्ट जारी )

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि आगे दिल्ली समेत उत्तर-पश्चिमी भारत में न्यूनतम तापमान 3 से 5 डिग्री सेल्सियस गिर सकता है। साल के आखिरी दिन शीतलहर को लेकर ऑरेंज और नए साल के लिए यलो अलर्ट जारी किया है।

 

हरियाणा - ( प्रदेश के कई जिलों में पाला, शीतलहर तेज )

हरियाणा के कई जिलों में पाला, शीतलहर तेज हो गई है। हरियाणा के करीब सभी जिलों में रात का तापमान करीब 4 डिग्री या इससे कम ही रहा। सबसे कम तापमान हिसार 0 डिग्री पर पहुंच गया। यह सामान्य से 7 डिग्री कम है। पिछले साल इसी सीजन में पारा 0.2 डिग्री रहा था। 2018 में यह माइनस 1 डिग्री था।

 

गुजरात - ( सर्दी का सितम जारी है, रात का तापमान 2.8 डिग्री गिरा )

गुजरात में भी सर्दी का सितम जारी है। गुजरात में रात का तापमान 2.8 डिग्री गिर गया है। दिनभर ठंडी हवाएं चल रही हैं। आगे प्रदेश में न्यूनतम तापमान में 1 से 3 डिग्री तक बढ़ोतरी के आसार हैं।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back