Sonalika Tractors launched GT 28 & RX 47 Sikander 4WD in Kisan exhibition Pune

Sonalika Tractors launched GT 28 & RX 47 Sikander 4WD in Kisan exhibition Pune

12 December, 2018

Sonalika Tractors launched GT 28 & RX 47Sikander in 4WD by Shri Girish  Bapat, Hon’ble Cabinet Minister Food, Civil Supplies & consumer protection, Food and drugs admin, parliamentary affairs govt of Maharashtra in Kisan exhibition Pune

Pune, 12thDecember’18: India’s youngest and fastest growing tractor brand, Sonalika International Tractors Limited which stand strong as No.1 Tractor Brand across 4 countries, displayed its heavy duty range of SonalikatractorsatKisan, Pune Expo.

The company today launched two models in different HP category GT 28 in 28HP Category&RX 47 Sikander 4WD in 50HP category a technologically advanced tractor, along with this the company displayed Rx 47 Sikander 2WD in 50HP category, DI 745III in 50HP category, Rx 750III Sikander in 55 HP category,Rx 50 Sikander in 52HP category, WT 60 4WD Sikander in 60HP category, WT 90 Sikander in 90 HP category.  

Speaking on the occasion, Mr. Raman Mittal, Executive Director, Sonalika Group, said, “This is a very prestigious exhibition where we have showcased our heavy duty product range from 28-90 HP. Today, we launched two technologically advanced tractors, GT28 and RX47 Sikander 4WD.

GT 28 is smartly designed with dual PTO power and Dual lever hydraulics systemto address various high end applications and advanced spraying required in vineyard and orchards operations.

RX 47 Sikander 4WD comes with advanced features like HDM Engine, CCS workspace, Exso sensing and promise of “Sabsekaam diesel mein, sabsezyadataqataurraftaar”.

Present on the occasion, Mr. Vivek Goyal, Senior Vice President, Sonalika Group said, “KrishiMela likeKisan Pune, is an important platform for us to connect with farmers and educate them about new technologies used in tractors that would help them as well as overall society.We have introduced wide array of offers across various models to benefit the farmers of Maharashtra.Now with this 2 new launches, we are the only company to offer complete product range from 20-120 HP to Maharashtra farmers. We are proud of our strong presence across Maharashtra with sales/service support available for farmers in the vicinity of almost every 50 km distance”.

Present on the occasion, Mr. Kuldeep Singh, Zonal Head, Maharashtra said “ Maharashtra has over 50,000+  farmers and we are a dominant player here. It’s a great opportunity to showcase the two tractors and we are pleased to offer a special price of Rs.4.59 lakh (On road)  price on GT 28 and Rs. 7.59 lakh(On road) on RX 47 Sikander 4WD, to all the customers who would book the tractors during these 5 days. Presently we are offering 5 year warranty for each tractor model to farmers which would offer hassle free operations”

The event saw an active participation of farmers where they witnessed the technology advantage range of Sonalika’s heavy dutytractors.

 

Top Tractor News

किसान 30 जून तक खेती के लिए फ्री में ले सकते हैं किराए पर ट्रैक्टर

किसान 30 जून तक खेती के लिए फ्री में ले सकते हैं किराए पर ट्रैक्टर

राजस्थान, उत्तरप्रदेश और तमिलनाडु में चल रही है ये स्कीम कृषि उपकरण बनाने वाली कंपनी ट्रैक्टर्स एवं फार्म इक्विपमेंट लिमिटेड (टैफे) की ओर से किसानों को खेती के लिए मुफ्त किराए पर ट्रैक्टर उपलब्ध कराया जा रहा है। किसान इस सुविधा का लाभ 30 जून 2020 तक ले सकते हैं। मुफ्त ट्रैक्टर किराया योजना के तहत कंपनी किसानों को 90 दिनों के लिए खेती के कार्य के लिए ट्रैक्टर फ्री में किराए पर दे रही है। इससे छोटे किसान जिनके पास ट्रैक्टर नहीं है वे यहां से ट्रैक्टर मुफ्त में किराए पर लेकर अपना खेती का कार्य कर सकेंगे। ये स्कीम पिछले दो माह से कई राज्यों में चल रही है। मीडिया व समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों के अनुसार कंपनी ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि इस सेवा की राजस्थान, उत्तरप्रदेश और तमिलनाडु में काफी मांग देखने मिल रही है। कंपनी ने कहा कि इस पेशकश के तहत वह जेफार्म सर्विसेज प्लेटफॉर्म के माध्यम से छोटे किसानों की मदद के लिए मुफ्त ट्रैक्टर रेंटिंग सेवाएं दे रही है। यह पेशकश 90 दिनों के लिए और 30 जून 2020 तक उपलब्ध है। सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 अब तक कितने किसानों ने लिया इसका लाभ कंपनी का दावा है कि अभी तक इस सेवा का लाभ लेकर छोटे किसान एक लाख एकड़ से अधिक रकबे में खेती कर चुके हैं। कंपनी के अनुसार इस स्कीम के तहत जेफॉर्म सर्विसेज प्लेटफार्म पर 38,900 मैसी फज्र्यूसन और आयशर ट्रैक्टर्स तथा 1,06,500 अन्य उपकरणों का पंजीकरण किया गया है। कंपनी व किसान दोनों को फायदा कंपनी की इस स्कीम के तहत छोटे किसानों ने जेफार्म सर्विसेज के माध्यम से किराए पर टै्रैक्टर लिया और लॉकडाउन के समय में भी अपने कृषि कार्य को आसानी पूरा किया। इस प्रकार कंपनी ने मुफ्त में किराए पर ट्रैक्टर उपलब्ध करा कर छोटे किसानों की सहायता की। वहीं कंपनी ने छोटे किसानों के बदले ट्रैक्टर के किराए का भुगतान अपनी तरफ से ट्रैक्टर मालिकों को किया जिससे छोटे किसानों के साथ ही ट्रैक्टर मालिकों को भी फायदा हुआ। किराये पर ट्रैक्टर लेने के लिए यहां कर सकते हैं संपर्क मुफ्त किराये पर मिलने वाले इन ट्रैक्टरों की बुकिंग जेफार्म सर्विसेज मोबाइल ऐप या टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-4200-100 पर की जा सकती है। इसके अलावा, किसान राज्य भर में मौजूद इसके क्षेत्र अधिकारियों, डीलर नेटवर्क आदि विभिन्न ऑन-ग्राउंड माध्यमों से भी आर्डर बुक किए जा सकते हैं। सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

विकास की राह पर सोनालीका ट्रैक्टर्स ने मई 2020 में कुल 18.6% की सेल्स ग्रोथ दर्ज की।

विकास की राह पर सोनालीका ट्रैक्टर्स ने मई 2020 में कुल 18.6% की सेल्स ग्रोथ दर्ज की।

मुख्य हाइलाइट्स: मई 2020 में कुल वृद्धि 18.6% (9177 ट्रैक्टर्स की सेल) दर्ज की गई। मई 2020 के चौथे सप्ताह में प्लांट ऑपरेशन्स 85% तक पहुंच गया। जून 2020 में 100% आपरेशनल की उम्मीद है मई 2020 की सेल्स ग्रोथ को जून 2020 में पार करने की उम्मीद है कुल मिलाकर, वित्तीय वर्ष 2021 की पहली तिमाही की प्रोडक्शन पिछले वर्ष की तुलना में अधिक जाने की उम्मीद है भारत से दुनिया का नंबर 1 ब्रांड ने मई 2020 में निर्यात में 25% वृद्धि दर्ज की नई दिल्ली, 3 जून 2020: भारत के सबसे लीडिंग ट्रैक्टर मैन्युफ़ैक्चरिंग ब्रांड्स में से एक और देश से नंबर 1 निर्यातक, सोनालीका ट्रैक्टर्स ने मई 2020 में 9177 ट्रैक्टर्स की सेल्स के साथ 18.6% की अभूतपूर्व समग्र वृद्धि (घरेलू + निर्यात) दर्ज की, जबकि मई 2019 में 7737 ट्रैक्टर्स की सेल्स दर्ज की थी । कंपनी ने अपने नंबर 1 ट्रैक्टर निर्यातक ब्रांड को मज़बूत करते हुए 1537 ट्रैक्टर्स के निर्यात के साथ मई 2020 में 25% की वृद्धि दर्ज की। कार्य उपलब्धि पर चर्चा करते हुए, सोनालीका समूह के कार्यकारी निदेशक, श्री रमन मित्तल ने कहा, “मुझे यह देखकर खुशी हुई है कि चुनौतीपूर्ण स्थिति का सामना करते हुए 9177 ट्रैक्टर की सेल्स के साथ हमने, मई 2020 में 18.6% की कुल वृद्धि दर्ज की है। स्थिति का जायज़ा लेते हुए, हम सकारात्मक बने रहे और टीमों के साथ आधुनिक रूप से जुड़े रहे। हम अपने चैनल पार्टनर्स, ग्राहकों और समुदाय के साथ अपने संबंध और विश्वास को मज़बूत करने के लिए कई कार्यों में शामिल हुए। काफ़ी कुछ में से, कुछ का उल्लेख करते हुए – इंडस्ट्री में पहली बार डीलर सेल्स टीम के लिए ऑनलाइन इंसेंटिव ट्रांसफ़र, ट्रैक्टर्स की वारंटी एवं रिन्यूवल अवधि का समय बढ़ाया, ग्राहकों के लिए सर्विस एवं स्टैंड बाय ट्रैक्टर सुविधा के साथ स्पेयर पार्ट्स की उपलब्धता सुनिश्चित की, विभिन्न राज्य सरकार के साथ मिलकर हमने हैवी-ड्यूटी ट्रैक्टर्स के साथ स्वच्छता अभियान चलाया, अस्पतालों में आइसोलेशन सेंटर स्थापित किए और प्रवासी श्रमिकों और दैनिक वेतन भोगियों को खाना एवं स्वास्थ्य किट वितरित किए, अपना सामाजिक उत्तरदायित्व निभाने हेतु एडवांस्ड वेंटीलेटर सिस्टम का आविष्कार किया और दिल्ली सरकार के साथ मिलकर कोरोना टेस्टिंग मोबाइल क्लिनिक रोल आउट किए। लॉकडाउन के दौरान, हम प्लांट को ऑपरेशनल वाले पहले ट्रैक्टर ब्रांड थे” उन्होंने कहा, “किसानों के लिए, असली दौलत उनकी फसलें हैं। अपने खेत से उत्पादकता बढ़ाने के लिए किसान के जीवन में ट्रैक्टर एक अहम भूमिका निभाता है। किसान प्रमुख रूप से उपकरण आधारित खेती जैसे पडलिंग, मल्चिंग, बेलर एप्लीकेशन, ऑर्चर्ड (Orchard), हॉर्टिकल्चर आदि की ओर रूची रखते हैं। पैड्डी के प्रमुख खरीफ़ फसल होने के कारण, हम कस्टमाइज़्ड ट्रैक्टर्स के लिए मांग में वृद्धि देख रहे हैं, जो इन आवश्यक ज़रूरतों को पूरा करने में सक्षम होंगे। ट्रैक्टरों की मांग के साथ-साथ, विशेष उपकरणों की मांग में भी बढ़ोतरी आने की उम्मीद है। सिकंदर श्रृंखला का अब पूरे सोनालीका पोर्टफोलियो में 75-80% का योगदान है, और वो भी केवल इसके लॉन्च के 2 साल के भीतर। हम 50HP से अधिक के सेगमेंट में एक लीड़िंग ब्रांड हैं और साथ ही 4 नए नेक्स्ट-जनरेशन सीरीज़ ट्रैक्टर जैसे कि टाइगर (डिज़ाइंड इन यूरोप), सिकंदर DLX (10 डिलक्स फ़ीचर्स), महाबली (तेलुगु देशम के लिए पडलिंग विशेषता के साथ) और छत्रपति (महाराष्ट्र के लिए) के लॉन्च के साथ अब 40HP से अधिक के सेगमेंट में एक लीडरशिप पोजिशन हासिल करने का लक्ष्य बना रहे हैं, ये नए ट्रैक्टर भारत में अपनी तरह के पहले हैं जो किसानों की स्थानीय ज़रूरतों को पूरा करने के लिए कस्टमाइज़ेशन की सुविधा देंगे। इन नए ट्रैक्टर्स से हमारी कुल सेल्स में 20-25% कंट्रीब्यूट करने की उम्मीद है।” भविष्य पर चर्चा करते हुए कहा, “सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक उपाय करने में सहायक रही है कि किसानों को अपनी फसलों और मंडियों तक पहुंचने में कोई समस्या न हो। इनसेंटिव्स और सुधारात्मक कार्य समय पर हुए हैं। इसकी उम्मीद की जा सकती है कि सभी वित्तीय संस्थान ट्रैक्टर फाइनेंसिंग में काफ़ी दिलचस्पी दिखाएंगे क्योंकि अन्य ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री की तुलना में रूरल इंडस्ट्री में वृद्धि की उम्मीद है। रबी की फसल की बुआई शुरू हो गई है और मानसून के सामान्य रहने की उम्मीद है। कुल मिलाकर किसान अपने हाथ में आए पैसे से खुश हैं। हमने मई 2020 में अपनी ट्रैक्टर डिलीवरीज़ में 26% की असाधारण वृद्धि देखी है। किसान की भावनाओं सकारात्मक होने की वजह से, इंडस्ट्री डिलीवरीज़ में जून 2020 में लगभग 10% की वृद्धि पंजीकृत होने की उम्मीद है। मशीनीकरण (mechanization) के प्रति किसानों की बढ़ती प्राथमिकता के साथ, हम न केवल घरेलू बाज़ार (domestic market) में बल्कि निर्यात बाज़ार (export market) में भी मांग बढ़ने की उम्मीद कर रहे हैं जहां हम पहले ही भारत से नंबर 1 निर्यातक हैं। सोनालीका में, हम अपने विकास की गति को जारी रखने और इंडस्ट्री की तुलना में बेहतर परिणाम देने के लिए आधुनिकता की राह पर काम करना जारी रखेंगे। ” सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

महिंद्रा ने बेचे 24 हजार ट्रैक्टर, घरेलू बाजार में मिली बढ़त

महिंद्रा ने बेचे 24 हजार ट्रैक्टर, घरेलू बाजार में मिली बढ़त

मई माह की बिक्री में पिछले साल के मुकाबले 2 फीसदी का इजाफा 20.7 बिलियर अमेरिकी डॉलर के महिंद्रा गु्रप (महिंद्रा एंड महिंद्रा) के फार्म इक्विपमेंट सेक्टर ने मई 2020 में ट्रैक्टरों की बिक्री के आंकड़े जारी किए। महिंद्रा ने अपनी ब्रांड वैल्यू को बरकरार रखते हुए मई माह में 24,017 ट्रैक्टर बेचे हैं जो कि पिछले साल के मुकाबले 2 फीसदी ज्यादा है। कंपनी ने मई 2019 के दौरान 23,539 इकइयां बेची थी। मई 2020 के दौरान कुल ट्रैक्टर बिक्री (घरेलू+निर्यात) 24,314 इकाई थी, जबकि पिछले साल की समान अवधि में कंपनी ने 24 हजार 704 इकाइयां बेची थी। हालांकि कंपनी के निर्यात में 72.18 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। कंपनी ने मई 2020 में 324 ट्रैक्टरों का निर्यात किया है जबकि मई 2019 में 1,165 ट्रैक्टर बेचे थे। मई 2020 में महिंद्रा कंपनी के बिक्री आंकड़े महिंद्रा ट्रैक्टरों की बिक्री मई 20 मई 19 बिक्री में परिवर्तन (%) घरेलू बाजार 24,017 23,539 + 2 निर्यात 324 1,165 -72.18 कुल 24,341 24,707 -1.48 कंपनी के प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए महिंद्रा एंड महिंद्रा के फार्म इक्विपमेंट सेक्टर के अध्यक्ष हेमंत सिक्का ने कहा कि हमने मई 2020 के दौरान घरेलू बाजार में 24,017 ट्रैक्टर बेचे हैं। जो पिछले साल की तुलना में 2 प्रतिशत की वृद्धि का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान कृषि संबंधी क्षेत्र को सरकार से मिली छूट का फायदा हुआ है। इससे ट्रैक्टरों की मांग में तेजी बनी हुई और कंपनी ने कोविड-19 के संक्रमण काल में भी पिछले साल जैसे ही बिक्री की। आगामी समय में मजबूत रबी फसल उत्पादन, उच्च खरीद, अच्छी कीमत की प्राप्ति और एक सामान्य मानसून के पूर्वानुमान सहित कई विकासों के कारण किसान की धारणा सकारात्मक रहने की संभावना है जो खरीफ फसल सीजन के लिए अच्छा संकेत है। इन सभी कारणों से भविष्य में ट्रैक्टरों की मांग और बढ़ेगी। सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

ट्रैक्टरों की बिक्री ने पकड़ी रफ्तार, एस्कॉर्ट्स ने मई में बेचे 6454 ट्रैक्टर

ट्रैक्टरों की बिक्री ने पकड़ी रफ्तार, एस्कॉर्ट्स ने मई में बेचे 6454 ट्रैक्टर

देश के बाजारों में घटने लगा कोविड-19 का असर, बिक्री में मात्र 0.5 प्रतिशत की गिरावट कोविड-19 का असर देश के बाजारों में धीरे-धीरे कम हो रहा है, अर्थव्यवस्था रफ्तार पकड़ रही है। मई माह की बिक्री के आंकड़ों से ट्रैक्टर कंपनियों को राहत मिली है। देश के घरेलू बाजार में ट्रैक्टरों की बिक्री ने पिछले साल 2019 की तरह रफ्तार पकड़ ली है। एस्कॉर्ट्स ने घरेलू बाजार में मई 2020 में 6454 इकाइयों की बिक्री की है। जबकि मई 2019 में कंपनी ने 6488 इकाइयों की बिक्री की थी। कोविड-19 संक्रमण काल के कारण कंपनी की बिक्री में मात्र 0.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। एस्कॉर्ट्स लिमिटेड की घरेलू व निर्यात बाजार में मई माह में ट्रैक्टरों की बिक्री में 3.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। कंपनी ने पिछले साल इसी महीने में कुल 6827 इकाइयां बेची थीं, एस्कॉर्ट्स ने लिमिटेड ने यह जानकारी एक नियामक फाइलिंग में दी है। एस्कॉर्ट्स के मई 2020 में बिक्री आंकड़े एस्कॉर्ट्स ट्रैक्टर की बिक्री मई 2020 मई 2019 बिक्री में परिवर्तन (%) घरेलू बाजार 6454 6488 -0.5 निर्यात बाजार 140 339 -58.7 कुल 6494 6827 -3.4 कंपनी के अनुसार, पिछले महीने घरेलू ट्रैक्टर की बिक्री 6454 इकाई थी, जो मई 2019 में 6488 इकाइयों की तुलना में 0.5 प्रतिशत की गिरावट थी। कंपनी ने कहा कि पिछले साल इसी महीने में 339 के मुकाबले एक्सपोर्ट्स 140 यूनिट्स पर रहा था। पहली तिमाही के पहले दो महीनों में, कंपनी ने घरेलू बाजार में 7067 ट्रैक्टर बेचे, जो एक साल पहले की समान अवधि की 11474 इकाइयों की तुलना में 38.4 प्रतिशत कम है। समीक्षाधीन तिमाही के दौरान कुल ट्रैक्टर बिक्री (घरेलू + निर्यात) 7299 इकाइयों में 39.6 प्रतिशत घट गई। सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

close Icon

Find Your Right Tractor and Implements

New Tractors

Used Tractors

Implements

Certified Dealer Buy Used Tractor