Certified Dealer

On Road Price

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना - अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2019!

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना - अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2019!
Total Views 1078

देश्‍ के छोटे व सीमांत किसानों को प्रत्यक्ष आय संबंधी सहायता देकर सम्माननीय जीवन यापन हेतु भारत सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा की। इस योजना को पीएमकिसान (PM-KISAN) योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना के तहत पात्र छोटे व लघु सीमांत किसान परिवारों को प्रति वर्ष 6000 रुपये की सहायता आधार से जुड़े बैंक खातों में एक वर्ष में तीन किश्‍तों में हर फसल सीजन से पहले 2000 रुपये प्रति किश्‍त उपलब्ध कराई जाएगी। इस योजना को दिनांक 1-12-2018 से प्रारम्भ किया गया है। यह योजना शत प्रति‍शत केन्द्र सरकार से पोषित है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का उद्देश्‍य:-

  • किसानों को उनके फसल उत्पादन संबंधि‍त आवश्‍यकताओं की पूर्ति और अन्य जरूरतों के लिए एक अतिरिक्त आय प्रदान करना है। जिससे उन्हें अपने खर्चों को पूरा करने के लिए किसी साहूकार के चंगुल में नहीं पड़ना पड़े। 
  • आधुनिक कृषि उपकरणों व उन्नत बीजों का उपयोग कर किसान अपनी आय का स्तर बढ़ाकर एक सम्मानजनक जीवन का मार्ग प्रशस्त कर सके।
  • इस योजना के लिए परिवार की परिभाषा= पति+पत्‍नी+दो नाबालिग बच्चे 

 

पात्रता की शर्तें-

  • एक लघु एवं सीमांत किसान परिवार जिसमें पति, पत्नी व अव्यस्क बच्चे शामिल हैं, जिनके पास राज्य एवं केन्द्रशासित प्रदेशों के भूअभिलेखों में सम्मिलित रूप से 2 हेक्टेयर तक की कृषि योग्य भूमि स्वयं के नाम हो। 

 

कौन पात्र नहीं:-

  • भूमिहीन मजदूरों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • वह किसान जो दूसरे की जमीन किराये पर लेकर खेती करते हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। 

 

कौन पंजिकरण करेगाः-

  • लाभार्थी किसान परिवारों की पहचान की जिम्मेदारी राज्य / केन्द्र शासित प्रदेशों की सरकारों पर है।
  • योजना से जुड़ने हेतु नामांकन करवाने के लिए किसान को राज्य सरकार द्वारा नामित स्थानीय पटवारी / राजस्व अधिकारी / नोडल अधिकारी (पीएम-किसान) से संपर्क करना होगा।
  • अभी हाल ही में केन्द्र सरकार द्वारा कॉमन सर्विस सेंटर (CSCs)  को फीस के भुगतान पर योजना के लिए किसानों का पंजीकरण करने के लिए अधिकृत किया गया है।
  • किसान पोर्टल में किसान कॉर्नर के माध्यम से किसान पंजीकरण करा सकते हैं।
  • पीएम-किसान पोर्टल में किसान कॉर्नर के माध्यम से किसान अपने आधार डेटाबेस / कार्ड के अनुसार अपना नाम पीएम-किसान डेटाबेस में भी जुड़वा सकते हैं।
  • पोर्टल में किसान कॉर्नर के माध्यम से किसान अपने भुगतान की स्थिति भी जान सकते हैं। 

पात्र किसान परिवारों की पहचान के लिए कट ऑफ डेट 1 फरवरी, 2019  का आधार माना गया है। इस तारीख पर स्थित भूअधिकारों को ही आधार माना जायेगा। इस तिथि में बदलाव करने का अधिकार केवल कैबिनेट के अनुमोदन से ही किया जा सकता है। 

इस तिथि के पश्चात किसी किसान की मृत्यु के बाद भी उनके वारिस भी इस योजना का लाभ पाने के पात्र होंगे बशर्त उनका परिवार लघु सीमांत श्रेणी में हो। 
अब तक दो किश्‍तों का भूगतान कर दिया गया है। 1 दिसंबर, 2019 से तृतिय किश्‍त का भुगतान प्रारम्भ किया जाएगा। 

 

योजना पंजिकरण में असुविधा का समाधानः- 

  • भारत सरकार द्वारा किसान सम्मान निधि योजना में पंजिकरण से संबंधी सभी जानकारी किसानों तक पहुँचाने हेतु 25 से 29 नवम्बर, 2019 तक देश भर में शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, जिससे कि ज्यादा से ज्यादा किसानों को इस योजना का लाभ मिलें। 
  • पात्र किसानों के पंजिकरण की अंतिम तिथि भारत सरकार द्वारा 30 नवम्बर, 2019 घोषित की गई है, जिन्होंने अब तक इस योजना के अधिन अपना पंजिकरण नहीं करवाया है वह अब भी इस योजना में अपना पंजिकरण करवा सकते हैं। 
  • सभी पात्र किसान सबसे पहले इस लिंक पर (http://www.pmkisan.gov.in/BeneficiaryStatus/BeneficiaryStatus.aspx) क्लिक कर अपना स्टेटस की जांच करें। यदि कोई त्रुटि हो उसे शीघ्र अति शीघ्र दूर कर इस योजना का लाभ प्राप्त करें। 
  • आधार में नाम संबंधी त्रुटि को इस पीएमकिसान पोर्टल के फार्मर कॉर्नर में जाकर सही किया जा सकता है क्योंकि यदि नाम में अंतर पाया जाने पर आपका आवेदन निरस्त कर दिया जाएगा। बैंक जैसे कि खाता संख्या, आईएफएससी कोड संख्या व खाते के जनधन या बचत खाता संबंधी समस्या का समाधान सीएससी या ई मित्र से सही करवाया जा सकता है। 
  • यदि फिर भी आपकी समस्या का समाधान नहीं हो रहा है तो आप आपके क्षेत्र के राजस्व अधिकारी से मिले अन्यथा आप पीएमकिसान हेल्पडेस्क पर ई-मेल ([email protected]) या हेल्प लाईन न. - 011- 23381092 पर सीधे बात कर सकते हैं।

Quick Links