कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी, अब बच्चों को जल्द उपलब्ध होगी वैक्सीन

कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी,  अब बच्चों को जल्द उपलब्ध होगी वैक्सीन

Posted On - 05 Jun 2021

जानें, बच्चों के लिए तैयार की गई इस वैक्सीन की खास बातें

पूरी दुनिया इस समय कोरोना महामारी से जुझ रही है। इस माहमारी ने लाखों लोगों के प्राण छीन लिए हैं। वहीं देश की अर्थव्यवस्था को भी तहस-नहस कर दिया है। आज डेढ साल से ज्यादा समय होने को जा रहा है लेकिन अभी तक हम इस पर नियंत्रण नहीं पा सके है। देश इस समय कोरोना की दूसरी लहर का सामना करना रहा है। हांलाकि कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में कमी आई है लेकिन सतर्कता बरतना अब भी जरूरी है, क्योंकि तीसरी लहर का खतरा भी सिर पर मंडरा रहा है। एक्सपर्ट्स डॉक्टरों व विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर कभी भी आ सकती है। इसके बारे में निश्चित रूप से कुछ भी कहा नहीं जा सकता है। इसके अलावा कोरोना की तीसरी लहर को बच्चों के लिए काफी घातक माना जा रहा है। इस सभी खबरों के बीच सकून देने वाली खबर आई है। मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार बच्चों के लिए बच्चों के लिए भी देश में जल्द वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को संकेत दिए हैं कि बच्चों के लिए कोरोना टीका इसी महीने आ सकता है। सरकार के मुताबिक, जायडस कैडिला के टीके को जल्द मंजूरी दी जा सकती है, जिसके परीक्षण 12-18 साल की आयु के बच्चों पर भी हुए हैं। नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि अभी कोवैक्सीन के बच्चों पर परीक्षण शुरू हुए हैं, लेकिन उसके पूरे होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा, क्योंकि परीक्षण प्रतिरोधक क्षमता के होते हैं। जबकि जायडस कैडिला के टीके के परीक्षण बच्चों पर हो चुके हैं। उम्मीद है कि अगले दो सप्ताह में वह लाइसेंस के लिए आ सकती है। टीके को मंजूरी देते समय इसे बच्चों को देने पर भी निर्णय लिया जा सकता है। 

Buy Used Tractor

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 


टीके का तीसरे चरण का परीक्षण पूरा

बच्चों के लिए तैयार की गई जायडस कैडिला की वैक्सीन का तीसरे चरण का परीक्षण पूरा हो चुका है। परीक्षण में 800 से 1000 बच्चों को शामिल किया गया है जिसकी उम्र 12-18 वर्ष है। इसलिए ये कहा जा सकता है कि इस टीके को 12-18 वर्ष के बच्चों के लिए भी मंजूरी मिल सकती है। डॉ. पाल ने भी ऐसे संकेत दिए हैं। 

Buy Kubota MU4501 4WD


टीके के बारे में कुछ खास बातें

  • कैडिला का ये टीका तीन खुराक वाला है। यह त्वचा में दिया जाने वाला इंट्राडर्मल टीका है। इसे इंजेक्शन के जरिये नहीं दिया जाता है, बल्कि एक अलग डिवाइस से चमड़ी में डाला जाता है। 
  • इस टीके की एक खास बात यह है कि इसे यूके, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका के अलावा डबल वैरिएंट पर भी हाल में अपडेट किया गया है। 
  • टीके के परीक्षण करीब 28 हजार लोगों पर हुए हैं, जिनमें एक हजार के करीब 12-18 साल के बच्चे हैं। 
  • प्रथम चरण में इस टीके का परीक्षण 12-18 वर्ष तक के बच्चों पर किया गया है।
  • अगले चरण में कैडिला इसका परीक्षण 12 साल से छोटे उम्र के बच्चों पर भी किया जाएगा। 


वैक्सीनेशन शुरू होने से पहले चाहिए होंगे पर्याप्त टीके

मीडिया में प्रकाशित खबरों में वीके पॉल ने कहा कि बच्चों में टीकाकरण शुरू करने से पहले पर्याप्त मात्रा में टीके उपलब्ध होने जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि 12-18 साल के आयु वर्ग में भी 13-14 करोड़ की आबादी है। उनके लिए कम से कम 25-26 करोड़ टीके चाहिए। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में कई टीके उपलब्ध होंगे तो इसमें आसानी होगी। बता दें कि टीके को केंद्र सरकार के नेशनल बॉयोफॉर्मा मिशन के तहत सहायता दी गई है। कैडिला के प्रवक्ता के अनुसार टीके का तीसरे चरण का परीक्षण पूरा हो चुका है तथा आंकड़े एकत्र किए जा रहे हैं। उसके बाद मंजूरी के लिए ड्रग कंट्रोलर को आवेदन किया जाएगा। 


भारत में कोरोना संक्रमण की ताजा स्थिति

भारत में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के करीब 1.20 लाख नए केस सामने आए हैं, जो बीते 58 दिनों में सबसे कम है। इस तरह से लगातार नौवें दिन कोरोना के रोजाना मिलने वाले नए मामले दो लाख से कम रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के एक्टिव केसों में 80 हजार 740 की गिरावट दर्ज की गई है। साथ ही इसी दौरान 1,97,894 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। इस तरह से बीते 23 दिनों से लगातार नए मरीजों की संख्या में ठीक हुए मरीजों की संख्या अधिक है। देश में कुल 2.67 करोड़ लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं। 

वहीं देश में बीते 24 घंटे में 3380 लोगों ने कोरोना से जान गंवाई है। इस तरह से देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,44,082 हो गई है। एक्टिव केसों में भी गिरावट दर्ज की गई है और यह घटकर 15,55,248 आ गया है। वहीं देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार और चार मई को दो करोड़ के पार चले गए।

Buy Used Tractor

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back