ऑक्सीजन : अब ऑक्सीजन उत्पादन के लिए मिलेगा अनुदान

ऑक्सीजन : अब ऑक्सीजन उत्पादन के लिए मिलेगा अनुदान

Posted On - 03 May 2021

ऑक्सीजन की सप्लाई : जानें, क्या है विशेष पैकेज और इससे होने वाले लाभ

कोरोना महामारी ने देश भर में कोहराम मचाया हुआ है। अस्पतालों में मरीजों की तादाद बढ़ती जा रही है जिससे अस्पतालों को ऑक्सीजन की कमी से जुझना पड़ रहा है। अस्पतालों को जितनी ऑक्सीजन चाहिए उतनी ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं मिल पा रही है और परिणामस्वरूप ऑक्सीजन के बिना मरीजों की सांसे थम रही है। इसी बीच मध्यप्रदेश सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। इसके अनुसार राज्य सरकार अब ऑक्सीजन उत्पादन के लिए अनुदान देगी। मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश सरकार के प्रवक्ता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने सरकार के इस फैसले पर जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऑक्सीजन की समस्या के दीर्घकालीन समाधान पर फैसला लिया है। इसके लिए ऑक्सीजन उत्पादन के लिए अधिकतम 75 करोड़ रुपए तक की सहायता का विशिष्ट पैकेज देने का फैसला किया है। 

Buy New Holland Excel 5510

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


क्या है विशेष पैकेज

ऑक्सीजन उत्पादन की क्षमता बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन के लिए विशिष्ट पैकेज के तहत प्रदेश में न्यूनतम 10 क्यूबिक मीटर प्रति घंटा ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता की इकाइयों को मदद दी जाएगी। इकाइयों को यंत्र एवं संयंत्र तथा भवन में किए गए पूंजी निवेश पर 50 प्रतिशत की स्थिर दर से मूल निवेश प्रोत्साहन सहायता दी जाएगी। इसके तहत अधिकतम 75 करोड़ रुपए की सहायता दी जाएगी। इकाईयों को प्रचलित विद्युत टैरिफ पर एक रुपए प्रति यूनिट की छूट दी जाएगी। यह छूट एमपीईआरसी द्वारा दी जा रही छूट, के अतिरिक्त एक रुपये प्रति यूनिट होगी। इसकी प्रतिपूर्ति एमएसएमई या एमपीआईडीसी द्वारा पात्र इकाईयों को की जाएंगी।


इन्हें मिलेगा योजना का लाभ

प्रशासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार योजना का लाभ नए प्लांट, पहले से संचालित इकाइयों, मेडिकल कॉलेजों, अस्पतालों और नर्सिंग होम को भी मिल सकेगा।


योजना से ये होंगे फायदें

  • ऑक्सीजन प्लांट द्वारा सुरक्षा मानकों में किए गए खर्च का 50 प्रतिशत अधिकतम एक करोड़ रुपए की प्रतिपूर्ति भी सरकार की ओर से जाएगी।
  • इस सुविधा का लाभ वाणिज्यिक उत्पादन शुरू करने से सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योगों के लिए 3 वर्षों में तीन किश्तों में दिया जाएगा।
  • बड़े उद्योगों को 5 वर्षों में पांच किश्तों में मिल सकेगा।
  • सरकार का दावा है कि विशिष्ट पैकेज योजना से प्रदेश में अधिकतम स्थानों पर ऑक्सीजन उत्पादन संबंधी इकाइयां लगाई जा सकेंगी। पूर्व संचालित इकाइयों का विस्तार भी निश्चित तौर पर होगा।


राज्य के 19 जिला अस्पतालों में लगाए जाएंगे ऑक्सीजन प्लांट

मध्यप्रदेश के 19 जिला अस्पतालों में ऑक्सीजन बनाने के लिए प्लांट लगाए जाएंगे। इसे लेकर मध्य प्रदेश पब्लिक हेल्थ सप्लाई कॉरपोरेशन ने कंपनी के चयन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। कंपनी का चयन हो गया तो अगले साल जनवरी-फरवरी तक ऑक्सीजन का उत्पादन शुरू हो जाएगा। इससे सामान्य हालातों में इन जिला अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत पूरी हो जाएगी। कारपोरेशन ने टेंडर में यह भी साफ कर दिया है कि तैयार ऑक्सीजन की शुद्धता का स्तर विश्व स्वास्थ्य संगठन के मापदंड के अनुसार 93 फीसद से कम नहीं होना चाहिए। किन्हीं विशेष कारणों से इसमें तीन फीसद तक की कमी स्वीकार की जा सकती है।


क्या रहेगी ऑक्सीजन बनाने की तकनीक

स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने मीडिया को बताया कि ऑक्सीजन बनाने की इस तकनीक में वातावरण से ऑक्सीजन खींचकर उसे शुद्ध किया जाता है। इसके बाद पाइपलाइन के जरिए सप्लाई किया जाता है। प्लांट लगाने वाली कंपनी को रोजाना की जरूरत से तीन दिन के लिए अतिरिक्त ऑक्सीजन स्टोर करके सिलिंडर में रखना होगा। इधर मप्र पब्लिक हेल्थ सप्लाई कारपोरेशन के एमडी सतीश कुमार एस ने बताया कि ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट के लिए टेंडर जारी कर दिया गया है।


इन जिला अस्पतालों में लगेंगे मेडिकल ऑक्सीजन बनाने के प्लांट

प्रदेश के जिन 19 जिला अस्पतालों मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी है उनमें सतना, विदिशा, नरसिंहपुर, कटनी, रायसेन, बड़वानी, मंडला, छतरपुर, सीधी, बैतूल, दमोह, सागर, भिंड, खरगौन, राजगढ़, बालाघाट, धार, पन्ना और शहडोल जिला अस्पतालों का चयन किया गया है।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back