प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना : 20 लाख किसानों को मिलेगा 4,614 करोड़ रुपए का मुआवजा

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना : 20 लाख किसानों को मिलेगा 4,614 करोड़ रुपए का मुआवजा

Posted On - 31 Aug 2020

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ( Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana ) 

किसानों के लिए एक खुशखबर है। अब किसानों को फसल नुकसानी के मुआवजा का भुगतान जल्द किया जाने वाला है। इससे करीब 20 लाख किसानों को फायदा होगा। दरअसल इस साल कीट-रोग एवं अधिक बारिश से किसानों की फसलों को  नुकसान पहुंचा है। वहीं पिछले साल भी फसलों को अतिवृष्टि से काफी नुकसान हुआ जिसकी भरपाई के लिए फसल बीमा मुआवजा राशि का भुगतान अभी तक किसानों को नहीं किया गया है। कई राज्यों के किसान बीमा राशि के भुगतान की आस में बैठे हैं। इन राज्यों में मध्यप्रदेश प्रमुख है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

यहां पिछले साल खरीफ की फसलों को अति बारिश व बाढ़ से काफी नुकसान हुआ था। उनकी कई हेक्टेयर फसल खराब हो गई थी जिसकी भरपाई के लिए सरकार की ओर से मुआवजा दिया जाना था। अब यहां के किसानों का इंतजार खत्म होने वाला है। सरकार शीघ्र ही किसानों को फसल बीमा योजना के तहत हानि की भरपाई करने जा रही है। इससे करीब 20 लाख किसानों को फायदा होगा। 

 


छह सितंबर को किया जाएगा मुआवजा का भुगतान

किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा खरीफ 2019 की बीमित फसलों के लिए प्रदेश के 20 लाख 38 हजार 982 किसानों को शीघ्र ही 4,614 करोड़ 13 लाख रुपए की राशि का भुगतान उनके खातों में किया जाएगा। पिछले वर्ष राज्य में अतिवृष्टि के चलते कई जिलों में फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई थी जिसका अभी तक फसल बीमा राशि का भुगतान नहीं किया गया था, जिसे 6 सितंबर को किया जाएगा।


किन-किन जिलों के किसानों को कितना मिलेगा लाभ

मध्यप्रदेश कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार खरीफ 2019 की बीमा राशि अन्तर्गत हरदा जिले के 57 हजार 620 किसानों को 109 करोड़ 61 लाख रुपए, राजगढ़ जिले के 2 लाख 31 हजार 769 किसानों को 427 करोड़ 37 लाख रुपए, खरगोन जिले के एक लाख 43 हजार 327 किसानों को 118 करोड़ 22 लाख रुपए, मंदसौर जिले के एक लाख 34 हजार 409 किसानों को 381 करोड़ 60 लाख रुपए, सीहोर जिले के एक लाख 6 हजार 347 किसानों को 157 करोड़ 34 लाख रुपए, धार जिले के एक लाख 5 हजार 161 किसानों को 195 करोड़ 47 लाख रुपए, विदिशा जिले के एक लाख 2 हजार 113 किसानों को 318 करोड़ 53 लाख रुपए, रतलाम जिले के एक लाख 259 किसानों को 282 करोड़ 80 लाख रूपये की बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा। इसके अलावा इन जिलों के अतिरिक्त शेष जिलों के किसानों को 2623 करोड़ 23 लाख रुपए की बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा।


 

इस साल बारिश और कीट से हुए नुकसान का सर्वे कराकर जल्द किया जाएगा भुगतान

किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा खरीफ के अनुसार इस साल कीट - रोग व अतिवृष्टि से हुए नुकसान का जल्द सर्वे करा कर फसल नुकसानी का मुआवजा दिया जाएगा। बता दें कि हाल ही में मध्यप्रदेश राज्य में मैजोक व इल्ली कीट का प्रकोप देखा गया था। इससे किसानों की सोयाबीन की फसलों को बहुत नुकसान हुआ जिसका अवलोकन कृषि विकास मंत्री द्वारा किया गया था और प्रभावित जगहों के सर्वे कराने के निर्देश भी दिए गए थे।

 


 

फसल बीमा का आज अंतिम दिन ( PM Fasal Bima Yojana )

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना  ( PMFBY ) का आज यानि 31 अगस्त 2020 अंतिम दिन है। किसान आज भी इस योजना से जुडक़र इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसके लिए जो भी किसान जो पीएमएफबीवाई के तहत नामांकान करना चाहता है, उसे अपने नजदीकी बैंक, प्राथमिक कृषि ऋण सोसायटी, कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) / ग्राम स्तरीय उद्यमियों (वीएलई), कृषि विभाग के कार्यालय, बीमा कंपनी के प्रतिनिधि या सीधे राष्ट्रीय फसल योजना एनसीआईपी के पोर्टल https://www.pmfby.gov.in/ और प्रधानमंत्री फसल बीमा ऐप के माध्यम से ऑनलाइन  कर सकता है। बीमा के संबंध में कोई भी जानकारी के लिए फसल बीमा कंपनी के टोल फ्री नंबर पर कॉल करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या केंद्र सरकार के टोल फ्री नंबर 18001801551 पर भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

 

सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back