प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना - शहर जाकर फसल बेच सकेंगे किसान

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना - शहर जाकर फसल बेच सकेंगे किसान

Posted On - 02 Feb 2022

जानें, क्या है प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना और इसके लाभ

केंद्र सरकार की ओर से किसानों की सुविधा के लिए गांवों को सड़कों से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना चल रही है। इसके तहत गांवों को शहरी सड़कों से जोड़ने का काम निरंतर जारी है। बता दें कि केंद्र सरकार की ओर से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की शुरुआत साल 2012 में की गई थी। इसका मुख्य उद्देश्य गांवों में सड़कों का निर्माण कर उन्हें शहरी सड़कों से जोड़ना है ताकि किसान भाई अपनी फसल को गांव से शहर लाकर बेच सकें ताकि उन्हें अधिक लाभ मिल सके। गांवों को शहरों से जोड़ने का क्रम निरंतर जारी है। सरकार की ओर से गांव में पक्की सड़कों का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। इतना ही नहीं यदि आपके गांव में अभी भी सड़कें खराब है और शहरी इलाकों तक इनकी पहुंच नहीं है तो आप भी इस योजना के तहत अपने गांव में सड़क का निर्माण करा सकते हैं। बता दें कि पहले की अपेक्षा आज गांवों के हालत काफी सुधरे हुए हैं। केंद्र की मोदी सरकार ने इस दिशा में काफी सराहनीय कार्य किया है। केंद्र सरकार की ओर से किसानों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं जो किसानों के लिए लाभकारी साबित हो रही हैं। इसी क्रम में आज हम ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से आपको प्रधानमंत्री सड़क योजना की जानकारी दे रहे है जो आपके लिए फायदेमंद साबित होगी।

Buy New Holland Excel 5510

क्या है प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana)

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की शुरुआत केंद्र सरकार की ओर से 25 दिसंबर 2000 में की गई थी। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में 500 या इससे अधिक आबादी वाले सड़क संपर्क से वंचित गांवों को बारहमासी सड़क से जोड़ना था। इस योजना का सबसे बड़ा फायदा गांव में होगा। जहां सड़कें नहीं बन पाती और लोगों को आने-जाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस योजना से छोटे किसान शहरों से सीधे जुड़ सकेंगे और अपनी फसल बेच पाएंगे। इस योजना में सडक़ को सही रखना और अगर किसी तरह की परेशानी से सड़क खराब होती तो उसका भी ख्याल रखा जाएगा। बता दें कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में सिर्फ गांव की सड़कों को कवर किया जाएगा। इस योजना में शहर की सड़कों को कवर नहीं किया जाएगा। ग्राम सड़कें ऐसी सड़कें हैं जो गांव / बसावटों या फिर बसावटों के समूह को एक-दूसरे से और उच्च श्रेणी की समीपवर्ती सड़क से जोड़ती हैं।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना उद्देश्य (PMGSY)

  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का मुख्य उद्देश्य गांवों और शहरों को पक्की सड़क से जोड़ना है। जिससे हर मौसम में काम आ सके एसी सड़क जिसमे कल्वर्ट्स, ड्रेनेज सिस्टम भी होंगे।
  • यह प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के लिए योग्य ऐसी बस्तियां जिसमें 1000 लोग की संख्या हो उस बस्ती को गांव से या फिर शहेरों से जोड़ दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत ऐसी बस्तियों को 3 साल में गांवों और शहरों से जोड़ दिया जाएगा।
  • इस योजना का उद्देश्य भी है जो पुराने रास्ते है उन्हें भी नए सिस्टम के मुताबिक बनाया जाएगा। उन पुराने रास्तो को अपग्रेड किया जाएगा।

इस एप से बना सकते है आप भी अपने गांव में सड़क

इस योजना के तहत आप अपने गांव की सड़क भी सही करा सकते हैं। जिसके लिए सरकार ने मेरी सड़क (रिपेयर ऑफ रोड) के नाम से एक सरकारी एप जारी किया है। इसके माध्यम से आप अपने गांव में नई सड़क बनाने और सड़क को रिपेयर करने को कह सकते हैं। यदि आपके गांव की सड़क अभी तक नहीं बनाई गई है या फिर किसी कारण खराब हो गई है तो आप इस एप के जरिए सीधे प्रधानमंत्री से इसकी शिकायत कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि वही खराब सड़कें सही होंगी जो प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाई गई हैं। इस एप को गुगल प्ले स्टोर से अपलोड किया जा सकता है। 

ऐसे करें मेरी सड़क (रिपेयर ऑफ रोड) एप का इस्तेमाल

  • सबसे पहले मेरी सड़क (रिपेयर ऑफ रोड) एप डाउनलोड करें।
  • ऐप डाउनलोड करने के बाद आपसे कुछ अनुमति मांगेगा। सभी परमिशन को Allow करना होगा।
  • इसके बाद भाषा का चुनाव करने को पूछा जाता है। यहां हिंदी और अंग्रेजी भाषाएं उपलब्ध हैं। इसमें से आप चुनाव कर सकते हैं।
  • अब यहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • अगर आप पहली बार ऐप को इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको अपना नाम, पासवर्ड, मोबाइल नंबर, ईमेल पता और पूरा पता देना होता है।
  • इसके बाद साइनअप पर क्लिक कर दें।
  • साइन अप प्रक्रिया होने के बाद साइन इन करें करने के लिए आप दुबारा आपका पंजीकृत मोबाइल नंबर मांगा जाता है।
  • अब आप पर आप लॉगिन हो चुके हैं। ऐप के होम स्क्रीन पर आपको रजिस्टर फीडबैक का विकल्प दिखाई देगा। इस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको ऑनसाइट और ऑफ साइट का ऑप्शन मिलेगा। 
  • ऑनसाइट पर क्लिक करने के बाद आपका लाइव लोकेशन आ जाता है। इसमें आपको जीपीएस लोकेशन की मदद से टैग किया जाता है। 
  • फिर आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना रोड की लाइव फोटो अपलोड करनी होती है। 
  • अगर आप उस लोकेशन पर नहीं हैं तो ऑफ साइट पर टैप करें। यहां अपनी फोन की गैलरी से उस साइट की फोटो अपलोड करें।
  • आप अधिकतम 3 फोटो अपलोड कर सकते हैं।
  • फोटो क्लिक करने के बाद नेक्स्ट ऑप्शन का उपयोग करें।
  • उसके बाद फिल डिटेल्स में उस स्थान की जानकारी दर्ज करें।
  • कैटेगरी ऑफ कंप्लेंट में शिकायत की कैटेगरी चुनें।
  • जिस रोड की फोटो आपने दी है वहां का राज्य, जिला, ब्लॉक, सड़क का नाम, गांव का नाम और बस्ती या मोहल्ले का नाम दर्ज करें।
  • अब सेव पर क्लिक कर दें। आपका अनुरोध सबमिट कर दिया गया है।
  • अंत में सबमिट ऑप्शन पर क्लिक कर दें।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की अब तक की प्रगति

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में अब तक 1.7 लाख बस्तियों जिनमें मैदानी क्षेत्र जहां पर जनसंख्या 500 से अधिक है और पहाड़ी क्षेत्र जहां पर जनसंख्या 250 से ज्यादा है को बारहमासी सड़कों से जोड़ा जा चुका है। 55 प्रतिशत (97,838) बस्तियों को मार्च 2014 तक जोड़ा गया, वहीं 82 प्रतिशत (80 प्रतिशत या 131,000 और 1.3 लाख पीएमजीएसवाई के तहत और 2 प्रतिशत या 14,620 राज्य सरकार स्कीम के तहत) को दिसंबर 2017 तक जोड़ा जा चुका है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 2004-14 के बीच रोजाना एवरेज 98.5 किलोमीटर था। वहीं 2016-17 में यह आंकड़ा बढक़र 130 किमी पहुंच गया। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की मदद से कई राज्यों जैसे मनिपुर के ग्रामीणों के रहन-सहन में फर्क पड़ा है, उनके जीवनशैली में परिवर्तन आया है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की तरह ही कई राज्यों में मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना को लागू किया गया है। इनमें बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र शामिल हैं। पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में सड़क किनारे पेड़ों को भी लगाया जा रहा है और इसमें कई लेवल पर सरकार को सफलता भी मिली है।  

अगर आप अपनी कृषि भूमिअन्य संपत्तिपुराने ट्रैक्टरकृषि उपकरणदुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back