पीएम किसान सम्मान निधि योजना : जानें कैसे मिलेगा किसान सम्मान निधि योजना का लाभ

पीएम किसान सम्मान निधि योजना : जानें कैसे मिलेगा किसान सम्मान निधि योजना का लाभ

Posted On - 04 Sep 2020

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM-Kisan Samman Nidhi Scheme ) से 8 करोड़ 81 लाख किसानों को मिला लाभ

केंद्र सरकार की ओर से किसानों की मदद के लिए सीधा उनके खातें में पैसा पहुंचाने के लिए चलाई गई पीएम किसान सम्मान निधि योजना का दायरा बढ़ता ही जा रहा है। किसानों को सीधी सहायता मिलने से किसान भी इस योजना में बढ़चढ़ कर दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इस योजना की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इस योजना में रजिस्ट्रेशन कराने वालों की संख्या के साथ ही इसके लाभार्थियों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। 

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना में करीब 10 करोड़ 50 लाख किसानों रजिस्ट्रेशन कराया है। जबकि अब तक इस योजना से 8 करोड़ 81 लाख किसानों को लाभ मिला है। वहीं जिन किसानों के खातें दुरुस्त है उन किसानों के खाते में नवंबर माह में पैसा आने की उम्मीद है। नवंबर माह तक में करीब 1.7 करोड़ किसानों किसानों के खातें में 3400 करोड़ रुपए ट्रांसर्फर किए जाएंगे। 

बता दें कि पीएम किसान योजना में किसानों को सहायता देने के लिए सरकार की ओर से पात्र किसानों को चार-चार महीने के अंतराल में 2,000 हजार रुपए की किस्त उनके खाते में सीधा ट्रांर्सफर की जाती है। कुल मिलाकर इस योजना के तहत सरकार की ओर से किसानों के खाते में सालाना 6000 हजार की रकम ट्रांर्सफर की जाती है। इस योजना के तहत सरकार का लक्ष्य 14 करोड़ किसानों को जोडऩे का है ताकि देश के अधिक से अधिक किसानों को इस योजना का लाभ मिल सके।

 


किन किसानों को मिलेगा इस योजना का लाभ / किन को नहीं

  • इस योजना की जब घोषणा की गई थी तब इसमें उन किसानों को लाभ प्रदान किया जाना था जिनके पास 2 हेक्टेयर या उससे कम की जमीन थी, किन्तु अब इसमें यह सीमा हटा दी गई हैं। इस योजना का लाभ अब सभी किसानों को प्राप्त होगा। लेकिन इसके लिए जरूरी हैं किसानों के पास उनकी खुद की जमीन हो, क्योंकि जिनके पास खुद की जमीन नहीं है उन्हें इस योजना में अभी शामिल नहीं किया गया है।
  • अगर कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेत उसके नाम ना होकर उसके पिता या दादा के नाम है, तो वह व्यक्ति इस योजना का फायदा नहीं उठा सकता है। 
  • कई बार जमीन दस्तावेजों में खेती योग्य भूमि के रूप में दर्ज होती है, लेकिन उसका इस्तेमाल कृषि कार्यों की बजाय दूसरे कार्यों में होता है। ऐसे खेत मालिक भी इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं।
  • गांवों में कई ऐसे किसान होते हैं, जो खेती के कार्यों से तो जुड़े होते हैं, लेकिन खेत उनके स्वयं के नहीं होते। अर्थात वे किसी और के खेतों में खेती करते हैं और खेत मालिक को इसके बदले हर फसल का हिस्सा देते हैं। ऐसे किसान भी पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों की सूची में शामिल नहीं होंगे।
  • ऐसे किसान जो भूतपूर्व या वर्तमान में संवैधानिक पद धारक हैं, वर्तमान या पूर्व मंत्री हैं, मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष हैं, विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सांसद हैं तो वे इस स्कीम से बाहर माने जाएंगे। भले ही वो किसानी भी करते हों।
  • केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं. बाकी पात्र होंगे।
  • पेशेवर, डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, जो कहीं खेती भी करता हो उसे लाभ नहीं मिलेगा।
  • पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले किसान इस लाभ से वंचित होंगे।
  • केंद्र और राज्य सरकार के मल्टी टास्किंग स्टाफ/चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों लाभ मिलेगा।


किसानों को कब - कब मिला इस योजना में पैसा

  1. पीएम किसान योजना पहली किस्त - फरवरी 2019 में जारी की गई थी
  2. पीएम किसान योजना दूसरी किस्त - 2 अप्रैल 2019 को जारी की गई थी
  3. पीएम किसान योजना तीसरी किस्त - अगस्त में जारी की गई थी
  4. पीएम किसान योजना चौथी किस्त - जनवरी 2020 में जारी की गई
  5. पीएम किसान योजना 5वीं किस्त - 1 अप्रैल, 2020 में जारी की गई
  6. पीएम किसान योजना छठी किस्त - 1 अगस्त से पैसा आना शुरू


वहीं प्रधानमंत्री ने 9 अगस्त को 8.5 करोड़ किसानों के बैंक अकाउंट में 17 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर किए थे। उसके बाद अगले 20 दिन में केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने 30 लाख और किसानों को 2-2 हजार रुपये भेज दिए हैं। इस साल नवंबर तक करीब पौने दो करोड़ और किसानों को पैसा मिलने की संभावना है।  


पैसा चाहिए तो दुरुस्त करें रिकार्ड 

जिन लोगों के अकाउंट में पैसा नहीं आया है वे भी अपना रिकॉर्ड चेक कर लें। आधार, अकाउंट नंबर और बैंक अकाउंट नंबर में गलती है तो उसे दुरुस्त कर लें, ताकि पैसा मिलने में दिक्कत न हो। रिकॉर्ड में कोई भी गड़बड़ी होगी तो आपको स्कीम का लाभ नहीं मिल पाएगा। पहले ही 1.3 करोड़ किसानों को आवेदन करने के बाद भी सिर्फ इसलिए पैसा नहीं मिल सका क्योंकि या तो उनके रिकॉर्ड में गड़बड़ी है या फिर आधार कार्ड नहीं है।

 

 


ऐसे चेक करें किसान अपना रिकार्ड 

  • पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम की वेबसाइट ( http://pmkisan.gov.in/ ) को लॉग इन करना होगा।
  • इसके बाद इसमें दिए गए 'Farmers Corner' वाले टैब में क्लिक करें। इसके खुलने के बाद आप अपना आवेदन किया हुआ फार्म देख सकते हैं। 
  • अगर आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार ठीक से अपलोड नहीं हुआ है या किसी वजह से आधार नंबर गलत दर्ज हो गया है तो इसकी जानकारी इसमें मिल जाएगी।
  • नाम की स्पेलिंग भी चेक कर लें यदि नाम में कि स्पेलिंग में गलत है तो उसमें सुधार करें। आधार नंबर यदि गलत है तो उसे भी सुधारा जा सकता है।


सब कुछ सही होने के बाद भी नहीं मिल रहा पैसा तो यह करें

आपके द्वारा आवेदन किए जाने के बाद और रिकार्ड दुरुस्त करने के बाद भी आपके खाते में पैसा नहीं आ रहा है तो आप अपने लेखपाल, कानूनगो और जिला कृषि अधिकारी से संपर्क करें। वहां से बात नहीं बने तो केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ओर से जारी हेल्पलाइन (PM-Kisan Helpline 155261 या 1800115526 (Toll Free) पर संपर्क करें। यहां भी काम नहीं बने तो मंत्रालय के दूसरे नंबर ( 011-24300606, 011-23381092) पर संपर्क करके समस्या का समाधान किया जा सकता है।

अगर आप अपनी  कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण,  दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।  

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back