पीएम आवास योजना की नई गाइडलाइन जारी, अब ऐसे करें आवेदन

प्रकाशित - 01 Jul 2022

पीएम आवास योजना की नई गाइडलाइन जारी, अब ऐसे करें आवेदन

जानें, ठगी से बचने के लिए और योजना का फॉर्म भरते समय किन बातों का रखें ध्यान 

देश के लोगों के लिए पीएम आवास योजना चलाई जा रही है। इस योजना में ग्रामीण और शहरी लोगों को सस्ती दर पर घर मुहैया कराया जाता है। इस योजना का उद्देश्य मुख्यरूप से आर्थिक दृष्टि से कमजोर लोगों को प्रदान किया जाता है। लेकिन इस योजना में कई बार ऐसे मामले आए हैं जिनमें धोखाधड़ी कर लोगों से रुपयों की ठगी की गई। इस प्रकार के मामलों को रोकने के लिए इसकी गाइडलाइन जारी की गई है। इसके अनुसार आपको आवेदन करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आप इस योजना के नाम पर होने वाली ठगी का शिकार नहीं बना सकें। आज हम ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से इन पांच बातों को आपसे शेयर कर रहे हैं ताकि आप किसी प्रकार की ठगी का शिकार नहीं हो और आपके घर लेने का सपना भी साकार हो जाए। तो आइए जानते हैं पीएम आवास योजना में आवेदन करते समय ध्यान रखने वाली बातें। 

Buy Used Tractor

आधार कार्ड की जानकारी किसी अनजान से नहीं करें शेयर

सभी योजनाओं में आधार कार्ड मांगा जाता है। आधार कार्ड आजकल सभी योजनाओं मेें अनिवार्य कर दिया गया है और इसे बैंक खाते से भी लिंक किया जाता है। इसलिए यदि आपका आधार कार्ड किसी गलत हाथों में चला गया तो आपके बैंक संबंधी सारी जानकारी उसके पास आ जाएगी। ऐसे में कोई इसका गलत फायदा उठा सकता है। इसलिए अपना आधार कार्ड किसी को न देें। यदि आपको किसी योजना में आवेदन करना है तो स्वयं करें और आधार कार्ड लगाएं। बता दें कि अधिकांशत: अब हर जगह आधार कार्ड की मांग रहती है। यदि आपके पास आधार कार्ड होता है तो कहीं भी पंजीकरण करवाने में परेशानी नहीं आती है। 

बैंक विवरण को ध्यान से भरें

इसके बाद आपको इस योजना के फॉर्म में आपसे आपके बैंक का विवरण मांगा जाता है जैसे- किस बैंक में खाता है, खाता संख्या क्या है, आधार से लिंक है या नहीं आदि, क्योंकि इस योजना में मिलने वाला सब्सिडी का पैसा इसी खाते में दिया जाएगा जिस खाते का विवरण आप आवेदन फॉर्म में देंगे। इसलिए बैंक संबंधी विवरण भरते समय काफी सावधानी बरतनी चाहिए। ऐसे में यदि आप लापरवाही करते हैं तो आपके साथ ठगी हो सकती है और देखते ही देखते आपका खाता भी खाली हो सकता है। इसलिए ध्यान रहे बैंक संबंधी विवरण भरते समय सावधानी बरते और सही तरीके से भरें। और हां, अपना बैंक संबंधी विवरण को किसी अनजान व्यक्ति से कभी साझा नहीं करें। 

मकान दिलाने के नाम पर किसी अनजान व्यक्ति को न दें पैसा

आजकल सरकारी योजना में मकान दिलाने के नाम पर काफी ठगी होने लगी है। हर कोई चाहता है कि उसका अपना मकान हो, ऐसे में कुछ लोग सरकारी योजना के नाम पर ठगी करते हैं। इसलिए सरकारी योजना के बारे में पूरी जानकारी हासिल करके ही उसमें आवेदन करना चाहिए और किसी भी अनजान को योजना के नाम पर पैसा देने से बचना चाहिए। यदि कोई आपसे इस योजना के नाम पर घर दिलाने की एवज में पैसा मांगे तो तुरंत पीएम आवास योजना के टोल फ्री नंबर पर शिकायत करें। 

 PM Awas Yojana : ओटीपी और एटीएम पिन नंबर को न करें शेयर

पीएम आवास योजना में आवेदन करने पर आपको ओटीपी नंबर दिया जाता है जो वेरिफिकेशन के काम आता है। इसलिए जो ओटीपी आपके मोबाइल पर आए उसे किसी अनजान व्यक्ति से कभी शेयर न करें। इसी के साथ अपना एटीएम पिन नंबर जो अत्यंत गोपनीय होता है उसे भी किसी से शेयर नहीं करें, क्योंकि ऐसा करने पर आपको आर्थिक नुकसान उठाना पड़ सकता है। आपके साथ पैसों की ठगी हो सकती है। 

पीएम आवास योजना में आवेदन के लिए इन दस्तावेजों की होती है आवश्यकता

पीएम आवास योजना में आवेदन करते समय आपको कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। आवेदन के लिए दस्तावेजों की सूची इस प्रकार से है-

1. वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए दस्तावेज

यदि आप वेतनभोगी कर्मचारी है और आप पीएम आवास योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए गए दस्तवेजों की आवश्यकता होगी।

पहचान प्रमाण-पत्र

आपके पास आपका आईडी कार्ड होना चाहिए। इसके लिए आप वोटर आईडी, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकार की ओर से जारी कोई भी फोटो आईकार्ड या किसी अन्य मान्य प्राधिकरण की ओर से जारी पत्र का प्रयोग कर सकते हैं।

पते का प्रमाण पत्र

एड्रेस प्रूफ या पते के प्रमाण-पत्र के तौर पर आपके पास आपका वोटर कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, जीवन बीमा पॉलिसी, स्टांप पेपर पर रेंट एग्रीमेंट, बैंक पासबुक पर लिखा पता होना चाहिए।

आय प्रमाण पत्र

इनकम प्रूफ के तौर पर आपका 6 माह का बैंक स्टेटमेंट, आईटीआर यानी इनकम टैक्स रिटर्न की रसीद, पिछले 2 महीने की सैलरी स्लिप होनी चाहिए।

संपति का प्रमाण पत्र

प्रापर्टी प्रूफ या संपत्ति के प्रमाण के रूप में आपके पास सेल्स डीड, सेल/परचेज एग्रीमेंट, प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट या पेमेंट की रसीद होनी चाहिए।

Buy Used Tractor

2. गैर वेतनभोगी वर्ग के लिए दस्तावेज

यदि आप गैर वेतनभोगी कर्मचारी की श्रेणी में आते हैं तो आपको इस योजना में आवेदन के लिए निम्न दस्तावेजों आवश्यकता होगी। 

पहचान प्रमाण पत्र

पेन कार्ड, वोटर आईडी, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकार द्वारा जारी कोई भी फोटो आईकार्ड, किसी मान्य प्राधिकरण की ओर से जारी पत्र।

पते का प्रमाण

पते के प्रमाण के रूप में आप वोटर कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, यूटिलिटी बिल की कॉपी, जिसमें टेलीफोन बिल, गैस का बिल, बिजली का बिल का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा किसी कामर्शियन नेशनलाइज्ड बैंक से पिछले 3 महीने का बैंक स्टेटमेंट, डाकघर में सेविंग अकाउंट पर एड्रेस, जीवन बीमा पॉलिसी, रेजीडेंस एड्रेस सर्टिफिकेट, स्टांप पेपर पर रेंट एग्रीमेंट, बैंक पासबुक पर लिखा पता बतौर पते के प्रमाण के रूप में प्रस्तुत कर सकते हैं।

आय प्रमाण-पत्र

गैर वेतनभोगी वर्ग के लोग इनकम प्रूफ के तौर पर पिछले 2 वित्तीय वर्ष की आईटीआर यानी इनकम टैक्स रिटर्न का दस्तावेज लगा सकते हैं।

बैलेंसशीट और प्रॉफिट एवं लॉस अकाउंट

पिछले 6 महीने की सेविंग अकाउंट स्टेटमेंट और बिजनेस एंटिटी के लिए 6 महीने का करंट अकाउंट स्टेटमेंट प्रस्तुत कर सकते हैं।

संपत्ति प्रमाण के लिए

  • प्रॉपर्टी डॉक्यूमेंट्स
  • एग्रीमेंट कॉपी
  • अगर उपलब्ध हो तो अलॉटमेंट लेटर
  • पेमेंट की रसीद

3. दुकान, फर्म या किसी कंपनी के मालिक होने पर ये देने होंगे दस्तावेज

  • दुकान, फर्म या किसी कंपनी के मालिक होने की दशा में एड्रेस प्रूफ इस प्रकार से देना होगा।
  • शॉप एंड एस्टेबलिशमेंट सर्टिफिकेट
  • ट्रेड लाइसेंस सर्टिफिकेट
  • एसएसआई रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • पेन कार्ड
  • सेल्स टैक्स/ वैट सर्टिफिकेट
  • फर्म होने की दशा में पार्टनरशिप डीड्स
  • फैक्ट्री रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • एक्सपोर्ट इंपोर्ट कोड सर्टिफिकेट

ऊपर हमने आपको पीएम आवास योजना में आवेदन के समय जो दस्तावेज दिए जाते हैं उनकी आपको जानकारी इस उद्देश्य से दी है ताकि आप आसानी से पीएम आवास योजना का फॉर्म भर सकें और ठगी के शिकार होने से भी बच सकें। 

पीएम आवास योजना के हेल्पलाइन नंबर

यहां हम आपको पीएम आवास योजना के हेल्पलाइन नंबर की जानकारी भी दे रहे हैं ताकि आप इस योजना के संबंध में कोई परेशानी हो तो मदद ले सकें और साथ ही इस योजना के तहत अपनी शिकायत भी दर्ज करा सकें। ये हेल्पलाइन नंबर इस प्रकार से हैं- 

  • प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) हेल्पलाइन नंबर 1800-11-6446 
  • प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी, एनएचबी) 1800-11-3377, 1800-11-3388, 1800-11-6163 (शहरी, हुडको)
  • राज्य स्तरीय टोल-फ्री नंबर - 18003456527
  • मोबाइल नंबर या व्हाट्सएप नंबर - 7004193202

​​​​​​ट्रैक्टर जंक्शन हमेशा आपको अपडेट रखता है। इसके लिए ट्रैक्टरों के नये मॉडलों और उनके कृषि उपयोग के बारे में एग्रीकल्चर खबरें प्रकाशित की जाती हैं। प्रमुख ट्रैक्टर कंपनियों महिंद्रा ट्रैक्टरन्यू हॉलैंड ट्रैक्टर आदि की मासिक सेल्स रिपोर्ट भी हम प्रकाशित करते हैं जिसमें ट्रैक्टरों की थोक व खुदरा बिक्री की विस्तृत जानकारी दी जाती है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

अगर आप नए ट्रैक्टरपुराने ट्रैक्टरकृषि उपकरण बेचने या खरीदने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार और विक्रेता आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु को ट्रैक्टर जंक्शन के साथ शेयर करें।

हमसे शीघ्र जुड़ें

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back