अब घर बैठे मिलेगी सरकारी बैंकों की सेवाएं, अक्टूबर से शुरू होंगी सुविधाएं

अब घर बैठे मिलेगी सरकारी बैंकों की सेवाएं,  अक्टूबर से शुरू होंगी सुविधाएं

Posted On - 12 Sep 2020

दिव्यांग व सीनियर सिटीजन को होगा फायदा

अब आपको घर सरकारी बैंकों की सेवाएं मिल सकेंगी। इस दिशा में सरकार ने सभी सरकारी बैंकों को निर्देश दिए है कि वे ग्राहकों तक अपनी पहुंच बनाने के लिए उन्हें घर बैठे बैंकिंग सेवाओं का लाभ प्रदान करें। यह सेवाएं ग्राहकों को अक्टूबर के महीने से प्रदान की जाएगी। इससे सबसे अधिक फायदा दिव्यांगों और सीनियर सिटीजन को होगा। इसके लिए सभी सरकारी बैंक तैयारी में जुटे हुए है। जानकारी के अनुसार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सरकारी बैंकों की डोरस्टेप बैंकिंग सर्विसेज का शुभारंभ किया है। ये सेवाएं ईज रिफॉर्म्स का हिस्सा हैं। इस पहल का मकसद ग्राहकों तक बैंकों की पहुंच बढ़ाना है। अभी केवल चेक और डिमांड ड्राफ्ट जैसी नॉन-फाइनेंशियल सर्विसेज ही डोरस्टेप बैंकिंग एजेंट के जरिये उपलब्ध कराई जाती हैं। सीतारमण ने ईज 2.0 इंडेक्स रैंकिंग को जारी करने के मौके पर यह जानकारी दी।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


ग्राहकों को मिलेंगी ये सेवाएं

  • ईज रिफॉर्म्स के तहत सरकारी बैंकों ने कई कदम उठाए हैं। इनमें डिजिटल सेवाओं को अपनाना, जोखिम प्रबंधन और अर्ली वॉर्निंग सिग्नल्स (ईडब्लूएस) की शुरुआत करना शामिल है।
  • ईज रिफॉर्म्स के तहत डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं पहुंचाने का भी लक्ष्य रखा गया है। इन्हें कॉल सेंटर, वेब पोर्टल या मोबाइल एप के जरिये पहुंचाया जाएगा।
  • ग्राहक इन चैनलों के जरिये अपनी सर्विस रिक्वेस्ट को भी ट्रैक कर सकते हैं।
  • डोरस्टेप बैंकिंग एजेंटों के जरिये यह सेवा दी जाएगी। इसके लिए देशभर में 100 सेंटरों पर चुने हुए सर्विस प्रोवाइडर लगाए जाएंगे।


और भी बेहतर सुविधाएं दें बैंक

सीतामरण ने बैंकों से कहा कि वे अपने कारोबार में सावधानी के नियमों का पालन करते हुए उद्यमों की जरूरतों को जितना हो सके पूरा करने का प्रयास करें। उन्होंने बैंकों से डिजिटल प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करते हुए आर्थिक हालत सुधारने में कारगर मदद का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि बैंक स्मार्टफोन के अलावा यदि फीचर फोन पर भी बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध करा पाएं तो यह बहुत बड़ा परिवर्तनकारी कदम होगा।


बेहतर सुविधाओं के लिए ये बैंक टॉप तीन में शामिल

ईज इंडेक्स सरकारी बैंकों को उनके प्रदर्शन के आधार पर रैंक देता है। यह रैंकिंग कई पैमानों पर की जाती है। इनमें जिम्मेदार बैंकिंग, गवर्नेंस और एचआर, क्रेडिट ऑफटेक, ग्राहक को प्रतिक्रिया और छोटे उद्योगों के लिए उद्यमी मित्र जैसे पैमाने शामिल हैं। मार्च 2019 से मार्च 2020 के दौरान पीएसबी के कुल स्कोर में 37 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, 100 में से औसत ईज इंडेक्स स्कोर 49.2 से बढक़र 67.4 हो गया है। रैंकिंग में टॉप 3 पीएसबी में बैंक ऑफ बड़ौदा, भारतीय स्टेट बैंक और पंजाब नेशनल बैंक का हिस्सा बन चुका ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स शामिल हैं।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back