कृषक बंधु योजना : किसानों और खेतीहर मजदूरों को मिलेंगे 10 हजार रुपए

Published - 21 Jun 2021

कृषक बंधु योजना : किसानों और खेतीहर मजदूरों को मिलेंगे 10 हजार रुपए

जानें, राज्य के किसान कैसे हो सकते हैं इस योजना में शामिल

केंद्र सरकार और राज्य सरकार की ओर से किसानों की आय में बढ़ोतरी करने के उद्देश्य से कई लाभकारी योजनाएं चलाई रही हैं जिसका किसानों को लाभ हो रहा है। इसी क्रम में पश्चिम बंगाल में कृषक बंधु योजना को फिर से लागू कर दिया गया है। इस योजना को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर सत्ता में आने पर किसानों के लिए शुरू किया है। अबकी बार किसानों को इस योजना से दुगुना फायदा होगा। पहले इस योजना के तहत किसानों को प्रति एकड़ 5 हजार रुपए दिए जाते थे लेकिन अब इसके डबल 10 हजार रुपए की वित्तीय सहायता दी जाएगी। इस योजना का लाभ राज्य के करीब 75 लाख से अधिक किसानों को मिलेगा। 

Buy Used Tractor

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 


क्या है कृषक बंधु योजना

राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सरकार अपने राज्य के किसानों के लिए एक खास योजना चलाती है। इसका नाम कृषक बंधु योजना है। यह योजना 1 जनवरी 2019 को राज्य में लागू की गई थी। इसके तहत किसानों को प्रति एकड़ 5 हजार रुपए की सहायता दी जाती है। ये राशि साल में दो बार दो किश्तों में दी जाती है। इस योजना के तहत अन्य कई लाभ भी दिए जा रहे हैं। ममता सरकार की इस कृषक बंधु योजना के तहत 47 लाख से अधिक किसान पंजीकृत हैं।


छोटी जोत के किसानों को भी किया गया है योजना में शामिल

मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार पिछले दिनों हुए संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हमारी (कृषक बंधु) योजना केंद्र की योजना (पीएम-किसान योजना) की तुलना में कहीं अधिक समावेशी है। छोटी जोत रखने वाले किसान केंद्रीय परियोजना में शामिल नहीं हैं। हम किसान समुदाय के हर तबके के बारे में सोचते हैं। 


कृषक बंधु योजना के लिए जारी किए 290 करोड़ रुपए

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने 9.78 लाख किसानों को कृषक बंधु योजना के तहत सहायता मुहैया कराने के लिए 290 करोड़ रुपए जारी किए है। उन्होंने दावा किया कि पश्चि बंगाल देश के उन कई अन्य हिस्सों की तुलना में एक अपवाद है, जहां किसानों की नियमित रूप से मौत होती है और छह महीने से अधिक समय तक किसानों को सडक़ पर आंदोलन करना पड़ता है। ममता ने कहा कि उनकी सरकार ने अब तक किसानों के लिए बीमा प्रीमियम के रूप में एक बड़ी राशि खर्च की है। उन्होंने कहा कि किसी किसान की मृत्यु के बाद, हम परिवार को दो लाख रुपए देते हैं।

Buy Used Tractor


कृषक बंधु योजना से किसानों को होने वाले लाभ

  • 18 साल से 60 वर्ष तक की उम्र के किसी भी किसान के परिवार को अधिकतम 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता जीवन बीमा कवर के रूप में प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के तहत किसान परिवार को 2 लाख रुपए तक का सामाजिक सुरक्षा का लाभ प्रदान किया जाता है। भले ही मृत्यु का कारण कोई भी रहा हो। भले ही किसान ने आत्महत्या ही क्यों न की हो। अर्थात लाभार्थी किसान के परिवार को निश्चित सहायता प्रदान की जाती है।
  • कृषक बंधु योजना पूरी तरह राज्य सरकार की योजना है। क्योंकि इस योजना के प्रीमियम की 80 प्रतिशत धनराशि राज्य सरकार की ओर से दी जाती है, बची हुई 20 प्रतिशत धनराशि ही केंद्र सरकार देती है। 
  • यह योजना किसानों को सुनिश्चित आय का लाभ भी प्रदान करती है। इस योजना के तहत प्रति एकड़ 5000 रुपए की धनराशि वार्षिक रूप से 2 किस्तों में किसानों के खाते मे भेजी जाती है।
  • कृषक बंधु योजना एक बहुत विशाल योजना है। यही कारण है कि इस योजना के दायरे में राज्य के 75 लाख से अधिक किसान आते हैं।
  • इस योजना के तहत लाभार्थी किसानों को प्रीमियम की राशि नहीं देनी पड़ती है। पूरे का पूरा प्रीमियम राज्य सरकार के द्वारा ही जमा किया जाता है।


कृषक बंधु योजना में कब-कब होता है किस्त का भुगतान

एक या एक एकड़ से अधिक भूमि वाले किसानों को रबी और खरीफ दोनों मौसमों के लिए 5000 रुपए दो किश्तों में दिए जाएंगे। पहली किश्त जून के महीने में प्रदान की जाएगी तथा दूसरी किस्त नवंबर महीने में दी जाएगी। साथ ही किसानों को न्यूनतम सहायता दी जाएगी जो की प्रो-राटा के आधार पर 2 हजार रुपए प्रतिवर्ष प्रदान किए जाएंगे। 


कृषक बंधु योजना के लिए पात्रता

  • कृषक बंधु योजना के तहत आवेदन करने के लिये पश्चिम बंगाल का मूल निवासी होना जरूरी है।
  • आवेदक किसान की उम्र कम से कम 18 वर्ष तथा अधिकतम 60 वर्ष होनी चाहिए।
  • इस योजना के तहत राज्य के खेतिहर मजदूर तथा किसान दोनों ही पात्र माने जाएंगें।


कृषक बंधु योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • बीमा लाभ प्राप्त करने के लिए किसान का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • दुर्घटना में मृत्यु की दशा में किसान की पोस्टमार्टम रिपोर्ट
  • बीमा क्लेम की स्थिति में किसान के परिवार के सदस्य अथवा रिश्तेदार का आधार कार्ड
  • मृतक किसान का आयु प्रमाण पत्र।


कृषक बंधु योजना में कैसे कराएं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

इस योजना के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने एक पोर्टल बनाया है। रजिस्ट्रेशन करने के लिए किसानों को कृषक बंधु योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://krishakbandhu.net/ पर जाना होगा। होम पेज पर तीसरे नंबर के ऑप्शन पर क्लिक कर आप लॉगइन कर सकते हैं। अगर आप पहले से रजिस्टर्ड नहीं हैं तो आप रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर कर पंजीकरण करा सकते हैं। रजिस्ट्रेशन करने के लिए पोर्टल पर आपसे जुड़ी तमाम जानकारियां मांगी जाती हैं, जिसे आपको भरना होगा।  अंत में सब्मिट बटन पर क्लिक करते ही यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसके बाद आप यूजर नेम और पासवर्ड के जरिए लॉगइन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन करने के बाद प्राप्त यूजरनेम और पासवर्ड के जरिए ही आप लॉगिन कर अपने फॉर्म का स्टेटस चेक कर सकते हैं। इस प्रक्रिया में कोई दिक्कत या परेशानी होने पर किसान भाई सुबह 10 बजे लेकर शाम 6 बजे तक हेल्प लाइन नंबर 8336957370  नंबर पर कॉल कर सहायता ले सकते हैं।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back