आईसीआईसीआई की नई होम लोन स्कीम : अब घर खरीदने का सपना होगा पूरा

आईसीआईसीआई की नई होम लोन स्कीम : अब घर खरीदने का सपना होगा पूरा

Posted On - 25 Sep 2020

छोटे कामगारों को मिल सकेगा 50 लाख तक का लोन, बस देने होंगे ये तीन कागजात

अब छोटे कामगारों जैसे बिजली मिस्त्री, दर्जी, पेंटर, वेल्डिंग का काम करने वाले, प्लंबर, वाहन मिस्त्री, विनिर्माण मशीन चलाने वाले, आरओ ठीक करने वाले, लघु और मझोले कारोबार करने वाले और किराना दुकानदारों को अब होम लोन होम मिल सकेगा। इसके लिए आईसीआईसीआई ने एक नई स्कीम शुरू की है। इसके तहत आईसीआईसीआई होम फाइनेंस द्वारा दिल्ली में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कुशल कामगारों को होम लोन मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए बैंक ने  अपना होम डिम्ज स्कीम की शुरुआत कर दी है। इस स्कीम के अंतर्गत 2 लाख से लेकर 50 लाख तक का लोन लिया जा सकता है।  

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रैक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


बस इन तीन कागजातों से चल जाएगा काम

आईसीआईसीआई होम फाइनेंस के अनुसार, लोन स्कीम असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले उन लोगों के लिए है जो अपना घर खरीदना चाहते हैं। लेकिन, उनके पास वे दस्तावेज नहीं हैं, जिसकी मांग आमतौर पर बैंक और वित्तीय संस्थान कर्ज देने के लिए करते हैं। इस स्कीम के तहत कामगारों को होम लोन लेने के लिए ज्यादा दस्तावेजों की जरुरत नहीं पड़ेगी। सिर्फ उन्हें ये तीन कागजात देने होंगे उससे ही उनका काम चल जाएगा। 

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • छह महीने का बैंक स्टेटमेट

 


20 साल की अवधि के लिए मिलेगा लोन

इस स्कीम के तहत ग्राहक 20 साल के लिए कर्ज ले सकते है। स्कीम के अनुसार पांच लाख रुपए तक आपके के कर्ज के लिए न्यूनतम 1,500 रुपए खाते में होने चाहिए। वहीं 5 लाख रुपए से अधिक के कर्ज लेना चाहते हैं तो आपके  खाते में न्यूनतम 3,000 रुपए होना आवश्यक है। 


2.67 लाख रुपए तक की मिल सकती है सब्सिडी 

कंपनी के अनुसार इस स्कीम के तहत ग्राहक प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) का भी लाभ उठा सकते हैं। यह निम्न आय वर्ग/ आर्थिक रूप से कमजोर तबकों (ईडब्ल्यूएस/एलआईजी) और मध्यम आय वर्ग (एमआईजी-1 और 2) के लिए क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना है। इस योजना के तहत कर्ज लेने वाला अधिकतम 2.67 लाख रुपए तक की सब्सिडी प्राप्त कर सकता है।


यह रहेगी ब्याज दर 

25 लाख रुपए की ऋण राशि पर पहली बार घर खरीदने वाले व्यक्ति के लिए, 15 लाख रुपए की वार्षिक पारिवारिक आय और 9.10 प्रतिशत प्रति वर्ष की ब्याज दर के साथ, प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत 2.30 लाख रुपए की सब्सिडी को ध्यान में रखते हुए गणना की गई है। ऋण राशि, प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) की सब्सिडी और लागू आयकर स्लैब के आधार पर प्रभावी ब्याज दर भिन्न हो सकती है। प्रभावी दर केवल प्रथम वर्ष के लिए लागू है।

उदाहरण के लिए, यदि आपकी वार्षिक पारिवारिक आय 15 लाख रुपए है और आप आईसीआईसीआई बैंक से प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) की क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) के साथ 25 लाख रुपए का होम लोन प्राप्त करते हैं, तो आपको 2.30 लाख रुपए की सब्सिडी मिलेगी। साथ ही अपनी उपयुक्त आय पर, आप एक वर्ष तक 72,244 रुपए प्रतिवर्ष का आयकर लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे। इसलिए, हालांकि, आपके ऋण खाते पर लागू ब्याज दर 9.10 प्रतिशत प्रति वर्ष है, लेकिन उपर्युक्त लाभों पर विचार करते हुए पहले वर्ष के लिए प्रभावी ब्याज दर 5.14 प्रतिशत प्रतिवर्ष होगी।


कंपनी का मकसद छोटे कामगारों के घर का सपना पूरा करना

आईसीआईसीआई होम फाइनेंस कंपनी के एमडी और सीईओ अनिरुद्ध कमानी ने मीडिया को बताया कि आईसीआईसीआई होम फाइनेंस में हमारा मकसद असंगठित क्षेत्र में कठिन मेहनत करने वाले पेशेवरों और स्थानीय छोटे कारोबारियों को अपना घर खरीदने के सपने को पूरा करने के लिए कर्ज की पेशकश करना है।


आईसीआईसीआई की अधिकृत वेबसाइट

विशेष: इस संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप आईसीआईसीआई की अधिकृत वेबसाइट पर जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
icicibank.com/Hindi/Personal-Banking/loans/home-loan/index.html

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back