हरियाणा किसान मित्र योजना २०२० : अब हर गांव में खोले जाएंगे किसान मित्र क्लब

हरियाणा किसान मित्र योजना २०२० : अब हर गांव में खोले जाएंगे किसान मित्र क्लब

Posted On - 13 Jun 2020

हरियाणा किसान मित्र क्लब योजना (Haryana Kisan Mitra Yojana )

किसान भाइयों का ट्रैक्टर जंक्शन में स्वागत है। आज हम आपको बताएंगे हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई किसान मित्र क्लब योजना के बारे में कि यह योजना किस तरह किसानों के लिए मददगार साबित हो सकती है और किसानों को इससे क्या फायदा होगा। हाल ही में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य के छोटे किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए किसान मित्र क्लब योजना घोषणा की है। इस योजना के तहत सरकारी अधिकारी, प्रगतिशील किसान व वालिंटियर्स अन्य किसानों को कृषि उत्पादकता बढ़ाने के लिए बेहतर वित्तीय प्रबंधन, कृषि संबंधित नवीन तकनीक अपनाने में सहयोग करेंगे।

मीडिया व समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों के अनुसार राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि किसान मित्र क्लब योजना के तहत सरकारी अधिकारी, प्रगतिशील किसान व वालिंटियर्स किसानों को सुझाव देंगे, जिससे कि उनकी आय में वृद्धि हो। उन्होंने कहा कि 100 किसानों पर एक किसान मित्र होगा, इस प्रकार प्रदेश में 17 लाख किसानों पर 17 हजार किसान मित्र होंगे। गौरतलब है कि बीते 17 मार्च को हरियाणा सरकार ने 1 अप्रैल 2017 से पहले गठित किए गए सभी किसान क्लबों को भंग कर दिया था। इनका कहना है कि पिछले 3 साल में जिन क्लबों का पुर्नगठन हुआ है, सिर्फ वही मान्य होंगे। जानकारी के लिए बता दें कि कृषि विभाग द्वारा गठित किसान क्लबों के जरिए सभी योजनाओं की जानकारी सीधे किसानों तक पहुंच जाती थी। अब यही काम इन नए क्लब द्वारा किया जाएगा। 

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1

 

क्या है किसान मित्र क्लब योजना ( Kisan Mitra Club scheme)

हरियाणा राज्य के वे सभी छोटे किसानों जिनके पास 2 एकड या उससे कम जमीन है उन किसानों के लिए हरियाणा सरकार द्वारा किसान मित्र क्लब योजना बनाई गई है। इस योजना के तहत प्रगतिशील किसान छोटे किसानों को कृषि उत्पादकता बढऩे के लिए प्रेरित करेंगे और साथ ही किसानों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी भी देंगे जिससे कृषि उत्पादन में वृद्धि होने के साथ ही किसानों की आय में भी वृद्धि हो सके। इसके लिए पहले किसान मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह योजना मोदी सरकार के 2022 तक किसान की आय दुगुनी करने के विजन पर कार्य करेगी। इस योजना का लाभ कृषि के साथ ही डेयरी, बागवानी व अन्य संबद्ध क्षेत्रों से संबंधित लोगों को मिलेगा। इस योजना की खास बात यह रहेगी कि इस योजना से जुडऩे के बाद किसान को सभी योजनाओं का प्रत्यक्ष लाभ मिल सकेगा। 

 

 

इस योजना से ऐसे बढ़ेगी किसान की आय

किसान मित्र योजना के साथ जुडक़र किसान अपनी आय बढ़ा सकेंगे। राज्य सरकार ने पशुपालन क्षेत्र को विकसित करने के लिए भी यह योजना शुरू की है। किसानों ने दुग्ध उत्पादकता शुरू करने के लिए पशुपालन के्रडिट कार्ड योजना देने की घोषणा की है। इससे पशुपालक किसानों को फायदा होगा। उन्हें बिना ब्याज निश्चित राशि के लिए अपने पशुओं पर लोन मिल सकेगा। इस योजना से जुडक़र किसान हरियाणा सरकार द्वारा चलाई जा रही अन्य योजनाओं का लाभ भी प्राप्त कर सकेगा। इस योजना के तहत, दो एकड़ या उससे कम भूमि वाले किसानों को सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का लाभ मिलेगा। 

 

यह भी पढ़ें : सखी योजना क्या है : गांवों की 58 हजार महिलाओं को मिलेगी नियुक्ति

 

किसान मित्र क्लब योजना 2020 का उद्देश्

हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई किसान मित्र योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना हैं। यह योजना राज्य के किसानों, पशुपालन, डेरी, बागवानी छोटे किसानों को प्रेरित करने के लिए शुरू की गयी है। इस योजना के जरिये कृषि के साथ-साथ पशुपालन, डेरी, बागवानी व अन्य संबद्ध क्षेत्रों से जुड़े किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा। इस योजना के माध्यम से, हरियाणा को 15 करोड़ रुपए का अतिरिक्त अनुदान मिलेगा। 

 

किसान मित्र क्लब योजना के लाभ

  • हरियाणा किसान मित्र योजना 2020 के तहत राज्य के छोटे किसान जिनके पास 2 एकड़ या उससे कम खेती योग्य भूमि है उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा। 
  • इस योजना का लाभ हरियाणा राज्य के छोटे किसानों, पशुपालकों, डेयरी, बागवानी और अन्य संबद्ध क्षेत्रों तक बढ़ाया जाएगा।
  • हरियाणा राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई किसान मित्र क्लब योजना से जुडक़र किसान अपनी आय बढ़ा सकेंगे।
  • सरकार द्वारा शुरू की जा रही कल्याणकारी योजना से राज्य के किसान लाभान्वित होंगे।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना हैं।

 

इस योजना से जुडऩे के लिए पात्रता

  • किसान का हरियाणा राज्य का निवासी होना जरूरी है क्योंकि यह योजना केवल हरियाणा के किसानों के लिए ही वहां की सरकार ने शुरू की है। अन्य राज्य के किसान इस योजना के पात्र नहीं होंगे।
  • इस योजना के लिए वे सभी किसान पात्र होंगे जिनके पास दो एकड़ या उससे कम जमीन है और वह वर्तमान में खेती का कार्य करता है।  

आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • आवास प्रामाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जमीन के कागजात

 

 

कैसे करें ऑनलाइन आवेदन

जो किसान इस योजना के तहत दिए गए मापदंडों को पूरा करते हैं वह इस योजना में आवेदन कर सकेंगे। फिलहाल हम आपको बता दें कि अभी इस योजना के लिए आनलॉइन आवेदन करने की अधिकारिक तौर पर कोई वेबेसाइट शुरू नहीं की गई है। इसलिए जैसे ही इसकी वेबसाइट शुरू की जाएगी आपको इसके बारे में ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से अवगत करा दिया जाएगा। इसलिए बने रहिए हमारे साथ।

 

सभी कंपनियों के ट्रैक्टरों के मॉडल, पुराने ट्रैक्टरों की री-सेल, ट्रैक्टर खरीदने के लिए लोन, कृषि के आधुनिक उपकरण एवं सरकारी योजनाओं के नवीनतम अपडेट के लिए ट्रैक्टर जंक्शन वेबसाइट से जुड़े और जागरूक किसान बने रहें।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back