फ्री रेंटल स्कीम : 31 हजार किसानों को मिले फ्री में ट्रैक्टर और कृषि यंत्र

फ्री रेंटल स्कीम : 31 हजार किसानों को मिले फ्री में ट्रैक्टर और कृषि यंत्र

Posted On - 03 Aug 2021

जानें, क्या है फ्री रेंटल स्कीम और इससे लाभ

कोरोना संक्रमण के दौर में लगे लॉकडाउन में किसानों को काफी आर्थिक हुआ है। इसे देखते हुए राजस्थान सरकार किसानों को राहत पहुंचाते हुए फ्री रेंटल योजना लेकर आई थी। इसके तहत किसानों को फ्री में ट्रैक्टर और अन्य कृषि यंत्रों का लाभ दिया गया। इस योजना का फायदा करीब 31 हजार से अधिक किसानों को मिला। राजस्थान सरकार की ये योजना लॉकडाउन में किसानों के लिए काफी लाभकारी सिद्ध हुई। इस योजना को सरकार ने टैफे कंपनी के साथ मिलकर सफल बनाया। इस योजना के तहत कोई भी किसान जिनके पास 2.5 एकड़ से कम भूमि है इसका लाभ प्राप्त कर सकते है। इतना ही नहीं जिस किसान के पास अपना ट्रैक्टर है वह इस योजना से जुडक़र अपना ट्रैक्टर किराये पर दे सकते है, और इससे पैसा कमा सकते हैं। इस वर्ष यह योजना 1 जून 2021 से 31 जुलाई 2021 तक था। इस बीच राज्य के किसानों ने इस योजना का लाभ उठाया है। 

Buy Used Livestocks

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1 


क्या है फ्री रेंटल योजना

राजस्थान सरकार की ओर से छोटे किसानों की मदद के लिए फ्री रेंटल स्कीम चलाई गई है। इसके तहत राज्य के 2.5 में एकड़ से कम भूमि के किसान मालिकों को ट्रैक्टर, बिजाई मशीन, रोटावेटर, हल, प्लाव जैसे खेती के यंत्र को बिना किराया लिए उपलब्ध कराए जाते हैं। इसे राजस्थान के किसानों के लिए इस वर्ष खरीफ सीजन में 31 जुलाई 2021 तक के लिए लागू किया गया था। इसके बाद योजना का लाभ निर्धारित किराया राशि देकर उठाया जा सकता है। 


किसान इस तरह ले सकते हैं योजना का लाभ

1 जून से 31 जुलाई तक राज्य के 31 हजार 326 किसानों ने योजना का लाभ प्राप्त किया है। इस अवधि में ट्रैक्टर तथा अन्य कृषि उपकरण से किसानों की 54 हजार 728 एकड़ जमीन पर 88 हजार 92 घंटे कार्य किया गया है। पिछले वर्ष इसी अवधि में 1 लाख घंटे तक ट्रैक्टर चला था। ये योजना 31 जुलाई 2021 तक फ्री थी। इसके बाद किसान निर्धारित शुल्क देकर इस योजना का लाभ लें सकेंगे। किसान https://jfarmservices.com लिंक के माध्यम से खुद को JFarm Services एप पर रजिस्टर कर आर्डर बुक कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए किसान टोल फ्री नंबर 18004200100 पर कॉल करके प्राप्त कर सकते हैं।


किस जिले के कितने किसानों को मिला योजना का फायदा

कृषि मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने बताया कि इस स्कीम के तहत जयपुर में सर्वाधिक 3 हजार 680 किसानों ने लाभ प्राप्त किया है। इसी प्रकार सीकर के 3 हजार 592 किसान, अलवर के 2 हजार 755 किसान, झुंझुन के 2 हजार 687 किसान, नागौर के 2 हजार 406 किसान, टोंक के 1 हाजर 711 किसान, करौली के 1 हजार 672 किसान, जोधपुर के 1 हजार 638 किसान, अजमेर के 1 हजार 413 किसान, बारां के 1 हजार 217 किसान एवं भरतपुर के 1 हजार 152 किसानों ने योजना का लाभ प्राप्त किया है।  इस वर्ष किसानों की संख्या पिछले वर्ष के मुकाबले कहीं ज्यादा है। पिछले वर्ष इस योजना का लाभ 27 हजार किसानों ने प्राप्त किया था। इसके लिए 1 लाख घंटे से ज्यादा का नि:शुल्क सेवा किसानों को दी गई थी।

COVID Vaccine Process

 

ट्रैक्टर मालिक किसान कमा सकते हैं इस योजना से पैसा

इस योजना का लाभ ट्रैक्टर  मालिक भी लाभ उठा सकते हैं राज्य में ट्रैक्टर तथा अन्य कृषि यंत्र रखने वाले किसान इस योजना के तहत पैसा कमा सकते हैं। इसके लिए अपना ट्रैक्टर को पंजीयन कराकर आर्डर प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के तहत फर्गुसन और आयशर ट्रैक्टर मालिक https://jfarmservices.com लिंक के माध्यम से पंजीयन करा सकते हैं।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top