गांव में गोदाम बनाने पर किसानों को मिलेगी 1.75 लाख रुपए की सब्सिडी

गांव में गोदाम बनाने पर किसानों को मिलेगी 1.75 लाख रुपए की सब्सिडी

Posted On - 23 Apr 2021

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना : जानें, कौनसे किसान होंगे पात्र और कहां करना है आवेदन?

केंद्र और राज्य सरकारों ने किसानों के लिए बहुत सी योजनाओं का संचालन किया है। इससे किसानों को लाभ मिल रहा है। इसी क्रम में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत भंडार गृह यानि गोदाम बनाने के लिए भी किसानों को सरकार की ओर से अनुदान दिया जाता है जिससेे उत्पादित वस्तुओं का भंडारण कर सुरक्षित रखा जा सके। इसके तहत अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग सब्सिडी दी जाती है। अभी फिलहाल मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों से 50 मीट्रिक टन का भंडार गृह (गोदाम) बनाने के लिए आवेदन मांगे हैं। इच्छुक किसान इसमें आवेदन कर योजना का लाभ उठा सकता है। 

Buy New Holland 3037 TX

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रेक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


योजना के लिए पात्रता

यह योजना राज्य के अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के 51 जिले के किसानों के लिए हैं। राज्य के सभी जिलों को मिलाकर 425 प्याज भंडारण का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य में अनुसूचित जाति के किसानों के लिए 173 तथा अनुसूचित जनजाति के किसानों के लिए 252 प्याज भंडारण का लक्ष्य है। यह योजना मध्य प्रदेश के सभी जिलों में लागू की गई है तथा सभी जिले से इच्छुक किसान आवेदन कर सकते हैं। अभी सरकार ने राज्य के अनुसूचित जाति एवं जनजाति के किसानों के लिए लक्ष्य जारी किए हैं। इसके अतिरिक्त सामान्य अथवा पिछड़े वर्ग के किसान अभी योजना के लिया आवेदन नहीं कर पाएंगे। 


प्याज गोदाम निर्माण पर दी जाने वाली सब्सिडी

यह योजना राज्य पोषित योजना होने के कारण मध्य प्रदेश उद्यानिकी विभाग हितग्राही को सब्सिडी उपलब्ध करा रहा है। लाभार्थी किसानों को प्याज भंडार गृह पर 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी दिए जाने का प्रावधान है। मध्य प्रदेश उद्यानिकी विभाग के तरफ से 50 मीट्रिक टन क्षमता वाले भंडारण के लिए अधिकतम 3,50,000 /- रुपए की लागत तय की गई है। इसमें किसानों को लागत की अधिकतम 1,75,000 रुपए तक की सब्सिडी दी जाएगी।

Buy New Holland Excel 5510


योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक शर्तें

  • हितग्राही किसान को कम से कम 2 हेक्टेयर क्षेत्रफल में प्याज का उत्पादन करना आवश्यक है। इसके साथ ही प्याज भंडारण का उपयोग किसी अन्य कामों के लिए नहीं किया जा सकता है।
  • प्याज भंडारण गृह का निर्माण एनएचआरडीएफ द्वारा जारी डिजाइन/ड्राइंग एवं निर्धारित मापदंड अनुसार होना चाहिए एवं आशय पत्र जारी होने के बाद अधिकतम छह माह के भीतर प्याज भंडार गृह का निर्माण पूर्ण करना आवश्यक होगा।


किसानों को कब तक दी जाएगी सब्सिडी

किसानों द्वारा निर्मित प्याज भंडारण गृह का शत-प्रतिशत भौतिक सत्यापन हेतु जिले के उप / सहायक संचालक उद्यान की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय समिति गठित की जाएगी। समिति के मूल्यांकन एवं भौतिक सत्यापन तथा अनुशंसा के आधार पर संबंधित किसान को अनुदान की राशि का भुगतान नियमानुसार एम.पी.एगो द्वारा डी.बी.टी. के माध्यम से किसानों के बैंक खातों में किया जाएगा।


प्याज भंडार गृह सब्सिडी के लिए यहां करें आवेदन

मध्यप्रदेश में किसानों को आवेदन करने के लिए ऑनलाइन पंजीयन उद्यानिकी विभाग मध्यप्रदेश फार्मर्स सब्सिडी ट्रैकिंग सिस्टम https://mpfsts.mp.gov.in/mphd/#/  पर जाकर किसान पंजीयन कर सकते हैं। प्याज भंडारण गृह निर्माण के लिए आवेदन 23/04/2021 के सुबह 11 बजे से किया जाएगा। यह आवेदन जिले के दिए हुए लक्ष्य के अनुसार किया जाएगा। आवेदन लक्ष्य से 10 प्रतिशत अधिक तक आवेदन किया जा सकता है। भंडार गृह एवं के लिए आवेदन उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग मध्यप्रदेश के द्वारा आमंत्रित किए गए हैं अत: किसान भाई यदि योजनाओं के विषय में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए उद्यानिकी एवं विभाग मध्यप्रदेश पर देख सकते हैं।

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back