सोयाबीन की बंपर पैदावार के लिए किसान अपनाएं ये टिप्स- जानें पूरी जानकारी

प्रकाशित - 08 Jul 2022

सोयाबीन की बंपर पैदावार के लिए किसान अपनाएं ये टिप्स- जानें पूरी जानकारी

जानें, सोयाबीन की खेती में ध्यान रखने योग्य जरूरी बातें

तिलहन फसलों में सोयाबीन का अपना एक अलग स्थान है। सोयाबीन का भारत में 12 मिलियन टन उत्पादन होता है। भारत में सबसे ज्यादा सोयाबीन का उत्पादन मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान में किया जाता है। इस खरीफ सीजन में किसान सोयाबीन की खेती से अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। सोयाबीन की अधिक पैदावार लेने के लिए किसानों को कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए।

कब करें सोयाबीन की बुवाई

किसानों को अपने क्षेत्र में पर्याप्त वर्षा (100 मिमी.) होने की स्थिति में ही सोयाबीन की बुवाई करनी चाहिए। इससे कम बारिश में इसकी बुवाई नहीं करनी चाहिए।

कैसे करें किस्म का चयन

  • संभावित हानि से बचने के लिए किसान को सोयाबीन की एक ही किस्म की बुवाई करने के स्थान पर अपने खेत में विभिन्न समयावधि में पकने वाली 2-3 अनुशंसित किस्मों की खेती को प्राथमिकता देनी चाहिए। 
  • बीज गुणवत्ता (न्यूनतम 70 प्रतिशत अंकुरण) के आधार पर बीज दर का प्रयोग करना चाहिए। 
  • सोयाबीन की बुवाई के लिए प्रमाणिक बीज ही उपयोग लेना चाहिए। 
  • यदि स्वयं के खेत में पिछली बार बचाए गए बीज प्रयोग में ले रहे है तो उसे पहले उपचारित कर लेना चाहिए।

कैसे करें सोयाबीन की बुवाई

  • सोयाबीन की बुवाई कतारों में करनी चाहिए जिससे फसलों का निराई करने में आसानी होती है।
  • विपरीत मौसम (सूखे की स्थिति ,अति वृष्टि आदि ) से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए सोयाबीन की बोवनी बी.बी.एफ.पद्धति या रिज एवं फरो पद्धति से करनी चाहिए।
  • कतारों में सोयाबीन की बुवाई करते समय कम फैलने वाली प्रजातियों जैसे जे.एस. 93-05, जे.एस. 95-60 इत्यादि के लिए बुवाई के समय कतार से कतार की दूरी 40 से.मी. रखनी चाहिए।
  • वहीं अधिक फैलनेवाली किस्में जैसे जे.एस. 335, एन.आर.सी. 7, जे.एस. 97-52 के लिए 45 से.मी. की दूरी रखनी चाहिए। 
  • पौधे से पौधे की दूरी 4 सेमी से 5 सेमी. तक होनी चाहिए। 
  • इसी के साथ बीज को 2-3 से. मी. की गहराई पर बोना चाहिए।  
     

​​​​ट्रैक्टर जंक्शन हमेशा आपको अपडेट रखता है। इसके लिए ट्रैक्टरों के नये मॉडलों और उनके कृषि उपयोग के बारे में एग्रीकल्चर खबरें प्रकाशित की जाती हैं। प्रमुख ट्रैक्टर कंपनियों कुबोटा ट्रैक्टरफार्मट्रैक ट्रैक्टर आदि की मासिक सेल्स रिपोर्ट भी हम प्रकाशित करते हैं जिसमें ट्रैक्टरों की थोक व खुदरा बिक्री की विस्तृत जानकारी दी जाती है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

अगर आप नए ट्रैक्टरपुराने ट्रैक्टरकृषि उपकरण बेचने या खरीदने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार और विक्रेता आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु को ट्रैक्टर जंक्शन के साथ शेयर करें।

हमसे शीघ्र जुड़ें

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back