मछलीपालन : बिहार में किसानों को निशुल्क मिलेगा मछलीपालन का प्रशिक्षण

मछलीपालन : बिहार में किसानों को निशुल्क मिलेगा मछलीपालन का प्रशिक्षण

Posted On - 07 Oct 2021

मछलीपालन : कहां और कैसे करना है आवेदन और क्या है आवेदन की अंतिम तिथि 

बिहार में राज्य सरकार की ओर से किसानों को मछली पालन की नई तकनीक का प्रशिक्षण दिया जाएगा। सरकार का मनना है कि इससे राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार सृजन एवं किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा राज्य सरकार परंपरागत खेती, पशुपालन और बागवानी को भी बढ़ावा दे रही है। इस तरह बिहार सरकार किसानों की आय बढ़ाने और किसानों का लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रही है। इसके लिए बिहार सरकार की ओर से किसानों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इच्छुक किसान इस प्रशिक्षण के लिए नियत तिथि आवेदन कर सकते हैं।

Buy Used Tractor

राज्य के किसानों को निशुल्क दिया जाएगा प्रशिक्षण

मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार बिहार राज्य में मछली पालन को बढ़ावा देने एवं राज्य में उत्पादकता बढ़ाने के लिए बिहार सरकार ने राज्य के इच्छुक व्यक्तियों से प्रशिक्षण हेतु आवेदन आमंत्रित किए हैं। सरकार की ओर से मछली पालकों को मत्स्य पालन की नई तकनीक के प्रशिक्षण के लिए राज्य में एवं राज्य के बाहर दोनों जगहों पर प्रशिक्षण दिलाने के लिए आवेदन मांगे गए हैं। यह प्रशिक्षण पूर्णत: नि:शुल्क रखा गया है। इसके लिए राज्य के किसानों को किसी प्रकार का शुल्क नहीं जमा कराना होगा। प्रशिक्षण योजना का लाभ लेकर मछली उत्पादन में गुणात्मक वृद्धि एवं आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

मत्स्य पालन किन-किन विषयों का दिया जाएगा प्रशिक्षण

राज्य में मछली पालन को बढ़ावा देने एवं उत्पादकता बढ़ाने के लिए सरकार की ओर से राज्य के मछली पालकों को बायोफ्लॉक तकनीक से मत्स्य पालन, मत्स्य बीज हैचरी का कुशल संचालन एवं प्रबंधन, अलंकारी मछलियों का पालन एवं प्रबंधन, एक्वेरियम निर्माण की तकनीक, एक्वेरियम में मछलियों का रख-रखाव एवं प्रबंधन, रिसर्कुलेटरी एक्वाकल्चर सिस्टम आदि विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा।

मछली पालन हेतु प्रशिक्षण के लिए कहां करें आवेदन

मत्स्य पालकों को मछली पालने के संबंध में राज्य के अंदर तथा राज्य से बाहर प्रशिक्षण दिए जाने की योजना है। प्रशिक्षण के लिए संस्थान का चयन कर लिया गया है। राज्य के अंतर्गत मछली पालन के लिए किसान नीचे दिए गए संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे। 

  • मत्स्य प्रशिक्षण एवं प्रसार केंद्र, मीठापुर पटना, 
  • आई.सी.ए.आर. पटना केंद्र,
  • कॉलेज ऑफ फिशरीज, ढोली मुजफ्फरपुर, 
  • कॉलेज ऑफ फिशरीज किशनगंज। 
  • राज्य के बाहर यहां पर दिया जाएगा प्रशिक्षण-
  • केंद्रीय मत्स्यिकी शिक्षा संस्थान, (काकीनाडा), 
  • केन्द्रीय मात्स्यिकी शिक्षा संस्थान साल्टेक,(कोलकाता), 
  • केन्द्रीय अंतरस्थलीय मात्सियकी अनुसंधान संस्थान बैरकपुर, (कोलकता), 
  • केंद्रीय मात्सियकी शिक्षा संस्थान, (पावरखेडा), 
  • कॉलेज ऑफ फिशरीज पंतनगर, 
  • केंद्रीय मिठाजल जीवनयापन अनुसंधान संस्थान कौशल्यागंगा, (भुवनेश्वर)।

 

प्रशिक्षणार्थियों को क्या-क्या मिलेंगी सुविधाएं

योजना के तहत राज्य तथा राज्य के बाहर नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसके तहत प्रशिक्षण हेतु बस / रेलगाड़ी का किराया, प्रशिक्षण शुल्क, आवासन, भोजन आदि का भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। राज्य के बाहर प्रशिक्षण हेतु मार्ग व्यय भी देय है। 

Buy New Tractor

प्रशिक्षण के लिए ये किसान होंगे पात्र

बिहार के मत्स्यपालक के लिए राज्य के अंदर तथा राज्य के बाहर प्रशिक्षण दिया जाना है। इसके लिए राज्य के निजी/ सरकारी जलकर / तालाब में मत्स्य पालन करने वाले मत्स्य कृषक / मछुआ, मत्स्यपालक मात्स्यिकी विकास के विभिन्न अवयव / योजनाओं के लाभुक / आवेदक / मात्स्यिकी से जुड़े व्यवसायी पात्र हैं। इसके अलावा प्रखंड स्तरीय मत्स्यजीवी सहयोग समिति के सक्रिय सदस्य योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

मछली पालन प्रशिक्षण के लिए कहां करें आवेदन

मत्स्य पालकों / मछुओं के लिए नि:शुल्क प्रशिक्षण के लिए आवेदन शुरू किए जा चुके हैं, इच्छुक व्यक्ति योजना के तहत 9 नवंबर 2021 तक कर सकते हैं। बता दें कि यह योजना बिहार के मछली पालन विभाग के द्वारा चलाई जा रही है अत: इच्छुक व्यक्ति अपने प्रखंड या जिले के मछली विभाग से संपर्क कर योजना के विषय में अधिक जानकारी ले सकते हैं। इसके अलावा मछली पालन प्रशिक्षण के लिए http://fisheries.ahdbihar.in/ पोर्टल भी जानकारी देख सकते हैं। इच्छुक व्यक्ति मत्स्य निदेशालय बिहार के टोल फ्री नंबर 1800-345-6185 पर भी कॉल कर सकते हैं।  
 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टर, कृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top