अरुंधति गोल्ड स्कीम : अब बेटी की शादी में मिलेगा दस ग्राम सोना

अरुंधति गोल्ड स्कीम : अब बेटी की शादी में मिलेगा दस ग्राम सोना

Posted On - 11 Dec 2020

जानिएं अरूधंति स्वर्ण योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी

अगर आप एक बेटी के पिता हैं तो आपको अपनी बेटी की शादी के खर्चे को लेकर ज्यादा चिंता नहीं करनी चाहिए, क्योंकि अरूधंति स्वर्ण योजना के माध्यम से बेटी की शादी पर सरकार की ओर से 10 ग्राम सोना खरीदने के लिए आर्थिक सहायता दी जाती है। असम सरकार की यह योजना लोकप्रिय होती जा रही है। असम सरकार की ‘अरुंधति स्वर्ण योजना’ के तहत एक जनवरी 2020 से जरुरतमंद परिवारों की बेटियों को शादी पर सोना खरीदने के लिए नकदी दी जा रही है। इस योजना पर सरकार हर साल करीब 800 करोड़ रुपए खर्च करेगी। वर्तमान में सरकार की ओर से सोना खरीदने के लिए 30 हजार रुपए दिए जा रहे हैं। सरकार इस राशि को कभी कम तो कभी ज्यादा भी कर सकती है।

 

सबसे पहले सरकार की सभी योजनाओ की जानकारी के लिए डाउनलोड करे, ट्रैक्टर जंक्शन मोबाइल ऍप - http://bit.ly/TJN50K1


अरूधंति गोल्ड स्कीम का उद्देश्य ( Arundhati Gold Scheme )

  • इस योजना का उद्देश्य लड़कियों को शिक्षा के प्रति जागरुक करना है। इसके अलावा इस योजना से बाल विवाह को रोकने में भी मदद मिलेगी। 
  • असम में हर साल करीब 3 लाख शादियां होती हैं लेकिन सिर्फ 50-60 हजार शादियों का ही रजिस्ट्रेशन होता है। लोगों को शादी को पंजीयन कराने के प्रति जागरुक करने में भी ये योजना मदद करेगी।
  • अरुंधति गोल्ड स्कीम के तहत शादी के लिए रजिस्ट्रेशन कराने वाली महिलाओं के अधिकारों की रक्षा होती है। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर माता-पिता को कुछ राहत पहुंचाना है।
  • सरकार की ओर से दिया गया सोना लडक़ी को आर्थिक रूप से मजबूत बनाता है।

 

 

अरूधंति स्वर्ण योजना ( Arundhati Swarna Yojana ) की पात्रता

  • इस योजना में लाभ लेने के लिए लडक़ी की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए। 
  • शादी का रजिस्ट्रेशन भी जरुरी है। शादी विशेष विवाह अधिनियम, 1954 के तहत पंजीकृत होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ पहली शादी में ही मिलेगा।
  • लडक़ी जिस लडक़े से शादी कर रही है उसकी उम्र भी कम से कम २१ साल होनी चाहिए।
  • ये स्कीम उन परिवारों को मिलेगी जिनकी दो बेटियां हैं। यानि अगर किसी की तीन या इससे ज्यादा बेटियां हैं तो उन्हें इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा।


अरूधंति स्वर्ण योजना में आवेदन/अरुंधति गोल्ड स्कीम के लिए ऐसे करें अप्लाई

  • लडक़ी को स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत शादी रजिस्टर्ड कराते ही उसी दिन योजना के लिए आवेदन करना होता है।
  • एक फिजिकल एप्लीकेशन देनी होती है जिसमें शादी का आवेदन लगा होता है। इसे मैरिज ऑफिसर को देना होता है।
  • लडक़ी ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकती है। इसके लिए revenueassam.nic.in. पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा।
  • ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद इसका प्रिंटआउट निकालना होगा। ऑनलाइन के साथ साथ इस प्रिंटआउट को भी जमा करना होता है।
  • फॉर्म सबमिट होने के बाद लडक़ी को इसकी एक रसीद भी मिलती है।
  • आपकी एप्लीकेशन मंजूर हुई या नहीं, इसका एमएमएस या ईमेल के जरिए बता दिया जाता है।
  • अगर एप्लीकेशन मंजूर हुई तो स्कीम के तहत जो भी अमाउंट बनेगा वो एप्लीकेंट के खाते में जमा कर दिया जाएगा। 
  • लडक़ी को अपना मोबाइल नंबर, बैंक डिटेल, ईमेल वगैरह काफी सावधानी से भरना चाहिए।


सरकार चाहती हैं बेटियां पढ़ें और कच्ची उम्र में शादी ना हो

असम में अरूधंति स्वर्ण योजना शुरू करने के पीछे सरकार की सोच है कि बेटियां पढ़ें और कच्ची उम्र में उनकी शादी न हो। तभी तो योजना का लाभ केवल उन्हीं बेटियों को दिया जाएगा जो दसवीं पास हैं। उल्लेखनीय है कि असम में बहुत पिछड़े इलाकों में बच्चों की शादियां जल्दी कर दी जाती हैं। जिससे उनकी पढ़ाई और स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है। अरुंधति गोल्ड स्कीम में मिलने वाले सोने को ध्यान में रखते हुए बहुत से परिवार बच्चों की शादी जल्दी करने से बच रहे हैं। ऐसे में सरकार की यह स्कीम कई तरह से लोगों की मदद कर रही है।

 

 

अगर आप अपनी कृषि भूमि, अन्य संपत्ति, पुराने ट्रैक्टरकृषि उपकरण, दुधारू मवेशी व पशुधन बेचने के इच्छुक हैं और चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा खरीददार आपसे संपर्क करें और आपको अपनी वस्तु का अधिकतम मूल्य मिले तो अपनी बिकाऊ वस्तु की पोस्ट ट्रैक्टर जंक्शन पर नि:शुल्क करें और ट्रैक्टर जंक्शन के खास ऑफर का जमकर फायदा उठाएं।

Quick Links

scroll to top
Close
Call Now Request Call Back